1. home Home
  2. national
  3. weather forecast devastation in andhra karnataka due to floods haze and fog in bihar jharkhand rts

Weather Forecast:भारी बारिश और बाढ़ से आंध्र-कर्नाटक में तबाही,बिहार- झारखंड में धुंध और कोहरा

देश भर में मौसम में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. जहां एक ओर दक्षिण के राज्य कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश और बाढ़ से तबाही मची हुई है. वहीं झारखंड बिहार में कोहरा और धुंध का छाया हुआ है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बाढ़ की तबाही का नजारा
बाढ़ की तबाही का नजारा
twitter

देश भर में मौसम में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. जहां पश्चिमी विक्षोभ और निम्न दबाव के क्षेत्र के कारण दक्षिण भारत के कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश और बाढ़ ने तबाही मचाई है. आंध्र प्रदेश में 33 लोगों की जान जा चुकी है तो वही 12 लोगों के लापता होने की भी खबर है. इधर कर्नाटक में अब तक भारी बारिश से हुई घटनाओं में 24 लोगों की मरने की खबर हैं. मौसम विभाग की मानें तो खतरा अभी टला नहीं है. 25 नवंबर तक इन दोनों राज्यों में भारी बारिश हो सकती है.

वहीं, कर्नाटक के धारवाड़ में बारिश से मिर्च, कपास और चना जैसे फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है. इसे देखते हुए कर्नाटक के सरकार ने किसानों के लिए 50 हजार से 5 लाख रुपए के बीच मुआवजा देने का एलान किया है. 30 नवंबर तक किसानों के खातों में पैसा जमा करने की बात कही गई है.

इधर दिल्ली में प्रदूषण का प्रकोप जारी है. हालांकि हवाओं में हुए बदलाव के कारण सुधार देखने को मिल रहा है. इसे देखते हुए निर्माण कार्य की अनुमति दे दी गई है. लेकिन अभी भी कर्मचारियों को 26 नवंबर तक वर्क फ्रॉम होम और गैर जरूरी सामान वाले ट्रकों की एंट्री बैन रखी गई है. आगे का फैसला 24 नवंबर की बैठक के बाद लिया जाएगा. SAFAR-India के अनुसार, वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 315 है जो फिलहाल 'बहुत खराब' स्थिति में है.

झारखंड के मौसम का हाल

झारखंड की राजधानी रांची में पिछले कुछ दिनों से सुबह में हल्के बादल, कोहरा और धुंध देखने को मिल रहा है. शहर के बाहर कोहरा ज्यादा है. सोमवार को सुबह 6 बजे रांची का तापमान 17 डिग्री रिकोर्ड किया गया. वहीं, उत्तर पश्चिम की दिशा से हल्की हवा चल रही है. मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दिनों में भी आंशिक बादल छाए रहेंगे. सुबह और शाम लोगों को ठंड लगेगी जबकि दिन में धूप निकलने से राहत मिलेगी.

मौसम विभाग के अनुसार राज्य में किसी तरह का संक्षिप्त बदलाव होता हुआ नहीं दिख रहा है. अलगे तीन से चार दिनों तक राज्य के मौसम में सामान्य रुप से शुष्कता रहेगी. अगले एक सप्ताह तक लोगों को कोहरा और धुंध का सामना करना पड़ेगा. न्यूनतम तापमान में गिरावट हो सकती है.

बिहार में प्रदूषण का प्रकोप

बिहार की राजधानी पटना में बढ़ते ठंड के साथ हवा में बढ़ रही सूक्ष्म धूल कणों की मात्रा मुसीबत बन गयी है. शहर में पीएम 10 की अधिकतम मात्रा 410 प्वाइंट और पीएम 2.5 की 383 प्वाइंट तक दर्ज की जा रही है. इससे शहर की हवा खराब से बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गयी है.

पटना में में एक बार फिर पछूवा हवा तेज हो गयी है. अगले 24 घंटे में न्यूनतम तापमान 12-16 डिग्री सेल्सियस के बीच आ जायेगा. अनुमान है कि अगले हफ्ते से प्रदेश में कड़ाके की ठंड शुरू हो जायेगी. आइएमडी की आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक अगले हफ्ते न्यूनतम पारा 12 से 14 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है. आइएमडी के क्षेत्रीय अधिकारी विवेक सिन्हा ने बताया कि अगर इस बीच हिमालय के निकटवर्ती क्षेत्र में बर्फबारी हुई, तो पारा इससे पहले भी गिर सकता है. अभी पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय नहीं है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें