15.1 C
Ranchi
Thursday, February 29, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार: भागलपुर में लॉज में रहने वाले छात्र का फंदे से लटका मिला शव, मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस

बिहार के भागलपुर में लॉज में रहने वाले एक छात्र का शव फंदे से लटका मिला तो सनसनी फैल गयी. पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी. एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल की जांच की. पुलिस मौत की गुत्थी सुलझाएगी..

भागलपुर के तातारपुर थाना क्षेत्र के उर्दू बाजार स्थित निजी लॉज में 3 दिन पहले रहने आए 14 वर्षीय छात्र ने खुदकुशी कर ली. मृत छात्र कहलगांव के अंतिचक स्थित कुर्मीचक गांव रहने वाला अंकित कुमार है. मृतक के पिता राकेश कुमार सिंह चंडीगढ़ में रहकर मजदूरी करते हैं. घटना बुधवार सुबह साढ़े सात से 10 बजे के बीच की बताई जा रही है. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गयी है.एफएसएल टीम भी घटनास्थल पर पहुंची है.

एफएसएल टीम जांच में जुटी

उर्दू बाजार के सूर्य भवन लॉज में हुई इस घटना के बाद सिटी डीएसपी अजय कुमार चौधरी, प्रशिक्षु आईपीएस अभिनव कुमार और प्रशिक्षु डीएसपी सहित तातारपुर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. हालांकि शव को फंदे से उतार कर मृतक के भाई ने बिस्तर पर लिटा दिया था. पुलिस ने मौके पर पहुंचने के बाद कमरे में ताला जड़ दिया. एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल की जांच की.

मृत छात्र के बड़े भाई ने बताया..

मृत छात्र के बड़े भाई आयुष ने बयाया कि अंकित घर पर पढ़ता लिखता नही था, 15 फरवरी से उसकी मैट्रिक की परीक्षा होनी थी. इसको लेकर सेल्फ स्टडी और भाई से कुछ पढ़ लेने की बात कहकर उर्दू बाजार स्थित उसके लॉज में आ गया था. भागलपुर आने के बाद अंकित पहले दो दिन परबत्ती में लॉज में रहने वाले पाने मामा गुंजन के पास चला गया था. जहां से मंगलवार रात 8 बजे वह वापस पाने बड़े भाई के लॉज आ गया था. आयुष ने बताया कि रात में आने के बाद उन दोनो ने मिलकर खाना बनाया और फिर फिर अंकित सोने के लिए चला गया. रात में देर रात तक नोट्स बनाने की वजह से उसे सुबह कोचिंग जाने में देर हो गई थी. अंकित ने हो उसे 7.20 बजे उठाया. जिसके बाद वह केवल मुंह पर पानी मारकर कोचिंग पढ़ने के लिए चला गया. जहां पढ़ते हुए उसे शौच लग गया तो करीब सवा दस बजे वह वापस अपने कमरे पर आया तो कमरा भीतर से बंद था.

Also Read: ‘जब बकरी चराती दिखीं सीएम की पत्नी..’ कर्पूरी ठाकुर बिहार के मुख्यमंत्री बनकर भी झोपड़ी के ही मालिक रहे
गमछे से फंदा लगाकर दे दी जान

मृत छात्र के बड़े भाई आयुष ने बयाया कि काफी देर तक आवाज लगाने और दरवाजा पीटने के बाद भी जब अंकित ने दरवाजा नही खोला तो उसने पैरों से दरवाजे पर मारा. जिससे दरवाजा खुल गया. कमरे में उसने अपने भाई को गमछे के बने फंदे से लटका हुआ पाया. जीवित होने की संभावना पर उसने फौरन अपने भाई को फंदे से उतार दिया. पर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. जिसके बाद उसने लॉज मालिक व आसपास के कमरों में रहने वाले अन्य छात्रों को इसकी सूचना दी. जिसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें