Advertisement

calcutta

  • Jun 13 2019 2:28AM
Advertisement

12 घंटे की हड़ताल के बाद आउटडोर सेवा बहाल

12 घंटे की हड़ताल के बाद आउटडोर सेवा बहाल

कोलकाता : एनआरएस मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मंगलवार को चिकित्सकों के साथ हुई मारपीट की घटना के विरोध में राज्यभर के जूनियर डॉक्टर अब भी हड़ताल पर हैं. बुधवार को राज्य के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों के आउटडोर सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक बंद रहे. गुरुवार सुबह से निजी अस्पतालों की आउटडोर सेवा बहाल हो जायेगी, हालांकि सरकारी मेडिकल कॉलेजों में यह सेवा प्रभावित रह सकती है.

 
बुधवार को डॉक्टरों की हड़ताल के चलते लगभग सभी सरकारी अस्पतालों में आउटडोर के साथ आपातकालीन सेवा भी बंद रही. मरीज दिनभर परेशान रहे. इलाज के लिए मरीजों व उनके परिजनों को एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल तक भटकते देखा गया. इससे खफा मरीजों के परिजनों ने एसएसकेएम और एनआरएस मेडिकल कॉलेज में विरोध प्रदर्शन किया.
 
उधर, सरकारी अस्पतालों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सॉल्टलेक स्थित स्वास्थ्य भवन में स्वास्थ्य राज्यमंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य की मौजूदगी में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई. स्वास्थ्य विभाग ने हड़ताली जूनियर डॉक्टरों से काम पर वापस लौटने की अपील की है. उधर, हड़ताली जूनियर डॉक्टरों की मांग है कि जब तक खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एनआरएस पहुंच कर उनसे बात नहीं करतीं तब हड़ताल जारी रहेगी.
 
बेलियाघाटा आइडी हॉस्पिटल में बहाल रही आउटडोर सेवा : कोलकाता नगर निगम के मेयर परिषद सदस्य (पर्यावरण, बस्ती) स्वपन समद्दार ने बताया कि बेलियाघाटा आइडी हॉस्पिटल में कामकाज सामान्य रहा.  
 
आउटडोर में बुधवार को 250 मरीज पहुंचे थे. श्री समद्दार अस्पताल समिति के अध्यक्ष भी हैं. उन्होंने बताया कि राज्यभर के चिकित्सक हड़ताल पर हैं. मंगलवार से ही मरीज परेशान हैं. इसलिए उन्होंने अस्पताल प्रबंधन से आउटडोर और आपातकालीन विभाग को खुला रखने का अनुरोध किया था. उनके अनुरोध पर चिकित्सकों ने सेवा बहाल रखी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement