28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड विधानसभा में बोले राज्यपाल : रांची एयरपोर्ट का होगा विस्तार, धनबाद, गुमला, लोहरदगा में बनेंगे समाहरणालय

Jharkhand Assembly Budget Session 2023|राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने अपने अभिभाषण की शुरुआत हिंदी में की. उन्होंने झारखंड के शहीदों को नमन किया. इसके बाद उन्होंने अपना पूरा भाषण अंग्रेजी में दिया. झारखंड के विधायकों से कहा कि उम्मीद है कि झारखंड के विकास में आप अपनी भूमिका निभायेंगे.

Jharkhand Assembly Budget Session 2023: राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन के अभिभाषण के साथ झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो गया. राज्यपाल श्री राधाकृष्णन ने सोमवार को अपने अभिभाषण में सरकार की उपलब्धियों का बखान किया. उन्होंने कहा कि झारखंड की सरकार भारत के सुनहरे भविष्य में अपना योगदान देने के लिए कृतसंकल्प है. राज्यपाल ने यह भी कहा कि रांची स्थित बिरसा मुंडा एयरपोर्ट का विस्तार किया जायेगा. इसके अलावा धनबाद, गुमला और लोहरदगा में नये समाहरणालय के निर्माण की भी बात उन्होंने कही.

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने अपने अभिभाषण की शुरुआत हिंदी में की. उन्होंने झारखंड के शहीदों को नमन किया. इसके बाद उन्होंने अपना पूरा भाषण अंग्रेजी में दिया. झारखंड के विधायकों से कहा कि उम्मीद है कि झारखंड के विकास में आप अपनी भूमिका निभायेंगे. सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए राज्यपाल ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान झारखंड में प्रति व्यक्ति आय 71 हजार रुपये से अधिक थी. बाद में बढ़कर 78 हजार से अधिक हो गयी. यह बताता है कि राज्य की सरकार विकास के लिए काम करती है.

Also Read: Jharkhand Budget Expectations 2023: बजट से बिरसा कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों की क्या हैं उम्मीदें ?
किसानों के खाते में ट्रांसफर किये 461 करोड़ रुपये

राज्यपाल ने कहा कि कृषि अर्थव्यवस्था की रीढ़ है. खर्च बढ़ने और सूखा की वजह से किसानों को परेशानी झेलनी पड़ी. सरकार ने कृषि ऋण माफी योजना की शुरुआत की, जिसका लाभ 4.5 लाख किसानों को मिला. 26 जिलों को सुखाड़ग्रस्त घोषित किया गया और इसके लिए 9,681 करोड़ रुपये केंद्र से मांगे. केंद्रीय टीम ने राज्य का दौरा किया. हमारी सरकार ने 461 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत किसानों के खाते में ट्रांसफर किये. हर किसान को 3,500 रुपये मिले.

6 लाख से अधिक किसानों को किसान क्रेडिट स्कीम का मिला लाभ

राज्यपाल ने किसान क्रेडिट स्कीम का भी जिक्र किया. कहा कि इस योजना के तहत 6.30 लाख किसानों को कम ब्याज पर 3,300 करोड़ रुपये का लोन मिला. मत्स्यपालन में झारखंड ने शानदार प्रदर्शन किया है. सरकार मत्स्य पालन से जुड़े लोगों को प्रोत्साहित कर रही है. मत्स्यपालन करने वालों की आय में वृद्धि हुई है. 2022-23 में 2.95 लाख मीट्रिक टन मछली उत्पादन का लक्ष्य है. उन्होंने कहा कि 6,586 मत्स्य मित्रों के जरिये रिकॉर्ड उत्पादन की ओर बढ़ रहे हैं.

Also Read: Budget Expectations 2023: झारखंड बजट से गुमला के अन्नदाता किसानों को क्या हैं उम्मीदें ?
39 हजार लोगों को मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना का लाभ

झारखंड के 39 हजार लोगों को मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना का लाभ मिला है. इस योजना के तहत सरकार ने 40 करोड़ रुपये खर्च किये हैं. इतना ही हनीं, झारखंड मिल्क फेडरेशन को भी मजबूत किया जा रहा है. 22 जिलों से अभी 1.53 लाख लीटर दूध का कलेक्शन रहा है. इसे और बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है.

गांव का विकास अर्थव्यवस्था की रीढ़

राज्यपाल श्री राधाकृष्णन ने कहा कि लैंपस और पैक्स कृषि की रीढ़ हैं. उनका कम्प्यूटराइजेशन हो रहा है. गांव के विकास से ही अर्थव्यवस्था मजबूत होगी. महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज को हमारी सरकार आगे बढ़ा रही है. गांधी के सिद्धांतों पर आगे बढ़ रहे हैं. आजीविका सशक्तिकरण अभियान से 26 लाख लोगों को जोड़ा गया. आजीविका से ग्रामीण परिवारों को ऑर्गेनिक फार्मिंग से जोड़ा जा रहा है.

इन योजनाओं का राज्यपाल ने किया जिक्र

राज्यपाल ने महिला किसान सशक्तिकरण, मनरेगा, बिरसा हरित ग्राम योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, सिंचाई परियोजनाओं के साथ-साथ खाद्य सुरक्षा योजना का भी जिक्र किया. राज्यपाल ने आम लोगों की सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार की ओर से शुरू की गयी पेंशन योजनाओं का भी जिक्र किया. बेटियों को सशक्त बनाने और उच्च शिक्षा में ड्रॉपआउट रेट कम करने के सरकार के प्रयासों के बारे में भी सदन को बताया. स्टूडेंट्स के लिए शुरू की गयी स्कॉलरशिप योजनाओं के अलावा एससी, एसटी, अल्पसंख्यक और ओबीसी स्टूडेंट्स की फ्री कोचिंग की व्यवस्था के बारे में भी दी जानकारी.

स्कूलों में शुरू किये गये स्मार्ट क्लास

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने बताया कि मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के जरिये एससी, एसटी, अल्पसंख्यक, ओबीसी, दिव्यांगों को सस्ती दर पर बैंक लोन मिल रहे हैं. झारखंड में उत्कृष्ट स्कूलों के बारे में भी बताया. कहा कि 160 करोड़ रुपये खर्च करके 48 उत्कृष्ट स्कूल तैयार किये गये हैं. स्कूलों में स्मार्ट क्लास शुरू किये गये हैं. बच्चों का कॉन्फिडेंस बढ़ाने के लिए पहली बार झारखंड स्टेट ओलिंपियाड 2022 का आयोजन किया गया, जिसमें 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा के करीब 70 हजार विद्यार्थियों ने भाग लिया.

एएआई को 301 एकड़ जमीन का हस्तांतरण

उन्होंने बताया कि बिरसा मुंडा एयरपोर्ट का सरकार विस्तार करेगी. इसके लिए एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया से बात हो गयी है. झारखंड सरकार ने 30 साल के लिए एएआई को 301 एकड़ जमीन का हस्तांतरण भी कर दिया है. उन्होंने कहा कि रांची के अलावा देवघर और जमशेदपुर से हवाई जहाज की सेवा शुरू हो गयी. देवघर से दिल्ली और कोलकाता की उड़ान शुरू हुई है, जबकि जमशेदपुर से भुवनेश्वर और कोलकाता को जोड़ा गया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें