calcutta

  • Dec 4 2019 1:55AM
Advertisement

पांच दिन से मृत बड़े भाई के शव के साथ घर में थी बहन

पांच दिन से मृत बड़े भाई के शव के साथ घर में थी बहन
कोलकाता : उत्तर 24 परगना जिले के दमदम थानांतर्गत दुर्गानगर बादरा माठ इलाके में मंगलवार को बहुचर्चित रॉबिन्सन स्ट्रीट कांड की छाया देखी गयी. पिछले पांच दिनों से एक बहन अपने मृत भाई के शव को घर में ही रखा था. घर से दुर्गंध आने के बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी.
 
मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस के मुताबिक मृतक का नाम वैद्यनाथ चटर्जी (60) है. वह पिछले काफी समय से मानसिक रूप से बीमार थे. उनके साथ घर में उनकी बहन पूर्णिमा चटर्जी रहती हैं. पिछले एक दो दिन से उनके घर से दुर्गंध आने के बाद लोगों को संदेह हुआ. वैद्यनाथ भी बाहर नहीं दिख रहे थे. 
 
दमदम थाने की पुलिस जब घर के अंदर घुसने की कोशिश की, तो पहले महिला ने उन्हें बाधा दिया. लेकिन बाद में पुलिस किसी तरह अंदर प्रवेश कर गयी. दूसरे तल्ले पर कमरे में बिस्तर पर वैद्यनाथ का शव पड़ा था. पुलिस का कहना है कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि वैद्यनाथ लंबे समय से मानसिक बीमारी से जूझ रहे थे. उनकी बहन भी मानसिक रूप से बीमार हैं. बीमारी के चलते वैद्यनाथ की मौत हो गयी. मानसिक रूप के बीमार होने के कारण बहन ने भाई के शव को घर में ही रखा था. दुर्गंध आने पर लोगों को पता चला. 
 
गौरतलब है कि वर्ष 2015 में रॉबिन्सन स्ट्रीट में पार्थ दे नाम के मानसिक रूप से बीमार एक शख्स ने अपनी बहन देवयानी और दो कुत्तों के कंकाल को छह माह तक अपने घर में रखा था. बाद में पार्थ दे का इलाज हुआ और वह पूरी तरह स्वस्थ हो गये. हालांकि बाद में पार्थ दे की मौत हो गयी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement