24.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Bihar Weather: पटना में लुढ़का न्यूनतम पारा, सर्द हवा ने गया में बढ़ायी ठंड, जानें बिहार में कब होगी बारिश

बुधवार को मौसम के खुलने के साथ धूप खिली पर दिन भर चली सर्द पछुआ हवा की वजह से ठंड से राहत नहीं मिली. दिन ढलते ही कनकनी काफी महसूस की जाने लगी. लोग अलाव जलाकर शरीर सेंकते देखे गये. मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि 12 फरवरी से फिर आसमान में बादल छाने के साथ बारिश की संभावना है.

पटना. एक दिन पहले हुई बारिश, बदली व सर्द पछुआ हवा के बहने से लुढ़का चार डिग्री न्यूनतम पारा. सर्द पछुआ हवा के बहने से नमी काफी बढ़ गयी है और कनकनी युक्त सर्दी भी काफी महसूस की जा रही है. इधर मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि 12 फरवरी से फिर आसमान में बादल छाने के साथ बारिश की संभावना है. सरस्वती पूजा के आस-पास बारिश से सर्दी और बढ़ेगी.

धूप खिली पर ठंड बरकरार

बुधवार को मौसम के खुलने के साथ धूप खिली पर दिन भर चली सर्द पछुआ हवा की वजह से ठंड से राहत नहीं मिली. दिन ढलते ही कनकनी काफी महसूस की जाने लगी. लोग अलाव जलाकर शरीर सेंकते देखे गये. सर्द पछुआ हवा के बहने से बाजार में चहल-पहल नहीं दिखायी दी. गया में बुधवार को न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री व अधिकतम तापमान 24.1 डिग्री सेल्सियस रहा. सुबह की आर्द्रता 81 प्रतिशत व शाम की आर्द्रता 35 प्रतिशत रही. मंगलवार को न्यूनतम पारा 14.6 डिग्री व अधिकतम पारा 24.2 डिग्री सेल्सियस रही थी.

तेज पछिया हवा से ठंड का अहसास

इधर, भागलपुर जिले में बारिश की गतिविधि समाप्त होने के बाद पछिया हवा की रफ्तार तेज हो गयी है. बुधवार को दिनभर हवा चलने से ठंडक में आंशिक बढ़ोतरी हुई. जिले का अधिकतम तापमान 23.5 डिग्री व न्यूनतम तापमान नौ डिग्री रिकॉर्ड किया गया. आठ से 12 फरवरी के बीच भागलपुर में शाम से लेकर सुबह तक ठंड बनी रहेगी. हालांकि दिन में धूप निकलने से ठंड से राहत मिलेगी. इस दौरान नौ फरवरी से आसमान में हल्के बादल रह सकते हैं. इस दौरान पश्चिमी हवा चलने की संभावना है, हवा की औसत गति 3 से 7 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है. बीएयू के ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के नोडल पदाधिकारी डॉ सुनील कुमार ने बताया कि न्यूनतम तापमान लगभग छह से 11.5 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 22-26 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है. किसान तेज हवा में फसलों में किसी भी प्रकार का छिड़काव नहीं करें.

अगले 24 घंटे में गिरेगा दिन व रात का पारा

इधर, मौसम विभाग का पूर्वानुमान बता रहा है कि रविवार से ही शुरू हुई बूंदाबांदी के बाद ठंड में इजाफा हुआ है. पछुआ हवा के तेज प्रवाह के कारण शहरी व ग्रामीण इलाके में लोग गर्म कपड़े पहने हुए नजर आये. गुरुवार को अनुमंडल क्षेत्र में मध्यम कोहरे का असर दिखा. कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ विपुल कुमार मंडल ने बताया कि अगले 24 घंटे के बाद दिन व रात के तापमान में कमी आने की संभावना है. उन्होंने गुरुवार को अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रहने का असर बताया है. इस दौरान 12 से 23 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पछुआ हवा चलने की संभावना है. उन्होंने बताया कि गुरुवार को आसमान साफ व मौसम शुष्क रहने की संभावना है.

Also Read: Weather Forecast: दिल्ली में यलो अलर्ट, जानें बिहार-झारखंड सहित अन्य राज्यों के मौसम का हाल

बारिश हुई तो फसलों को होगा नुकसान

बारिश की संभावना से किसान परेशानी में हैं. रबी फसल के साथ-साथ दलहनी व तेलहन फसल को काफी नुकसान पहुंच सकता है. आलू में भी झुलसा (पाला) रोग फैलने के साथ सहजन(मुनगा) के फुल के झड़ जाने से उनमें फली नहीं निकलने की संभावना बढ़ती जा रही है. हालांकि कृषि वैज्ञानिक मौसम के पूर्वानुमान के मुताबिक किसानों को फसलों में ऐहतियाती तौर पर दवा का छड़काव करने की सलाह भी दे रहे हैं.

मौसम में उतार-चढ़ाव रहेगा जारी स्वास्थ्य का रखें ख्याल

बीते एक सप्ताह में मौसम में लगातार उतार-चढ़ाव और ठंडी हवाओं की वजह से लोग एक बार फिर से बीमारी की चपेट में आ रहे हैं. अनुमंडलीय अस्पतालों से लेकर निजी नर्सिंग होम में ऐसे मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. इसमें पुरानी बीमारियों के मरीजों को अधिक परेशानी हो रही है. वहीं बच्चे बूढ़े हर कोई सर्दी खांसी जुकाम की चपेट में आ रहे हैं. डॉ पंकज कुमार ने बताया कि मौसम में बदलाव के बीच थोड़ी सी लापरवाही भी लोगों को भारी पड़ रहा है. इसलिए इस मौसम में लापरवाही न बरतें. गर्म कपड़े पहनें और मौसमी बीमारी वाले लोग के संपर्क में आने से बचें.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें