15.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यउत्तर प्रदेशUP News : संगम सिटी का ट्रैफिक सुधारने को नई योजना पर हुआ मंथन, ऐसी होगी यातायात व्यवस्था

UP News : संगम सिटी का ट्रैफिक सुधारने को नई योजना पर हुआ मंथन, ऐसी होगी यातायात व्यवस्था

संगम सिटी (प्रयागराज) की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए प्रयागराज स्मार्ट सिटी लिमिटेड (पीएससीएल) की इंटीग्रेटेड ट्रांजिट मैनेजमेंट सिस्टम की समिति की बैठक में इस योजना पर चर्चा की गई

प्रयागराज : यूपी की संगम सिटी प्रयागराज की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए नई योजना पर काम चल रहा है. हाल ही में हुई प्रयागराज स्मार्ट सिटी लिमिटेड (पीएससीएल) की इंटीग्रेटेड ट्रांजिट मैनेजमेंट सिस्टम की समिति की बैठक में इस योजना पर चर्चा की गई. योजना इस तरह बनाई गई है कि कुंभ के दिनों में यातायात व्यवस्था बेहतर रहे. भीड़ से वाहनों की आवाजाही बाधित न हो. अधिकारियों ने बताया कि इस योजना पर 7 नवंबर को आयोजित प्रयागराज स्मार्ट सिटी लिमिटेड (पीएससीएल) की इंटीग्रेटेड ट्रांजिट मैनेजमेंट सिस्टम की समिति की बैठक में चर्चा की गई थी. इसके मिनट्स की पुष्टि 21 नवंबर को की गई थी. नई योजना के तहत सात स्थानों ट्रैफिक चालान बनाने की स्वचालित सुविधा का विस्तार किया जा रहा है. 19 स्थानों पर पीएससीएल ने इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) के तहत रेड लाइट उल्लंघन डिटेक्शन सिस्टम स्थापित किया है. साथ ही कुछ सड़कों को वाहन पार्किंग के साथ वन-वे किया है. इस व्यवस्था को लागू कराने के लिए ट्रैफिक पुलिस की कमी न पड़े यह ध्यान एसपी (यातायात), प्रयागराज द्वारा रखा जाएगा. जो सड़कें निर्माणाधीन हैं तथा जहां लोक निर्माण विभाग एवं प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा कार्य प्रगति पर है, वहां स्टॉप लाइन एवं जेब्रा क्रॉसिंग के चिन्हांकन का कार्य संबंधित विभागों द्वारा किया जायेगा. चालान काटने में किसी भी तरह की बाधा से बचने के लिए पीएससीएल द्वारा सड़कों पर स्टॉप लाइन और ज़ेबरा क्रॉसिंग बनाईं जाएंगी.

Also Read: Atique Ahmed News : अतीक की अवैध संपत्तियों की पहचान के लिए यूपी पुलिस डेटा माइनिंग विशेषज्ञों की ले रही मदद
सड़क के किनारे पार्किंग के साथ एक तरफा यातायात योजना

अधिकारियों को सूचित किया गया कि अर्बन मोबिलिटी ट्रांसपोर्ट कंपनी एक सलाहकार के रूप में कार्यरत थी और क्षेत्र-आधारित विकास (एबीडी) पहल के तहत क्षेत्रों में सड़कों के डिजाइन के अलावा, इसने सड़क के किनारे पार्किंग के साथ एक तरफा यातायात योजना भी दी है. इस चर्चा के दौरान अतिरिक्त डीसीपी (यातायात) सीता राम को एक नक्शा दिखाया गया, जिस पर उन्होंने सुझाव दिया कि वह इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्देशों का ध्यान रखते हुए मामले की जांच करेंगे. आगे की कार्रवाई के लिए समिति को रिपोर्ट करेंगे. एडीसीपी (यातायात)-प्रयागराज ने ओल्ड गवर्नमेंट गर्ल्स पॉलिटेक्निक के पास एक वाहन पार्किंग स्टेशन स्थापित करने का भी सुझाव दिया. पीएससीएल के मिशन प्रबंधक (तकनीकी) संजीव कुमार सिन्हा ने कहा कि एक जनहित याचिका (2019 का संख्या 1299) के तहत एक आदेश पहले ही उच्च न्यायालय द्वारा पारित किया जा चुका है और प्रयागराज स्मार्ट सिटी लिमिटेड उसी के अनुसार मामले को उठाएगा.

ये सड़कें होंगी वन वे, इन रोड पर चलेंगे दो तरफा वाहन

सलाहकार के रूप में नियुक्त अर्बन मोबिलिटी ट्रांसपोर्ट कंपनी ने सिफारिश की है कि क्लाइव रोड, स्ट्रेची रोड, कूपर रोड और पत्रिका रोड (लाल बहादुर शास्त्री मार्ग से एमजी रोड और एमजी रोड से नवाब यूसुफ रोड तक) को वाहन पार्किंग के साथ बाईं ओर से वन-वे बनाया जाए. इसी तरह, फर्म ने न्याय रोड (नवाब यूसुफ रोड से एमजी मढ़ तक और लाल बहादुर शास्त्री मार्ग से महर्षि दयानंद रोड तक), सरोजिनी रोड (पीडी टंडन रोड से ताशकंद रोड तक और ताशकंद रोड) सहित कुछ सड़कों के नौ विशिष्ट हिस्सों की सिफारिश की है. महर्षि दयानंद रोड तक) और साथ ही लोहिया रोड के चार खंड (नवाब यूसुफ रोड से एमजी रोड तक, एमजी रोड से लाल बहादुर शास्त्री रोड तक, लाल बहादुर शास्त्री रोड से पीडी टंडन रोड तक और कस्तूरबा गांधी रोड से क्लाइव रोड तक) दोतरफा रखा गया लेकिन सड़कों के दोनों ओर पार्किंग की व्यवस्था होनी चाहिए.

बैठक में इन अधिकारियों ने लिया भाग

बैठक में उपस्थित अन्य अधिकारियों में पीएससीएल के सीईओ चंद्र मोहन गर्ग, प्रयागराज विकास प्राधिकरण के कार्यकारी अभियंता संदीप अग्रवाल, प्रयागराज नगर निगम के कार्यकारी अभियंता नाजमी मुजफ्फर, यातायात निरीक्षक, यातायात पुलिस-प्रयागराज अमित कुमार और पीएससीएल प्रबंधक (आईटी) मणि शंकर त्रिपाठी शामिल थे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें