Advertisement

bhagalpur

  • Apr 19 2019 7:44AM
Advertisement

किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, बांका और भागलपुर में वोटरों ने दिखाया उत्साह, 62.52 प्रतिशत पड़े वोट

किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, बांका और भागलपुर में वोटरों ने दिखाया उत्साह, 62.52 प्रतिशत पड़े वोट

पहले चरण से 9.46% ज्यादा हुआ मतदान

दूसरे चरण में बिहार की पांच सीटों पर गुरुवार को हुए मतदान में वोटरों ने पहले चरण से ज्यादा उत्साह दिखाया. इस चरण में औसतन  62.52% वोट पड़े, जो पहले चरण के 53.06% मतदान से 9.46% अधिक है. इसके साथ ही बिहार की 40 में से नौ सीटों पर मतदान की प्रक्रिया पूरी हो गयी. गुरुवार को देश के 11 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की 95 सीटों पर मतदान के साथ ही दो चरणों में कुल 186 संसदीय क्षेत्रों में मतदान पूरा हो गया है. अब अगले पांच चरणों में 357 लोकसभा सीटों पर मतदान होना है.

पटना : लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में गुरुवार को राज्य के पांच लोकसभा क्षेत्रों में कुल 62.52 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, जो 2014 के लोकसभा चुनाव (61.93%) से 0.59 फीसदी अधिक है. 

इसके साथ ही किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका में कुल 68 प्रत्याशियों की किस्मत इवीएम में कैद हो गयी है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास ने मतदान समाप्ति के बाद बताया कि सबसे अधिक कटिहार लोकसभा क्षेत्र में 68.20 प्रतिशत वोट पड़े, जबकि सबसे कम 58 प्रतिशत मतदान बांका लोकसभा क्षेत्र में हुआ. 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि मतदान के दौरान छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बांका लोकसभा क्षेत्र में 200-250 लोग शंभुगंज के रामचुआ गांव के बूथ संख्या 59 पर बोगस मतदान का प्रयास कर रहे थे. अफरा-तफरी के माहौल में पुलिस को चार राउंड गोलियां चलानी पड़ीं. हालांकि, किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.

उन्होंने बताया कि दूसरे चरण के मतदान में 70 कंट्रोल यूनिट, 149 बैलेट यूनिट और 119 वीवीपैट को मॉकपोल के दौरान बदल दिया गया. मतदान के दौरान 48 कंट्रोल यूनिट, 58 बैलेट यूनिट और 160 वीवीपैट को बदला गया. उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में कुल 123 शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें किशनगंज से 14, कटिहार से आठ, पूर्णिया से 49, भागलपुर से 28 और बांका से 24 शिकायतें मिलीं. 

इस मौके पर उपस्थित एडीजी हेडक्वार्टर कुंदन कृष्णन ने बताया कि बांका लोकसभा क्षेत्र में शंभुगंज थाने के रामचुआ गांव में दोपहर 1:30 बजे असामाजिक तत्व भीड़ लगाकर 

बूथ में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे थे. उन्हें रोकने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच की जा रही है. इस पूरी घटना की वीडियोग्राफी करायी गयी है. इसमें दोषियों को चिह्नित करने की भी कार्रवाई की जा रही है. 

उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में तीन बूथों पर मतदान का बहिष्कार किया गया है. इसमें भागलपुर के नवगछिया में दो और बांका के अमरपुर में एक बूथ पर मतदाताओं ने मतदान का बहिष्कार किया. उन्होंने बताया कि जमुई लोकसभा क्षेत्र के एक मतदान  केंद्र  का बैलेट यूनिट को तोड़ने के कारण बूथ संख्या 232 उत्तरी दाभिल पर  20 अप्रैल को पुनर्मतदान कराने का अनुरोध चुनाव आयोग से किया गया है. 

68 उम्मीदवारों की किस्मत इवीएम में बंद

दूसरे चरण की पांच सीटों पर मतदान के साथ ही 68 उम्मीदवाराें की किस्मत इवीएम में बंद हो गयी. इनमें  जदयू के अजय मंडल, गिरिधारी यादव, दुलालचंद गोस्वामी, संतोष कुमार व महमूद अशरफ, राजद के बुलो मंडल व जयप्रकाश नारायण यादव,  निर्दलीय पुतुल कुमारी और कांग्रेस के तारिक अनवर व उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह  प्रमुख हैं. 

160 बूथों से हुई लाइव वेबकास्टिंग

160 बूथों से लाइव वेबकास्टिंग करायी गयी, जहां राज्य निर्वाचन कार्यालय और चुनाव आयोग द्वारा सीधी नजर रखी जा रही थी. अर्धसैनिक बलों, जिला पुलिस बल, होमगार्ड जवानों के अलावा 37 हजार मतदानकर्मी लगाये गये थे.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement