1. home Home
  2. state
  3. up
  4. bareilly
  5. up chunav 2022 amit shah has prepared a plan for the assembly seats of west up sht

UP Chunav 2022: BJP ने वेस्ट यूपी की 136 सीटों पर जीत का खाका किया तैयार, इन सीटों पर अमित शाह की नजर

गृह मंत्री अमित शाह ने बरेली में वेस्ट यूपी की 136 विधानसभा सीट पर जीत दर्ज करने का प्लान तैयार किया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Bareilly
Updated Date
अमित शाह
अमित शाह
File Photo

Bareilly News: यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारी में बीजेपी पूरी ताकत के साथ जुटी हुई है. इसी क्रम में शुक्रवार रात गृह मंत्री अमित शाह ने बरेली में बेस्ट यूपी के मंत्री, सांसद, विधायक और संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों के साथ बैठक की. दरअसल, ये वही इलाका है, जहां का किसान बीजेपी से नाराज चल रहा है, और दूसरी और सपा-रालोद गठबंधन की लगातार हो रही रैलियां बीजेपी के लिए चुनौती बनती जा रही हैं. शाह ने इन मुश्किलों से ही पार्टी को बाहर निकालने की प्लानिंग तैयार की है.

जहां मिली थी हार वहां ज्यादा फोकस

शाह ने यूपी की 136 विधानसभा सीट पर जीत दर्ज करने का प्लान तैयार किया. इसमें से भाजपा के पास वर्तमान में 108 सीट हैं, लेकिन 2017 के चुनाव में 28 सीट सपा और बसपा से हार गई थी. पुरानी सीटों पर जीत कायम रखने के साथ ही 28 सीटों पर भी कब्जा जमाने के लिए भाजपा के चाणक्य ने प्रयास शुरू कर दिए हैं.

शाह को मिली वेस्ट यूपी की जिम्मेदारी 

गृहमंत्री ने बरेली के सर्किट हाउस में रात से सुबह तक वेस्ट यूपी के नेताओं के साथ अलग-अलग मीटिंग की. भाजपा ने बृज और पश्चिमी क्षेत्र की जिम्मेदारी गृह मंत्री अमित शाह को दी है, जिसके चलते शुक्रवार को वह जन विश्वास यात्रा के समापन समारोह में बरेली पहुंचे थे. जन विश्वास यात्रा में रोड शो करने के बाद रैली को संबोधित किया. ब्रज क्षेत्र के 19 जिलों की 66 सीट और पश्चिमी क्षेत्र की 14 जिलों की 71 सीटों को लेकर रणनीति बनी. यह दोनों क्षेत्र वेस्ट यूपी में है जिसमें 136 सीट आती है भाजपा के पास 108 सीट वर्तमान में हैं, लेकिन भाजपा इससे अधिक सीट जीतने की कोशिश में है.

यहां मिली थी हार

बीजेपी ने बरेली मंडल की 25 में से 23 सीट पर जीत दर्ज की. बदायूं की सहसवान और शाहजहांपुर की जलालाबाद पर सपा ने जीत दर्ज की थी. संभल में चार में से दो बीजेपी हारी. इन दो पर सपा ने जीत दर्ज की. बिजनौर में 8 में से दो बीजेपी हारी. यहां सपा जीती. रामपुर में 5 में से 3 पर बीजेपी हारी. शामली में 3 में से एक बीजेपी हारी. एक सपा ने जीती. हापुड़ में 3 में से एक बीजेपी हारी. एक पर बीएसपी विजयी हुई. मथुरा में 5 में से एक बीजेपी हारी. यहां भी बीएसपी जीती थी. हाथरस में तीन में से एक बीजेपी हारी. इस सीट पर भी बसपा ने जीत दर्ज की.

बीजेपी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है वेस्ट यूपी?

दरअसल, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन ने पहले ही बीजेपी के खिलाफ माहौल बना दिया है. इसके अलावा मेरठ और अलीगढ़ के बाद वेस्ट यूपी के अलग-अलग इलाकों में हो रही सपा-रालोद की गठबंधन रैली भी बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती बनती जा रही है. वहीं सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह उन्हीं मुद्दों को उठा रहे हैं, जिन्हें लेकर यहां का किसान पहले से ही बीजेपी के खिलाफ है.

क्या इस गठबंधन से बीजेपी को नुकसान होगा?

दरअसल, पश्चिमी यूपी में लगभग 13 सीटें ऐसी हैं, जिन पर जाट या यूं कहें कि किसानों का कब्जा है. वहीं कृषि कानून (अब वापस हो चुका है) और एमएसपी समेत अलग अलग मांगों को लेकर किसान बीजेपी से नाराज चल रहे हैं. किसानों की नाराजगी का फायदा रालोद को मिल सकता है. हालांकि, गृह मंत्री अमित शाह से लेकर जेपी नड्डा तक ने इन दिनों वेस्ट यूपी में पूरी ताकत लगा दी है, अब बीजेपी यहां के नाराज वोटबैंक को किस तरह अपने पाले में लगाएगी, ये देखने वाली बात होगी.

रिपोर्ट- मुहम्मद साजिद

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें