20.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया देवघर एम्स के पीएम जन औषधि केंद्र का ऑनलाइन उद्घाटन

गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम जन औषधि केंद्र का उद्घाटन किया. इस अवसर पर गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया भी मौजूद थे.

देवघर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली से देवघर एम्स में स्थित पीएम जन औषधि केंद्र का ऑनलाइन उद्घाटन किया. इस अवसर पर गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया भी मौजूद थे. इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुई कई बड़े ऐलान किये. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार महिला सहायता समूहों को 15 हजार ड्रोन देगी. इसके अलावा पीएम मोदी ने झारखंड के कई जन औषधि केंद्र के लाभार्थियों से बातचीत की.

क्या कहा पीएम मोदी ने

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के लाभार्थियों से संवाद करते हुए कहा कि ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ पूरे देश में सरकार की प्रमुख योजनाओं की संपूर्ण पहुंच सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शुरू की गई है. ताकि इन योजनाओं का लाभ समयबद्ध तरीके से सभी लक्षित लाभार्थियों तक पहुंचे.

उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा ‘मोदी की गारंटी’ वाली गाड़ी है और गांव-गांव जा रही है. उन्होंने ओडिशा के लाभार्थी से आग्रह किया कि उन्हें अब देश को विकसित बनाने में योगदान का संकल्प लेना चाहिए और इस अभियान में गांव के लोगों को भी जोड़ना चाहिए.

Also Read: पीएम मोदी ने दी महिला किसान ड्रोन केंद्र और जन औषधि सेंटर की सौगात, जानें किसे होगा लाभ

इससे पहले एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि महिलाओं के नेतृत्व में विकास सुनिश्चित करना प्रधानमंत्री का निरंतर प्रयास रहा है. इस दिशा में एक और कदम उठाते हुए मोदी ने ‘प्रधानमंत्री महिला किसान ड्रोन केंद्र’ की शुरुआत की है. यह केन्द्र महिला स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को ड्रोन प्रदान करेगा ताकि वे इस तकनीक का उपयोग आजीविका सहायता के लिए कर सकें.

अगले 3 वर्षों में महिला स्वयं सहायता समूहों को कराए जाएंगे 15,000 ड्रोन उपलब्ध

इस योजना के तहत अगले तीन वर्षों के दौरान महिला स्वयं सहायता समूहों को 15,000 ड्रोन उपलब्ध कराए जाएंगे. साथ ही महिलाओं को ड्रोन उड़ाने और उपयोग करने के लिए आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा. साथ ही साथ जन औषधि केंद्र किफायती कीमतों पर दवाएं उपलब्ध कराने के लिए बनाए जा रहे हैं.

बता दें कि प्रधानमंत्री ने महिला एसएचजी को ड्रोन उपलब्ध कराने और जन औषधि केंद्रों की संख्या 10,000 से बढ़ाकर 25,000 करने संबंधी पहल की घोषणा इस साल स्वतंत्रता दिवस पर अपने भाषण के दौरान की थी.

झारखंड के लोगों से बातचीत में क्या कहा पीएम मोदी ने

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान झारखंड के कई लाभार्थियों से बातचीत की. सबसे पहले उन्होंने देवघर के सोना चंद मिश्रा से जन औषधि केंद्र से मिलने वाले फायदे के बारे में पूछा. इसके जवाब में लाभार्थी ने कहा कि जन औषधि केंद्र से दवा लेने की वजह से उनका मासिक 10 से 12000 रुपये का अतिरिक्त खर्च बच जाता है. इसके अलावा प्रधानमंत्री ने जन औषधि केंद्र चलाने वाली फार्मासिस्ट रुचि वर्मा से भी बात की. रुचि रामगढ़ जिले की रहने वाली है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें