1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. gopalgunj
  5. some people were called from the house to sweep then the dead body of the tantrik was found rdy

घर से झाड़-फूंक करने के लिए बुलाकर ले गए कुछ लोग, फिर तांत्रिक का मिला शव

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
घर से झाड़-फूंक करने के लिए बुलाकर ले गए कुछ लोग, फिर तांत्रिक का मिला शव
घर से झाड़-फूंक करने के लिए बुलाकर ले गए कुछ लोग, फिर तांत्रिक का मिला शव
प्रतीकात्मक तस्वीर

Bihar Crime News: बिहार के गोपालगंज कटेया थाने के पंचदेवरी गांव के रहनेवाले एक तांत्रिक को उसके ससुराल के कुछ लोगों ने बुलाकर हत्या कर दी. वारदात के बाद शनिवार की सुबह तांत्रिक का शव कटेया पुलिस ने छितौना हाइस्कूल के पास से बरामद किया. मृतक की पहचान बिहारी बासफोर के पुत्र 38 वर्षीय प्रभु बासफोर के रूप में की गयी. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया. पुलिस की ओर से इस मामले में परिजनों के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. पुलिस के मुताबिक मृतक झाड़-फूंक करने का काम करता था.

बताया जाता प्रभु बासफोर अपने ससुराल फुलवरिया थाने के मगहा गांव में नवरसा पर रहता था. शुक्रवार की रात में बाइक से कुछ लोग उसके ससुराल पहुंचे और किसी व्यक्ति का झाड़-फूंक के नाम पर बुलाकर ले गये. रात में प्रभु बासफोर ने घर से बाहर जाने में असमर्थता जतायी, लेकिन बाइक सवार युवक जरूरी होने की बात कहकर बुला गये. देर रात तक प्रभु बासफोर घर नहीं पहुंचा तो परिजन चिंतित हुए और आसपास के लोगों को सूचना देकर खोजबीन शुरू कर दी. इस बीच शनिवार की सुबह कटेया के छितौना हाइस्कूल के पास हत्या कर शव फेंके जाने की सूचना मिली.

मृतक की पहचान होने के बाद पुलिस ने परिजनों से घटना की जानकारी ली. परिजनों के मुताबिक साजिश के तहत घर से बुलाकर प्रभु बासफोर की हत्या की गयी है. वारदात के बाद शव को सड़क पर फेंक दिया गया. कटेया थानाध्यक्ष सुमन कुमार मिश्रा ने बताया कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई करते हुए आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी है.

पिटाई के बाद रस्सी से गला घोंटा गया

पुलिस ने शव को बरामद कर जांच शुरू किया तो पता चला कि प्रभु बासफोर की हत्या से पहले उसके साथ मारपीट की गयी. मारपीट के बाद रस्सी से गला दबाकर हत्या की गयी. पुलिस ने घटनास्थल पर जांच की, लेकिन किसी तरह का सामग्री बरामद नहीं हो सका. पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने मामले में खुलासा होने की बात कही है.

10 साल से ससुराल में रहता था प्रभु बासफोर

प्रभु बासफोर अपने ससुराल में पिछले 10 सालों से रहता था. फुलवरिया के मगहा गांव में नवरसा पर रहने के कारण अपने घर कटेया थाने के पंचदेवरी बहुत कम जाता था. परिजनों के अनुसार वारदात में पंचदेवरी के रहनेवाले लोगों का हाथ हो सकता है, हालांकि अभी आरोपितों के नाम सामने नहीं आये हैं. पुलिस का कहना है कि हर बिंदु पर जांच की जा रही है.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें