1. home Hindi News
  2. national
  3. unlock 50 guidelines live updates mha likely to give permission to open cinema hall school and tourism due to festive season dussehra diwali lockdown unlock 50 guidelines rules in hindi school kab khulenge upl

Unlock 5.0 Guidelines: आने वाला है दशहरा- दिवाली का त्योहार, अब क्या-क्या खुलने के हैं आसार, गृह मंत्रालय कभी भी जारी कर सकता है दिशानिर्देश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा आज किसी भी वक्त इसके लिए दिशा निर्देश जारी किए जा सकते हैं.
केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा आज किसी भी वक्त इसके लिए दिशा निर्देश जारी किए जा सकते हैं.
प्रभात खबर

Unlock 5.0 Guidelines, Lockdown Unlock 5.0 Guidelines Rules, MHA Latest News in Hindi: देश में कोरोना महामारी को देखते हुए 24 मार्च को जो लॉकडाउन शुरू हुआ था उसे अब धीरे-धीरे कई चरणों में खोला जा रहा है. अब तक केंद्र सरकार दिशानिर्देशों के साथ ऐसे चार चरणों में लॉकडाउन खोल चुकी है. 30 सितंबर यानी आज अनलॉक के चौथे चरण के खत्म होते ही देश इसके पांचवे चरण में प्रवेश कर जाएगा. केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा आज किसी भी वक्त इसके लिए दिशा निर्देश जारी किए जा सकते हैं.

अब तक मॉल, सैलून, रेस्तरां, जिम जैसी सार्वजनिक जगहों को पिछले चरणों में खोला जा चुका है. अभी तक सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क नहीं खुले हैं. सार्वजनिक समारोह को लेकर भी इजाज़त नहीं दी गई है. कॉलेज नहीं खोले गए हैं और स्कूलों के भी आंशिक रूप से खोले जाने की ही अनुमति दी गई है तो ऐसे में लोगों के मन में ये सवाल उठ रहे हैं कि पांचवे चरण में क्या-क्या खोला जा सकता है?

लॉकडाउन में कैसा होगा त्योहारों का सीजन

आगामी दिनों में देशभर में कई खास त्योहार आते हैं जो काफी धूमधाम से मनाए जाते हैं. दिल्ली में दशहरा के मौक़े पर भव्य रामलीला का आयोजन होता है. वहीं, दिल्ली सरकार का भी अब तक यही स्टैंड है कि सार्वजनिक समारोह में 50 से ज़्यादा लोग शामिल नहीं हो सकते. तो शायद इस बार रामलीला का आयोजन अपने असल रंग में ना हो पाए. वैसे उत्तर प्रदेश के अयोध्या में पहली बार रामलीला का भव्य आयोजन किया जाएगा जो 17 से 25 अक्तूबर तक चलेगा.

वहीं, पश्चिम बंगाल सरकार ने दुर्गा पूजा के त्योहार के लिए पंडाल लगाने की इजाजत दे दी है. लेकिन कुछ दिशानिर्देश भी जारी किए हैं जैसे पंडाल चारों तरफ़ से खुले होने चाहिए. मास्क लगाना अनिवार्य होगा और पंडाल में कई जगह सेनिटाइज़र रखे होने चाहिए. 100 लोगों की सीमा का पालन कैसे सुनिश्चित किया जा सकेगा, ये देखने वाली बात होगी.वहीं नवरात्र का त्योहार गुजरात में ख़ूब धूमधाम से मनाया जाता है.

लेकिन गुजरात सरकार ने नवरात्रि महोत्सव को नहीं मनाने का फ़ैसला किया है. हो सकता है कि त्योहारों के सीज़न को देखते हुए केंद्र सरकार सार्वजनिक आयोजनों में थोड़ी ढील दे. लेकिन साथ ही आख़िरी फ़ैसला राज्य सरकारों के हाथ छोड़ सकती है.

क्या खुलेंगे सिनेमा हॉल?

मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने पहले भी कई बार सरकार से सिनेमा हॉल खोलने की अपील की है. अनलॉक 4 में भी सिनेमा हॉल के दरवाज़े नहीं खोले गए तो एसोसिएशन ने अख़बारों में विज्ञापन दिए कि कैसे सिनेमा हॉल सुरक्षित हैं. उन्होंने बताया कि 85 देश सिनेमा हॉल खोल चुके हैं. महाराष्ट्र के एसोसिएशन के अध्यक्ष नितिन दत्तार ने एक बार फिर उम्मीद जताई है कि इस चरण में सिनेमा हॉल लोगों के लिए खोल दिए जाएंगे.

केंद्र सरकार ने तो नहीं लेकिन पश्चिम बंगाल की सरकार ने एक अक्तूबर से सिनेमा हॉल खोलने की अनुमति दे दी है लेकिन 50 लोगों से अधिक लोगों का इकट्ठा होना मना है. अभी किसी और राज्य ने यह फैसला नहीं किया है. हालांकि मनोरंजन राज्य सूची का विषय है और सिनेमा हॉल उसी के तहत आते हैं. हालांकि केंद्र सरकार 21 सितंबर से ओपन थियेटर खोलने की इजाजत दे चुकी है लेकिन उसी दिशा निर्देश में ये भी कहा गया है कि 100 से ज़्यादा लोग कहीं भी किसी भी उद्देश्य से इकट्ठा नहीं हो सकते हैं.

क्या स्कूल पूरी तरह खोले जाएंगे?

अनलॉक 4 के तहत 21 सितंबर से केंद्र सरकार ने 9वीं से 12वीं कक्षा तक के लिए स्कूल खोलने की इजाजत दे दी थी. लेकिन अंतिम फैसला राज्य सरकारों के हाथ छोड़ा. इसी वजह से हरियाणा, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में स्कूल खुले लेकिन दिल्ली, पश्चिम बंगाल ने स्कूल खोलने से मना कर दिया. हालांकि स्कूल खोलने को लेकर अभिभावक क्या सोचते हैं, इस पर ऑल इंडिया पैरेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल कहते हैं कि अभिभावक बिल्कुल नहीं चाहते अपने बच्चों को महामारी के बीच स्कूल भेजना.

तनाव में बच्चे कैसे पढ़ पाएंगे. बार-बार कितना ध्यान रखा जा सकेगा. स्कूलों के लिए मुमकिन नहीं है कि वे महामारी को देखते हुए सभी प्रक्रिया का पालन कर सकें. लेकिन जैसे धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था खोली जा रही है, त्योहार मनाने के लिए भी व्यवस्था की जा रही है तो स्कूल क्यों ना धीरे-धीरे खोले जाएं.

पर्यटन होगा सामान्य

कोरोना लॉकडाउन के कारण सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र पर्यटन का ही रहा है. हाल ही में ताजमहल सहित पर्यटन स्थलों को फिर से खोलने के बाद यहां कुछ कमाई देखी गई. अनलॉक-5 के दौरान इसके बढ़ने की संभावना है. गृह मंत्रालय और भी पर्यटन केंद्रों और पर्यटन स्थलों को यात्रियों के लिए खोलने की अनुमति दे सकता है। हाल ही में, उत्तराखंड सरकार ने पर्यटकों को बिना किसी क्वारंटीन के राज्य में प्रवेश करने की अनुमति दी.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें