1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. relief from trouble in admission of medical college students in jharkhand master plan of rims will be ready smj

झारखंड में मेडिकल कॉलेज के छात्रों के एडमिशन में परेशानी से मिलेगी राहत, रिम्स का मास्टर प्लान होगा तैयार

झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. इसके तहत मेडिकल कॉलेज में छात्रों के एडमिशन में आ रही अड़चनों को दूर करने कर निर्देश दिया. साथ ही रिम्स का मास्टर प्लान तैयार करने को कहा है, ताकि रिम्स को नया स्वरूप दिया जा सके.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में शिरकत करते सीएम हेमंत सोरेन. साथ में मंत्री बन्ना गुप्ता.
स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में शिरकत करते सीएम हेमंत सोरेन. साथ में मंत्री बन्ना गुप्ता.
ट्विटर.

Jharkhand News (रांची) : झारखंड के मेडिकल कॉलेज में छात्रों के एडमिशन में आ रही अड़चनों को दूर करने का निर्देश मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को दिया. स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक हुई 3 नये मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन, एंबुलेंस सेवा में सुधार और सरलीकरण, डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ की नियुक्तियां, रिम्स और एमजीएम को बेहतर बनाने आदि समेत अनेक मुद्दों पर चर्चा की गयी.

इस मौके पर सीएम श्री सोरेन ने कहा कि रिम्स, रांची के लिए मास्टर प्लान तैयार करें, ताकि रिम्स को नया स्वरूप दिया जा सके. साथ ही जिला अस्पताल में मरीजों के लिए बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करें. पंचायत स्तर पर भी ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त हो, इस दिशा में कार्य करें. इसके अलावा उन सड़कों या ब्लैक स्पॉट को चिह्नित करें जहां अधिक दुर्घटना होती है. ऐसे स्थानों पर ट्रामा सेंटर को प्राथमिकता दें, ताकि दुर्घटना में घायल लोगों का तत्काल उपचार सुनिश्चित हो सके.

एंबुलेंस को एक प्लेटफार्म पर लाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के सरकारी और निजी अस्पतालों के एंबुलेंस को एक प्लेटफार्म में लाने का कार्य करें. इन्हें GPS प्रणाली से जोड़े. इससे सरकारी और निजी दोनों एंबुलेंस का उपयोग किया जा सके. निजी एंबुलेंस के लिए उन्हें कार्य के बदले भुगतान करने की व्यवस्था हो.

पुरुष को भी नर्सिंग के लिए प्रोत्साहित करें

उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों में कार्यरत नर्सों का डाटा बेस तैयार करें, ताकि उनकी संख्या का सही आकलन हो सके. नर्सिंग के क्षेत्र में पुरुष को भी प्रोत्साहन दें, ताकि जरूरत के अनुसार विभिन्न अस्पतालों में उनसे कार्य लिया जा सके.

मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में MGM जमशेदपुर के निर्माणाधीन नये भवन और दुमका, हजारीबाग, पलामू, पश्चिमी सिंहभूम में निर्माणाधीन फार्मेसी शिक्षा संस्थानों की कार्य प्रगति, मेडिकल कॉलेज में पठन-पाठन की व्यवस्था, PG और MBBS सीट और मेडिकल कॉलेज में शैक्षणिक संवर्ग के विभिन्न पदों की स्वीकृति एवं धारित पदों, टेली मेडिसिन, ई- संजीवनी, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना की जानकारी ली गयी.

इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त अरुण कुमार सिंह, निदेशक रिम्स डॉ कामेश्वर प्रसाद, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन भुवनेश प्रताप सिंह, प्रबंध निदेशक JMHIPDCL नैंसी सहाय एवं अन्य उपस्थित थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें