28.8 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार के चक्रवात प्रभावित इलाकों के लिए हर संभव मदद करेंगे : राजनाथ सिंह

पटना : केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को बिहार के दस जिलों में तूफान व ओला वृष्टि से हुई तबाही का हवाई सर्वेक्षण करने पूर्णिया पहुंचे. उसके बाद कोसी व मिथिलांचल इलाके के हवाई सर्वे के लिए निकले. हवाई सर्वे के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक प्रेस कान्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने बिहार को हर […]

पटना : केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को बिहार के दस जिलों में तूफान व ओला वृष्टि से हुई तबाही का हवाई सर्वेक्षण करने पूर्णिया पहुंचे. उसके बाद कोसी व मिथिलांचल इलाके के हवाई सर्वे के लिए निकले. हवाई सर्वे के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक प्रेस कान्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने बिहार को हर संभव मदद का भरोसा दिया. राजनाथ ने कहा कि मैंने और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया. हमने देखा कि बडी संख्या में घर बडी मात्र में फसल चक्रवात से प्रभावित हुए हैं. पर, मुङो यह देख कर संतोष हुआ कि नीतीश कुमार ने पहल करते हुए मृतकों को परिवार चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि इस तूफान से हुए नुकसान के संबंध में केंद्र सरकार को बिहार सरकार एक मेमेरेंडम देगी, जिसके आधार पर सहायता के लिए निर्णय लिया जायेगा.
बिहार में मंगलवार को आए काल बैसाखी तूफान में मरने वालीं की संख्या 55 तक पहुंच गई है.राजनाथसिंह ने कहा, ‘‘संकट की इस घडी में केंद्र पूरी तरह राज्य सरकार के साथ है. हम राज्य सरकार को हर संभव सहायता उपलब्ध कराएंगे.’’ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और राधामोहन सिंह और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के साथ मिलकर सिंह ने तूफान से बुरी तरह प्रभावित पूर्णिया, मधेपुरा और कटिहार जिले में नुकसान का जायजा लिया.
गृहमंत्री ने राज्य के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक भी की. राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की नवीनतम रिपोर्ट के मुताबिक पूर्णिया में तूफान का सबसे ज्यादा कहर बरपा जहां 38 लोगों की मौत हुई है. रिपोर्ट के मुताबिक मधेपुरा में सात लोगों की, मधुबनी में तीन लोगों की और कटिहार, सीतामढी और दरभंगा जिले में दो-दो लोगों की मौत हुई है.
आकाशवाणी की खबर के मुताबिक बिहार सरकार ने तूफान प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य तेज कर दिये हैं. राज्य सरकार ने तूफान प्रभावित लोगों को तत्काल अनुदान देने का निर्देश दिया है. साथ ही तूफान प्रभावित इलाकों के जिलाधिकारियों से नुकसान की रिपोर्ट भी मांगी गयीहै.
मालूम हो कि तूफान प्रभावित इलाकों में विद्युत आपूर्ति को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है. उधर, सड़कों पर हजारों की संख्या में गिरे पेड़ों को हटाने का काम जारी है, ताकि आवागमन बहाल हो सके.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें