1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. dgp of jharkhand allows policemen to encounter criminals carrying arms mtj

झारखंड के डीजीपी ने पुलिसकर्मियों को दी अपराधियों का एनकाउंटर करने की खुली छूट

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
झारखंड के डीजीपी ने पुलिसकर्मियों को दी अपराधियों का एनकाउंटर करने की खुली छूट. गुमला में आम लोगों और दुकानदारों से किया सीधा संवाद.
झारखंड के डीजीपी ने पुलिसकर्मियों को दी अपराधियों का एनकाउंटर करने की खुली छूट. गुमला में आम लोगों और दुकानदारों से किया सीधा संवाद.
Durjay Paswan

रांची/गुमला : झारखंड के पुलिस महानिदेशक ने पुलिस वालों को अपराधियों का एनकाउंटर करने की खुली छूट दे दी है. डीजीपी एमवी राव ने राज्य के पुलिसकर्मियों से कहा है कि वे ऐसे अपराधियों को गोली मारने में बिल्कुल न हिचकिचायें, जो हथियार लेकर चलते हैं. श्री राव ने स्पष्ट किया कि ऐसे पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी. उन्हें संरक्षण दिया जायेगा.

पुलिस प्रमुख ने गुमला में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान यह स्वीकार किया कि झारखंड में नशे की वजह से हाल के महीनों में जघन्य अपराध की घटनाएं बढ़ी हैं. उन्होंने कहा कि रांची के सेंट जेवियर्स स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा ममता खाखा और उसके भाई संजीव रंजन की हत्या जघन्यतम और क्रूरतम अपराध है. ऐसे अपराध में संलिप्त लोगों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि इस डबल मर्डर केस में शामिल अपराधियों के खिलाफ स्पेशल कोर्ट में ट्रायल होगा, ताकि उन्हें जल्द से जल्द सजा दिलायी जा सके. श्री राव ने कहा कि इस केस के आरोपी ड्रग एडिक्ट हैं. इस वारदात को अंजाम देने वालों को पुलिस जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी. शनिवार को गुमला के घाघरा में घटनास्थल के अलावा मृतक भाई-बहन के परिजनों से भी उन्होंने मुलाकात की और घटना की बारीक जानकारियां हासिल की.

व्हाट्सऐप और ट्विटर पर करें थानेदार की शिकायत

डीजीपी श्री राव ने पुलिसकर्मियों को अपराधियों के एनकाउंटर की खुली छूट दी, तो आम लोगों से कहा कि यदि थानेदार आपकी शिकायत पर कार्रवाई नहीं करते हैं, तो उनकी भी शिकायत करें. व्हाट्सएप्प और ट्विटर पर ऐसे अधिकारियों की शिकायत करें. घाघरा में श्री राव ने आम लोगों से मुलाकात की. सब्जी विक्रेता, समोसे की दुकान, मुर्गा बेचने वालों से सीधा संवाद किया.

नशा के खिलाफ अभियान चलाने का निर्देश

डीजीपी ने कहा कहीं भी शराब, गांजा, टेन व चोको जैसी किसी नशीली सामग्री की बिक्री हो रही हो, तो इसकी सूचना ग्रामीण किसी भी माध्यम से पुलिस तक पहुंचायें. सूचना देने वालों का नाम गुप्त रखा जायेगा. गुमला की पुलिस लगातार 15 दिन तक नशा के खिलाफ अभियान चलायेगी. इसमें ग्रामीण भी सहयोग करें. डीजीपी ने कहा कि आपका क्षेत्र खुशहाल रहे, इसके लिए आपको भी जागरूक होना होगा.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें