15.1 C
Ranchi
Thursday, February 29, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Vibrant Gujarat Summit: गुजरात में बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा इस्पात संयंत्र,लक्ष्मी मित्तल ने बताया पूरा प्लान

Vibrant Gujarat Global Summit 2024: वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक शिखर सम्मेलन के यहां आयोजित 10वें संस्करण में लक्ष्मी मित्तल ने कहा कि संयंत्र की उत्पादन क्षमता 2.4 करोड़ टन प्रति वर्ष होगी. इसके 2029 तक तैयार होने की उम्मीद है.

Vibrant Gujarat Global Summit 2024: आर्सेलर मित्तल (Arcelor Mittal) के कार्यकारी अध्यक्ष लक्ष्मी मित्तल (Lakshmi Mittal) ने बुधवार को कहा कि आर्सेलर मित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (एएम/एनएस इंडिया) गुजरात के हजीरा में दुनिया का सबसे बड़ा एकल स्थान एकीकृत इस्पात संयंत्र बना रही है. वैश्विक इस्पात कंपनी आर्सेलर मित्तल जापान की निप्पॉन के साथ भारत में संयुक्त उद्यम संचालित करती है. वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक शिखर सम्मेलन के यहां आयोजित 10वें संस्करण में लक्ष्मी मित्तल ने कहा कि संयंत्र की उत्पादन क्षमता 2.4 करोड़ टन प्रति वर्ष होगी. इसके 2029 तक तैयार होने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि शिखर सम्मेलन में कंपनी ने हजीरा संयंत्र के दूसरे चरण के लिए गुजरात सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं. उन्होंने ने कहा कि हजीरा संयंत्र के पहले चरण का काम 2021 में शुरू किया गया था और 2026 तक इसका उद्घाटन किया जा सकता है. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में संयंत्र का भूमि पूजन किया गया था. लक्ष्मी मित्तल ने विश्वास जताया कि राज्य सरकार के सहयोग से कंपनी 2029 तक सूरत के पास परियोजना के दूसरे चरण को शुरू करेगी. हालांकि, उन्होंने हजीरा में दुनिया के सबसे बड़े एकल स्थान एकीकृत इस्पात संयंत्र के निर्माण के लिए अनुमानित निवेश को लेकर कोई जानकारी नहीं दी. गुजरात में निष्पक्ष, पारदर्शी तथा नीति संचालित शासन है. उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य को हासिल करने के लिए इस्पात बहुत महत्वपूर्ण है.

Also Read: गौतम अदाणी गुजरात में करेंगे दो लाख करोड़ का निवेश, कहा- पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत बन सकता विकसित राष्ट्र
हाइड्रोजन एनर्जी में भी निवेश कर रही कंपनी

लक्ष्मी मित्तल ने कहा कि उनकी कंपनी आर्सेलर मित्तल केवल इस्पात में नहीं, बल्कि नवीकरणीय ऊर्जा और हरित हाइड्रोजन में भी निवेश कर रही है. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि गुजरात में स्टील प्लान से देश को आत्मनिर्भर बनने में मजबूती मिलेगी. इस आयोजन में हजीरा प्लांट के दूसरे चरण के लिए कंपनी ने गुजरात सरकार के साथ MoU साइन किया है. इससे पहले साल 2021 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्लांट के पहले चरण के लिए भूमि पूजा की थी. इसका निर्माण कार्य अभी भी जारी है. इसका काम 2026 तक पूरा होने की उम्मीद है. लक्ष्मी मित्तल ने कहा कि पिछले साल जब मैं वाइब्रेंट गुजरात के लिए यहां आया था, तो पीएम मोदी ने बताया था कि कैसे इस मेगा-ग्लोबल इवेंट ने आइडियाज, इमेजिनेशन और प्रोसेस कंटिन्यूटी के आधार पर संस्थागत ढांचा तैयार किया है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी का वन अर्थ, वन फैमिली और वन फ्यूचर की थीम भारत का गौरव बढ़ा रहा है.

पीएम मोदी ने किया कार्यक्रम का उद्घाटन

वाइब्रेंट गुजरात 2024 का उद्घाटन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा किया गया. इसका आयोजन गुजरात की राजधानी गांधनगर के महात्मा मंदिर कन्वेंशन और प्रदर्शनी केंद्र में किया जा रहा है. कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान, चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री पेट्र फियाला, मोजाम्बिक के राष्ट्रपति फिलिप जैसिंटो न्युसी, तिमोर-लेस्ते के राष्ट्रपति जोस रामोस-होर्टा, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल, गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत और देशभर के बड़े उद्योगपति शामिल हैं. इस कार्यक्रम में रिलायंस ग्रुप के प्रमुख मुकेश अंबानी ने बड़े निवेश की घोषणा की है. इसके साथ ही, गौतम अदाणी ने पांच साल में दो लाख करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की है. सुजुकी मोटर्स ने भी गुजरात में 38,200 करोड़ रुपये निवेश करने की घोषणा की है. आयोजन 12 जनवरी तक चलेगा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें