1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up election 2022 kalpana mishra attacked sp and bjp in bsp women conference abk

UP Election 2022: वाराणसी में BSP के महिला सम्मेलन में बोलीं कल्पना मिश्रा- प्रदेश में कोई भी सुरक्षित नहीं

कल्पना मिश्रा ने कहा कि व्यापारियों समेत हर वर्ग के मान-सम्मान, सुरक्षा के लिए सरकार के पास कोई उपाय नहीं है. यह अत्यधिक ही चिंता का विषय है. अभी भय-भूख, भ्रष्टाचार की पोषक पार्टियां राज कर रही हैं. प्रदेश में एक जाति की सरकार है. यहां तानाशाही है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
वाराणसी में BSP के महिला सम्मेलन में कल्पना मिश्रा
वाराणसी में BSP के महिला सम्मेलन में कल्पना मिश्रा
प्रभात खबर

UP Election 2022: काशी के मैदागिन स्थित पराड़कर स्मृति भवन में बसपा ने शुक्रवार को महिला सम्मेलन का आयोजन किया. कार्यक्रम में कल्पना मिश्रा मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थी. उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार और इससे पिछली सरकार में महिलाओं के मान-सम्मान और सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं है.

इस पर चिंता जताते हुए कहा कि व्यापारियों समेत हर वर्ग के मान-सम्मान, सुरक्षा के लिए सरकार के पास कोई उपाय नहीं है. यह अत्यधिक ही चिंता का विषय है. अभी भय-भूख, भ्रष्टाचार की पोषक पार्टियां राज कर रही हैं. प्रदेश में एक जाति की सरकार है. यहां तानाशाही है.

बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा की पत्नी और प्रबुद्ध वर्ग महिला बहुजन समाज पार्टी की प्रदेश प्रभारी कल्पना मिश्रा समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी पर खूब तंज कसे. उन्होंने साफ तौर से कहा कि प्रदेश में कानून का राज नहीं, एक जाति का राज चल रहा है.

कल्पना मिश्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सरकार अपराधियों के मामले में भी सेलेक्टिव नीति अपना रही है. उन्होंने बिना नाम लिए सेंट्रल जेल में बंद माफिया बृजेश सिंह की ओर इशारा करते हुए कहा कि कुछ अपराधी जेल में बंद है. लेकिन, जेल में बड़ी-बड़ी दावतें और सारे सुख सुविधाएं माफियाओं को उपलब्ध कराई जा रही है. दूसरी तरफ सरकार ने दो दिन पूर्व विवाह करके आई पत्नी को अपराधी बनाकर जेल में डाल  दिया है, जो कहीं से लोकतांत्रिक व्यवस्था में न्यायपूर्ण नहीं लगता है.

कल्पना मिश्रा ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन की सरकार पूरी तरह से फेल है. महंगाई चरम सीमा पर है. युवा, बेरोजगार, महिलाएं असुरक्षित हैं. सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए जनता ने पूरा मन बनाया है. जनता का ध्यान बहुजन समाज पार्टी के सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय की ओर है. सम्मेलन में ममता दुबे, रचना त्रिपाठी, अर्चना पटेल, शहनाज खान, सुधा चौरसिया, पुष्पा चौबे, सावित्री सेठ, आरती झा, बेबी, प्रियंका भारती, मंजू भारती, रुचि गुप्ता, सपना यादव समेत कई महिलाएं उपस्थित थी.

(रिपोर्ट:- विपिन सिंह, वाराणसी)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें