1. home Hindi News
  2. national
  3. corona virus breakdown for the first time in history no passenger train will run till 31 march

CoronaVirus Breakdown : इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा, 31 मार्च तक नहीं चलेगी कोई भी यात्री ट्रेन

By AmleshNandan Sinha
Updated Date
कोरोना वायरस के बढते खतरे को देखते हुए रविवार को रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला
कोरोना वायरस के बढते खतरे को देखते हुए रविवार को रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला
File Photo

नयी दिल्ली : रेलवे ने अप्रत्याशित कदम उठाते हुए अपनी सभी यात्री सेवाएं 22 मार्च की आधी रात से 31 मार्च की आधी रात तक बंद रखने की रविवार को घोषणा की. रेलवे ने कहा कि इस अवधि में केवल मालगाड़ियां चलेंगी. रेलवे ने अपनी कई ट्रेनों को रद्द करके शुक्रवार को ही अपनी सेवाओं में कटौती कर दी थी, लेकिन उसने उन ट्रेनों को यात्रा जारी रखने की अनुमति दे दी थी जो पहले ही अपनी यात्रा शुरू कर चुकी थीं.

रेलवे के नये आदेश के अनुसार 22 मार्च की आधी रात से 31 मार्च की आधी रात तक केवल मालगाड़ियां चलेंगी. भारतीय रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘बेहद न्यूनतम उपनगरीय सेवाएं और कोलकाता मेट्रो रेल सेवा 22 मार्च की आधी रात तक जारी रहेगी. इसके बाद ये सेवाएं भी 31 मार्च की आधी रात तक बंद रहेंगी.'

संक्रमण को रोकने के लिए 75 जिलों में लॉकडाउन

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकारों से उन 75 जिलों में केवल आवश्यक सेवाओं का ही परिचालन किये जाने का आदेश जारी करने को कहा है जहां कोविड-19 के पुष्ट मामले सामने आये या जहां इससे लोगों की मृत्यु हुई है. इसका मतलब इन 75 जिलों में लॉकडाउन हो चुका है. अंतर राज्यीय बस सेवाएं भी 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया गया है. 31 मार्च तक दिल्ली मेट्रो समेत सभी मेट्रो सेवाओं को भी स्थगित करने का फैसला किया गया है.

जिन जिलों में लॉकहाउन की घोषणा की गयी है, वे उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल जैसे राज्यों में हैं. यह उल्लेख किया गया कि कई राज्य सरकारों ने पहले ही इस संबंध में आदेश जारी कर दिये हैं. सभी मुख्य सचिवों ने बताया कि प्रधानमंत्री के जनता कर्फ्यू के आह्वान पर जबर्दस्त एवं स्वत: स्फूर्त प्रतिक्रिया मिल रही है.

किन राज्‍यों में कोरोना वायरस के कितने मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के सबसे अधिक 63 मामले हैं जिनमें तीन विदेशी भी शामिल हैं. इसके बाद केरल में 52 मामले हैं जिनमें सात विदेशी नागरिक शामिल हैं. दिल्ली में 27 लोग संक्रमित पाये गये जिनमें एक विदेशी शामिल है, जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 25 मामले सामने आये.

तेलंगाना में 11 विदेशियों समेत संक्रमण के कुल 21 मामले सामने आये हैं, जबकि राजस्थान में दो विदेशियों समेत 24 मामले मिले हैं. हरियाणा में 17 मामले दर्ज किये गये, जिनमें से 14 विदेशी हैं. कर्नाटक में 20 लोग विषाणु से संक्रमित पाये गये. पंजाब और लद्दाख में 13-13 लोग संक्रमित हैं. गुजरात में 14 मामले सामने आये, जबकि तमिलनाडु में छह मामले दर्ज किये गये, जिनमें दो विदेशी शामिल हैं.

चंडीगढ़ में पांच लोग कोरोना वायरस की चपेट में आये. मध्य प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और पश्चिम बंगाल में चार-चार लोग संक्रमित हैं. आंध्र प्रदेश और उत्तराखंड में तीन-तीन मामले सामने आये जबकि ओडिशा तथा हिमाचल प्रदेश में दो-दो मामले सामने आये. पुडुचेरी और छत्तीसगढ़ में एक-एक मामला सामने आया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें