21.1 C
Ranchi
Thursday, February 29, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर को BJP विधायक ने दी चुनौती, बोले- ‘दम है तो इस्लाम के खिलाफ बोलें’

बीजेपी विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा कि अगर शिक्षा मंत्री को बयान देने का इतना ही शौक है तो वे जरा एक बार इस्लाम धर्म के खिलाफ कुछ भी बोलकर देख लें. बीजेपी नेता ने कहा कि इस्लाम के खिलाफ बोलने मात्र से मंत्री महोदय का सर तन से जुदा का फरमान सामने आ जाएगा.

Biahr Politics: बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर यादव ने बीते दिनों रामचरित मानस को लेकर एक बयान दिया था. मंत्री जी के इस बयान को लेकर बिहार में राजनीतिक बयानबाजी जोरों पर है. इन सब के बीच बीजेपी के फायर ब्रांड विधायक हरि भूषण ठाकुर का बयान सामने आया है. बीजेपी विधयाक ने शिक्षा मंत्री पर पलटवार करते हुए कहा कि ये शिक्षा नहीं बल्कि अशिक्षा मंत्री है. भगवान राम के खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी से इनका सब कुछ समाप्त हो जाएगा.

‘इस्लाम के खिलाफ बोलकर दिखायें शिक्षा मंत्री’

बीजेपी विधायक ने कहा कि अगर शिक्षा मंत्री को बयान देने का इतना ही शौक है तो वे जरा एक बार इस्लाम धर्म के खिलाफ कुछ भी बोलकर देख लें. बीजेपी नेता ने कहा कि इस्लाम के खिलाफ बोलने मात्र से मंत्री महोदय का सर तन से जुदा का फरमान सामने आ जाएगा. बीजेपी विधायक ने शिक्षा मंत्री को लंपट आदि भी कहा.

सीएम नीतीश करे उचित कार्रवाई

बीजेपी विधायक ने कहा कि भगवान राम के खिलाफ बयान देने वाले मंत्री से इस्तीफा लिया जाना चाहिए. हरि भूषण ठाकुर ने आगे कहा कि राजद कोटे से मंत्री प्रो. चंद्रशेखर महज चंद वोट के लालाच में आकर अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस मामले को देखना चाहिए और शिक्षा मंत्री से तत्काल इस्तीफा लिया जाना चाहिए. यदि वे इस्तीफी नहीं देते हैं तो नीतीश कुमार को ऐसे मंत्री को बर्खास्त किया जाना चाहिए.

‘रामचरितमानस में विश्वबंधुत्व का संदेश’

भाजपा विधायक ने आगे कहा कि शिक्षा मंत्री को यह तक मालूम नहीं है कि दुनिया के सैकड़ों यूनिवर्सिटी में राम चरितमानस का पाठ पढ़ाया जाता है. राम चरित मानस में बंधुत्व का संदेश है. नफरत फैलाने वाले लोग राम चरित मानस और भगवान राम के खिलाफ गलत बयानबाजी करते हैं. उन्होंने आगे कहा कि ऐसे लोगों की करतूतों को बिहार की जनता देख रही है.

क्या है मामला ?

गौरतलब है कि बीते दिनों बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर ने रामचरितमानस पर एक विवादित बयान दिया था. शिक्षा मंत्री ने कहा था कि राम चरितमानस ग्रंथ समाज में नफरत फैलाने वाला ग्रंथ है. यह ग्रंथ समाज में दलितों, पिछड़ों को पढ़ायी करने से रोकता है. इसके अलावे शिक्षा मंत्री ने मनुस्मृति को लेकर भी बयान दिया था. उन्होंने कहा कि मनुस्मृति को बाबा साहब अंबेडकर ने जलाया था. मनुस्मृति ने समाज में नफरत का बीज बोया. फिर उसके बाद रामचरितमानस ने समाज में नफरत पैदा की और आज के समय गुरू गोलवलकर की विचार समाज में नफरत फैला रही है.

https://www.youtube.com/watch?v=I46QRzHaMQ4

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें