26.1 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पटना में गांधी मैदान से आकाशवाणी तक अगले महीने से शुरू होगी अंडरग्राउंड मेट्रो की खुदाई

Patna metro latest update डीएमआरसी ने प्रस्तावित गांधी मैदान स्टेशन के पास तीसरे टनल बोरिंग मशीन को 52 फुट नीचे लांचिंग शॉफ्ट पर उतारा

पटना मेट्रो रेल परियोजना के तहत अगले महीने गांधी मैदान से आकाशवाणी तक अंडरग्राउंड मेट्रो के लिए जमीन की खुदाई शुरू हो जायेगी. इसके लिए दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने तीसरे टनल बोरिंग मशीन (टीबीएम) को प्रस्तावित गांधी मैदान स्टेशन के पास 52 फुट की गहराई पर बने लांचिंग शॉफ्ट पर उतार दिया है. लांचिंग शाफ्ट कंक्रीट और स्टील से बनी संरचना है, जो टनल बोरिंग मशीन को लांच करने के लिए बनायी जाती है. डीएमआरसी के अधिकारी ने बताया कि लांचिंग शॉफ्ट पर दो से तीन हफ्ते में टीबीएम को पूरी तरह जोड़ने की प्रक्रिया पूरी किये जाने के बाद विधिवत खुदाई शुरू कर दी जायेगी. करीब 450 मीट्रिक टन वजन वाला टीबीएम इसके बाद परिस्थितियों के मुताबिक गांधी मैदान से आकाशवाणी भूमिगत मेट्रो स्टेशन की 966 मीटर की दूरी पांच से सात महीने में तय करेगा.

अधिकारी ने बताया कि अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन के लिए बन रहे टनल की खुदाई के लिए इस्तेमाल किए जा रहे टीबीएम की शृंखला में यह तीसरा टीबीएम है. इससे पहले मोइनुल हक स्टडेयिम से पटना विश्वविद्यालय स्टेशन तक अंडरग्राउंड स्टेशन की खुदाई के लिए दो टीबीएम अप्रैल 2023 में लांच किये जा चुके हैं. फिलहाल इसके माध्यम से खुदाई जारी है. अधिकारियों ने बताया कि टीबीएम असेंबली को कुल 1200 मीट्रिक टन क्षमता वाली चार स्ट्रैंड जैक (प्रत्येक की क्षमता 300 मीट्रिक टन) और मेगा लिफ्ट की मदद से लांचिंग शाफ्ट पर उतारा गया.

Also Read: BPSC Teacher Result 2023: डीएलएड का रिजल्ट जारी, 72419 को मिली सरकारी नौकरी

सामान्य तौर पर टनल बोरिंग मशीन को लांचिंग शॉफ्ट में उतरने में लगभग पांच से आठ घंटे लगते हैं, लेकिन तकनीकी कारणों से इसमें थोड़ा अधिक समय लगा. टीबीएम तीन को गांधी मैदान भूमिगत मेट्रो स्टेशन में 32 मीटर लंबे एवं 25 मीटर चौड़ाई वाले लांचिंग शॉफ्ट में लोअर किया गया. मेट्रो अधिकारी ने बताया कि इस टीबीएम का वजन 50 सीटर वाले 28 बसों के बराबर है. उन्होंने कहा कि टीबीएम वन एवं टू को मोइन उल हक से पटना विश्वविद्यालय की ओर लगभग 1.49 किलो मीटर का सफर तय कर रही है. विश्वविद्यालय पहुंचने पर उसे रिट्रीव कर फिर से लांच किया जायेगा. यानि दोनों अंडरग्राउंड स्टेशन के बीच डाउन लाइन के लिए खुदाई शुरू होगी.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें