21.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यझारखण्डJharkhand News: IIT रुड़की की टीम ने साहिबगंज गंगा कटाव क्षेत्र का किया निरीक्षण, पीड़ितों को दिया ये भरोसा

Jharkhand News: IIT रुड़की की टीम ने साहिबगंज गंगा कटाव क्षेत्र का किया निरीक्षण, पीड़ितों को दिया ये भरोसा

Jharkhand News: आईआईटी रुड़की की टीम साहिबगंज पहुंची और गंगा कटाव क्षेत्र का निरीक्षण किया. इस दौरान टीम ने पीड़ितों को भरोसा दिया कि इस मामले का अध्ययन कर जल्द रिपोर्ट सौंप दी जायेगी.

Jharkhand News: झारखंड के साहिबगंज जिले के 83 किलोमीटर क्षेत्र से होकर पतित पावनी मां गंगा की निर्मल अविरल धारा बहती है, जो नगर परिषद क्षेत्र से होते हुए तालझारी, राजमहल नगर पंचायत और राजमहल व उधवा होते हुए बंगाल की ओर मुड़ जाती है. वहीं इन दिनों नगर परिषद क्षेत्र के पुरानी साहिबगंज ओझा टोली, मलाही टोला, कुम्हार टोला, कबूतरखोपी, चानन, मदनशाही क्षेत्र में पिछले डेढ़ माह से तेजी से कटाव हो रहा है. कटाव में अब तक हजारों बीघा खेती योग्य भूमि गंगा में समा चुकी है. मां गंगा की मुख्यधारा शहरी क्षेत्र की ओर मुड़ गयी है. जिससे तेजी से कटाव हो रहा है. आईआईटी रुड़की की टीम ने गंगा कटाव क्षेत्र का निरीक्षण किया और जल्द रिपोर्ट सौंपने का आश्वासन दिया.

कटाव से प्रत्येक दिन ओझा टोली घाट से चानन तक 5 से 8 फीट भूमि गंगा में समा रही है. धंस रही है. वहीं चानन से मदनशाही तक गंगा कटाव अंदर ही अंदर हो रहा है और ऊपर की भूमि को धीरे धीरे मां गंगा अपने आगोश में ले रही है. जिससे करोड़ों से निर्मित सीवरेज प्लांट गंगा कटाव की जद में है. बोरियो विधानसभा के नगर परिषद क्षेत्र के चानन मोहल्ले में बनाया गया सीवरेज प्लांट इन दिनों गंगा कटाव की जद में आ रहा है. तेजी से हो रहे गंगा कटाव में सीवरेज प्लांट का गंगा से सटे क्षेत्र का चहारदीवारी व पीसीसी सड़क कटाव की भेंट चढ़कर धीरे-धीरे गंगा में समा रहा है. वहीं नयी जगह कटाव के कारण मिट्टी का धंसना शुरू है. सीवरेज प्लांट से गंगा में छोड़ा जाना वाला पानी के नीचे की मिट्टी भी कटकर/धंसकर गंगा में समा रही है और नयी जगह दरारें आकर मिट्टी को धंसाने का कार्य कर रही है. सीवरेज प्लांट की चहारदीवारी भी धीरे-धीरे टूटकर और धंसती जा रही है.

Also Read: Jharkhand News: मुक्ति कुजूर को नहीं मिली नौकरी, तो जमीन नहीं होने के बावजूद ऐसे कर रहे खेती, दे रहे रोजगार

कटाव क्षेत्र में रहने वाले स्थानीय लोग कटाव की दूरी घर से दिन प्रतिदिन कम होने से भयभीत हैं. स्थानीय निवासी सिमरन भारती, रेनू देवी, कंचन देवी, सदानंद चौधरी, शिवम, जयकिशोर सहित अन्य ने बताया कि पिछले डेढ़ माह से देख रहे हैं कि टीम आती है, देखती है, पूछती है और फोटो-वीडियो बनाती है. मापी करती है और आश्वासन देती है कि जल्दी कटावरोधी कार्य शुरू होगा. सरकार जल्द से जल्द स्थाई तौर पर कटावरोधी कार्य शुरू करवाए. राजमहल विधायक अनंत कुमार ओझा ने कहा कि बीते दिनों एनएमसीजी के अध्यक्ष के साथ वीडियो संवाद हुआ था. जिसमें उन्होंने एक्सपर्ट से अध्ययन कराने की मांग की थी. आईआईटी की एक्सपर्ट टीम पहुंची है. प्रोफेसर डॉ अहमद ने विधायक से कहा कि जल्द ही इन सभी समस्याओं का अध्ययन कर जल्द ही रिपोर्ट सौप दी जायेगी.

Also Read: Cyber Crime: जननी सुरक्षा योजना के नाम पर ठगी, साइबर अपराधी ने ऐसे झांसे में लेकर बैंक अकाउंट से उड़ाये रुपये

आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर सह रिवर फ्रंट के एक्सपर्ट डॉ जेड अहमद ने गंगा पर स्टडी की है. श्री अहमद ने सीवरेज प्लांट के पीछे गंगा क्षेत्र और नागरीय कटाव क्षेत्र का जायजा लिया. राजमहल विधायक अनंत ओझा, नगर परिषद अध्यक्ष एसएन यादव, नगर परिषद उपाध्यक्ष रामानंद साह सहित जुडको व स्थानीय लोगों से जानकारी ली और सुझाव को नोट किया. इस दौरान उन्होंने ओझा टोली, मलाही टोला से सीवरेज प्लान तक, चानन क्षेत्र का कटाव क्षेत्र का जायजा लिया और स्थानीय लोगों से आवश्यक जानकारियां लीं. मौके पर डीजीएम जुडको अलोक मण्डल, एसपीएएमजी विभूति कुमार, प्रोजेक्ट मैनेजर जुडको राधेकान्त सिंह व अखिलेश नायक, विनोद चौधरी, गौतम यादव, पुरुषोत्तम पाठक, अभिषेक कुमार सहित अन्य मौजूद थे.

रिपोर्ट: नवीन कुमार

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें