Advertisement

bbc news

  • Mar 23 2019 10:37PM

लोकसभा चुनाव 2019: ममता के राज में दुखी है पश्चिम बंगाल - राहुल गांधी

लोकसभा चुनाव 2019: ममता के राज में दुखी है पश्चिम बंगाल - राहुल गांधी
राहुल गांधी
Reuters

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल के माल्दा में अपनी जनसभा में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री सिर्फ वादे करती हैं, विकास के कामों को अंजाम नहीं देती हैं.

राहुल गांधी ने कहा, "पश्चिम बंगाल में सिर्फ एक व्यक्ति पूरे बंगाल को चलाता है. न किसी से बात करती हैं. न किसी से पूछती हैं. जो मन में आता है वो कर देती हैं. क्या पश्चिम बंगाल की कोई आवाज़ नहीं है. क्या बंगाल की जनता की आवाज़ नहीं होनी चाहिए. क्या सिर्फ एक व्यक्ति को पूरा प्रदेश चलाना चाहिए. कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं को दबाया जाता है, मारा जाता है, पीटा जाता है, दिन भर कांग्रेस पार्टी को यहां मारा जाता है. मैं अपने प्यारे कार्यकर्ताओं को दिल से धन्यवाद कहना चाहता हूं जो हर स्थिति में कांग्रेस पार्टी के लिए खड़ा होता है.

"मैं पश्चिम बंगाल की जनता से कहना चाहता हूं कि आपने बहुत कुछ सह लिया. पहले आप लेफ़्ट फ्रंट से मारपीट खाते थे और अब आप ममता जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के राज में दुखी हैं. ममता जी दिन भर भाषण देती रहती हैं जबकि हर तरफ़ बेरोजगारी ही बेरोजगारी है. आप बताएं, कि ममता जी ने आपके लिए क्या किया?

और कितना चुप रहेगा आम आदमी- राहुल गांधी

बिहार के पूर्णिया में जनभावना रैली में शिरकत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि वक्त आ गया है कि आज की स्थिति देख कर आम आदमी नाराज़ हो.

उन्होंने रैली में मौजूद महिलाओं से कहा, "आपका बचा कर रखा गया पैसा नरेंद्र मोदी ने आपसे छीन लिया, आपके घर से भीतर घुस कर छीना."

उन्होंने कहा, "नोटबंदी के दौरान जिस लाइन में आप लोग खड़े थे तब वहां कोई धनी आदमी क्यों नहीं खड़ा था, अंबानी जैसे व्यापारी उस लाइन में क्यों नहीं दिखे."

"चंद धनी लोग आम आदमी के पैसे पर जीते हैं और उनके चौकीदार दिनभर उनके काम करते हैं. यही देश की सच्चाई है. मुझे नहीं समझ आता कि आपके दिल में गुस्सा क्यों नहीं पैदा होता. अपने लिए नहीं तो अपने बच्चों के लिए सही लेकिन गुस्सा करो."

राहुल गांधी ने किसानों के लिए फसल की सही कीमत का मुद्दा भी उठाया और कहा कि झूठे वायदों वाली सरकार को परे कर महागठबंधन को चुनिए.

संबित पात्रा पुरी से बीजेपी के उम्मीदवार

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ओडिशा की पुरी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे.

पात्रा के लोकसभा चुनाव में उतरने की जानकारी भारतीय जनता पार्टी की ओर से शुक्रवार को जारी लिस्ट में दी गई.

पार्टी ने शुक्रवार शाम लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की. इसमें 36 उम्मीदवारों के नाम हैं. लिस्ट में 23 उम्मीदवार आंध्र प्रदेश से हैं जहां पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होना है.

इस लिस्ट में छह उम्मीदवार महाराष्ट्र, पांच ओडिशा और एक-एक असम और मेघालय से हैं. भारतीय जनता पार्टी ने गुरुवार को उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की थी. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के नाम थे. पार्टी ने अमित शाह को गुजरात की गांधीनगर सीट से उम्मीदवार बनाया है. अर्से से इस सीट का प्रतिनिधित्व बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी करते रहे हैं.

कांग्रेस के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर फतेहपुर सीकरी लोकसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार होंगे. राज बब्बर को पार्टी ने पहले उत्तर प्रदेश की मुरादाबाद सीट से उम्मीदवार बनाया था.

कांग्रेस ने नसीमुद्दीन सिद्दिकी की बिजनौर लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है. सिद्दिकी पहले बहुजन समाज पार्टी में थे और पार्टी प्रमुख मायावती के करीबी माने जाते थे.

बसपा
Getty Images

22 मार्च 2019

बसपा ने लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है.

पार्टी ने पश्चिमी यूपी की 11 सीटों से अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है, इसमें सहारनपुर सीट भी शामिल है जो पिछले दिनों दलित आंदोलन की वजह से सुर्खियों में रहा था.

पश्चिमी यूपी की ये सबसे महत्वपूर्ण सीटें हैं, जहां महागठबंधन की ओर से बसपा के प्रत्याशी मैदान में होंगे.

सहारनपुर से हाजी फजर्लुरहमान, बिजनौर से मलूक नागर, मेरठ से हाजी मोहम्मद याकूब, गौतमबुद्ध नगर से सतबीर नागर, बुलंदशहर से योगेश वर्मा, अलीगढ़ से अजीत बालियान, आगरा से मनोज कुमार सोनी को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है.

इस बीच समाजवादी पार्टी ने गाज़ियाबाद के लिए घोषित प्रत्याशी सुरेंद्र कुमार मुन्नी को बदलकर पूर्व विधायक सुरेश बंसल को टिकट देने की घोषणा की है.

21 मार्च, 2019

मायावती
PTI

बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा है कि वो लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगी.

मायावती ने कहा कि हालात को देखते हुए वे अभी उत्तर प्रदेश में गठबंधन को मज़बूत बनाने के लिए काम करेंगीं.

उन्होंने साथ ही कहा कि वो जब चाहें उत्तर प्रदेश की किसी भी सीट से लोकसभा में पहुँच सकती हैं.

मायावती ने कहा, "मैं उत्तर प्रदेश से चार बार लोकसभा चुनाव जीत चुकी हूँ, दो बार विधायक रह चुकी हूँ, चार बार मुख्यमंत्री रह चुकी हूँ, ऐसे में मुझे प्रदेश की किसी भी सीट से बस नामांकन के लिए जाना होगा, बाकी का काम मेरे समर्थक कर देंगे."

इस दौरान मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गठबंधन की स्थिति अच्छी है.

20 मार्च, 2019

डॉक्टर अनिल कुमार जैन
FB@Dr.Anil Jain

'छत्तीसगढ़ में किसी भी सांसद को टिकट नहीं देगी बीजेपी'

लोकसभा चुनाव के लिए टिकटों के बंटवारे के जद्दोजहद में लगी बीजेपी ने छत्तीसगढ़ में मौजूदा सभी 10 सांसदों की जगह नए चेहरों को मौका देने का फ़ैसला किया है.

बीजेपी ने यह फ़ैसला हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में हार के मद्देनज़र लिया है. राज्य में लोकसभा की कुल 11 सीटें हैं.

यदि सभी सांसदों का टिकट काटा जाता है तो पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह पर भी गाज गिरेगी, जो राजनांदगांव सीट से वर्तमान सांसद हैं.

बीजेपी
Twitter

फिलहाल बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की कोई भी सूची जारी नहीं की है और बुधवार को पहली सूची आने की संभावना जताई जा रही है.

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और छत्तीसगढ़ प्रभारी अनिल जैन ने इसकी जानकारी दी.

उन्होंने कहा, "छत्तीसगढ़ यूनिट ने केंद्रीय चुनाव समिति से गुजारिश की है कि हम अपनी स्वेच्छा से और सर्वसम्मति से छत्तीसगढ़ के सब 11 के 11 प्रत्याशी नए लाकर, नए कलेवर में, नए उत्साह से, नए जोश के साथ चुनाव लड़ेंगे. जिससे जो अभी तक वहां का राजनीतिक वातावरण हुआ या पीछे जो जनादेश आया उस जनादेश को मानते हुए नए जोश में फिर 11 सीटें जीतेंगे."

19 मार्च, 2019

रविशंकर प्रसाद
Getty Images

मोदी 31 को करेंगे 'चौकीदारों' को संबोधित

बीजेपी के 'मैं भी चौकीदार' अभियान पर विपक्ष की ओर से बढ़ते हमले के बीच बीजेपी ने इसे और आगे बढ़ाने की घोषणा की है.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी 31 मार्च को 500 जगहों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के ज़रिए अभियान का समर्थन देने वालों से संवाद करेंगे.

उन्होंने दावा किया कि 'मैं भी चौकीदार अभियान' एक जनआंदोलन बन गया है क्योंकि शुरू होते ही लाखों लोग इससे जुड़ गए.

https://twitter.com/Mayawati/status/1107872760477478912

इस बीच बसपा मुखिया मायावती ने ट्वीट करते हुए तंज कसा है, "नरेंद्र मोदी अब चौकीदार बन गए हैं, चायवाला नहीं रहे. बीजेपी के शासन में क्या प्रगति हुई है, वाह!"

सपा नेता अखिलेश यादव ने एक के बाद एक ट्वीट कर कहा है, "दिन भर खेतों में मेहनत और चौकीदारी करके किसान अन्नदाता पेट नहीं भर पा रहा है."

19 मार्च, 2019

यूपी में किसानों का औसतन 60 हज़ार रु. कर्ज़ माफ़ः योगी

योगी आदित्यनाथ
Getty Images

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि कर्ज माफ़ी के लाभान्वित किसानों को औसतन 60,000 रुपये का लाभ हुआ.

उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार के दो साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यकाल का ब्योरा दिया.

उन्होंने दावा किया कि दो साल में डेढ़ लाख करोड़ रुपए का निवेश हुआ, जिससे 15 लाख रोज़गार पैदा हुए.

उन्होंने कहा कि सरकार ने नए काम शुरू करने वाले लोगों को 17 हज़ार करोड़ का मुद्रा लोन दिया.

योगी ने कहा कि उनके आने से पहले प्रदेश में सपा और बसपा के राज में भ्रष्टाचार और अराजकता का माहौल था.

उन्होंने दावा किया कि सरकारी फिजूल खर्ची पर रोक लगाकर विभिन्न योजनाओं को सफलता पूर्वक लागू किया गया.

https://twitter.com/myogiadityanath/status/1107864882395766784

इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सीएम योगी के 'मैं भी चौकीदारट मुहिम में शामिल होने पर ट्वीट कर तंज कसा है।

उन्होंने ट्वीट किया, "'विकास' पूछ रहा है...खाद की बोरी से चोरी रोकने के लिए भी कोई चौकीदार है क्या?"

18 मार्च, 2019

जहां इंदिरा ने पूजा की थी, वहां पहुंचीं प्रियंका

प्रियंका गांधी
Twitter/UP Congress

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा गंगा यात्रा पर निकल चुकी हैं. तीन दिनों तक चलने वाली इस यात्रा की शुरुआत उन्होंने अपने पैतृक शहर प्रयागराज यानी इलाहाबाद से की.

यात्रा से पहले वो हनुमान मंदिर गईं, जहां कभी इंदिरा गांधी ने पूजा-अर्चना की थी. कांग्रेस उत्तर प्रदेश ने प्रियंका और उनकी दादी इंदिरा गांधी की मंदिर वाली तस्वीर ट्विटर पर साझा की है.

https://twitter.com/INCUttarPradesh/status/1107524652371341312

यात्रा के दौरान वो नाव पर बैठ कर युवाओं से शिक्षा और बेरोजगारी के मुद्दे पर बात की.

उनकी यात्रा से पहले कांग्रेस नेता राज बब्बर ने ट्वीट कर कहा कि वो तीन दिनों के यात्रा के दौरान विभिन्न समुदाय और लोगों से बात करेंगे.

"यह एक तरफा मन की बात नहीं, जनमानस से असली संवाद होगा."

यह यात्रा काशी में समाप्त होगी.

ये भी पढ़ें:

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>
Advertisement

Comments

Advertisement