17.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeचुनावMizoram Election: ZPM ने 27 सीटें जीत मिजोरम का बदला इतिहास, 1987 के बाद पहली बार होगा ऐसा

Mizoram Election: ZPM ने 27 सीटें जीत मिजोरम का बदला इतिहास, 1987 के बाद पहली बार होगा ऐसा

मिजोरम के निवर्तमान मुख्यमंत्री और मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष जोरमथंगा ने जोरम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) के हाथों मिली करारी हार के बाद सोमवार शाम को राज्यपाल हरी बाबू कंभमपति से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया.

जोरम पीपल्स मूवमेंट (जेडपीएम) ने सोमवार को 40 सदस्यीय सदन में 27 सीट जीतकर मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) को अपदस्थ कर दिया और मिजोरम की सत्ता हासिल कर ली. निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने कहा कि एमएनएफ को 10 सीट पर जीत मिली जबकि भाजपा को दो और कांग्रेस को एक सीट पर जीत मिली. जीत हासिल करने वाले जेडपीएम के प्रमुख नेताओं में पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार लालदुहोमा भी शामिल हैं. उन्होंने सेरछिप सीट पर मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के जे माल्सावमजुआला वानचावंग को 2,982 मतों से हराया.

हार के बाद मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने दिया इस्तीफा

मिजोरम के निवर्तमान मुख्यमंत्री और मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष जोरमथंगा ने जोरम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) के हाथों मिली करारी हार के बाद सोमवार शाम को राज्यपाल हरी बाबू कंभमपति से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया. उन्होंने कहा कि राज्य विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी की हार का एक प्रमुख कारण सत्ता विरोधी लहर थी.

जेडपीएम उम्मीदवार से हारे मुख्यमंत्री जोरमथंगा

चुनाव आयोग ने बताया कि मुख्यमंत्री जोरमथंगा आइजोल ईस्ट-प्रथम सीट पर जेडपीएम उम्मीदवार लालथनसांगा से 2,101 मतों से हार गए. अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने बाद में राज्यपाल हरि बाबू कंभमपति से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया.

Also Read: Mizoram Election Results 2023: पीएम मोदी ने मिजोरम चुनाव में जीत पर जोरम पीपल्स मूवमेंट को बधाई दी

जेडपीएम ने मिजोरम का बदला इतिहास

राज्य में 2018 के विधानसभा चुनाव में एमएनएफ ने 26 सीट जीती थीं. जेडपीएम ने प्रचंड जीत दर्ज कर मिजोरम का इतिहास बदल दिया है. पहली बार होगा कि 1987 में इसके गठन के बाद से पूर्वोत्तर राज्य पर गैर-कांग्रेस तथा गैर-एमएनएफ सरकार का शासन होगा.

एमएनएफ के 11 मंत्रियों में से नौ को मिली हार

चुनाव लड़ने वाले एमएनएफ के 11 मंत्रियों में से नौ हार गए. गृह मंत्री लालचमलियाना ने चुनाव नहीं लड़ा था. निर्वाचन आयोग के अनुसार, चुनाव में जिन नेताओं को हार का सामना करना पड़ा उनमें उपमुख्यमंत्री और एमएनएफ उम्मीदवार तावंलुइया शामिल हैं जो तुइचांग में जेडपीएम उम्मीदवार से हार गए. इसके अलावा स्वास्थ्य मंत्री और एमएनएफ उम्मीदवार आर लालथंगलियाना दक्षिण तुईपुई में जेडपीएम के जेजे लालपेखलुआ से हार गए तथा ग्रामीण विकास मंत्री लालरुआत्किमा को आइजोल वेस्ट-द्वितीय सीट पर जेडपीएम के उम्मीदवार लालनघिंगलोवा हमार से हार झेलनी पड़ी.

नवनिर्वाचित विधायकों और पार्टी नेताओं की परामर्श के बाद सरकार बनाने का दावा पेश करेगी जेडपीएम

जेडपीएम के कार्यकारी अध्यक्ष के सपडांगा ने कहा कि मंगलवार को नवनिर्वाचित विधायकों और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की परामर्श बैठक के बाद पार्टी सरकार बनाने का दावा पेश करेगी.

जेडपीएम ने इन सीटों पर जीत दर्ज की

जेडपीएम ने जिन सीट पर जीत हासिल की, उनमें कोलासिब, चालफिल, तवी, आइजोल नॉर्थ-प्रथम, आइजोल नॉर्थ-द्वितीय, आइजोल नॉर्थ-तृतीय, आइजोल ईस्ट-प्रथम, आइजोल ईस्ट-द्वितीय, आइजोल वेस्ट-प्रथम, आइजोल वेस्ट-द्वितीय, आइजोल वेस्ट-तृतीय, आइजोल साउथ-प्रथम, आइजोल साउथ-द्वितीय, आइजोल साउथ-तृतीय, लेंगतेंग, तुइचांग, चम्फाई नॉर्थ, चम्फाई साउथ, तुइकुम, ह्रांगतुर्जो, साउथ तुइपुई, लुंगलेई नॉर्थ, लुंगलेई ईस्ट, लुंगलेई वेस्ट, लुंगलेई साउथ, लांग्तलाई ईस्ट और सेरछिप शामिल हैं.

एमएनएफ को केवल इन सीटों पर मिली जीत

एमएनएफ ने हाच्चेक, मामिक, तुइरियाल, डाम्पा, सेरलुई, तुइवावल, ईस्ट तुइपुई, वेस्ट तुइपुई, थोरंग और तुईछांग में जीत हासिल की.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें