17.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पैरा-एथलीट सुवर्णा राज ने इंडिगो के क्रू मेंबर पर लगाया ‘दुर्व्यवहार’ का आरोप, जानें क्या है पूरा मामला

अंतरराष्ट्रीय पैरा-एथलीट सुवर्णा राज ने शनिवार को इंडिगो एयरलाइन के चालक दल पर 'दुर्व्यवहार' का आरोप लगाया. आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, मैंने इंडिगो के क्रू से एयरलाइन से विमान के दरवाजे पर एक निजी व्हीलचेयर उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था, लेकिन कर्मचारियों ने कोई जवाब नहीं दिया.

अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में देश का प्रतिनिधित्व करने वाली पैरा-एथलीट सुवर्णा राज ने शनिवार को इंडिगो एयरलाइन के चालक दल पर ‘दुर्व्यवहार‘ का आरोप लगाया. आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, मैंने इंडिगो के क्रू से एयरलाइन से विमान के दरवाजे पर एक निजी व्हीलचेयर उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था, लेकिन कर्मचारियों ने कोई जवाब नहीं दिया. सुवर्णा ने आरोप लगाया कि नई दिल्ली से चेन्नई की उड़ान भरते समय इंडिगो के चालक दल के सदस्यों ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया है. सुवर्णा ने शुक्रवार को चेन्नई जाने वाली फ्लाइट में सीट नंबर 39 डी (आइल) बुक की थी.


नियम होने के बाद भी नहीं दी जाती है पर्सनल व्हीलचेयर

शनिवार को एएनआई से बात करते हुए, पैरा-एथलीट ने कहा, ‘एयरलाइंस बार-बार ऐसी घटनाए करती रहती है. जब भी मैं उड़ान भरती हूं, मैं व्हीलचेयर मांगती हूं. हालांकि, कई मौकों पर, मुझे विमान के दरवाजे पर व्हीलचेयर नहीं मिलती है.  ऐसा क्यूं किया जाता है. जबकि यह नियम है कि आप अपनी पर्सनल व्हीलचेयर ले सकते हैं. उनका कहना था कि जब कभी मैंने पर्सनल व्हीलचेयर की मांग की वहां केवल केबिन व्हील चेयर ही रख दी जाती हैं.

Also Read: IND vs ENG: यशस्वी जायसवाल ने बनाए कई रिकॉर्ड, जानें कैसा रहा अब तक का करियर
हम लोगों का दिमाग कब स्मार्ट होगा?: सुवर्णा

मीडिया को दिए बयान में सुवर्णा राज ने कहा कि इंडिगो की फ्लाइट में मेरे कई बार रिक्वेस्ट करने के बाद भी मेरा अनुरोध नहीं माना गया और मुझे पर्सनल व्हीलचेयर नहीं दी गई. उनका कहना था कि सुरक्षा जांच के नाम पर उन्हें और उनके साथ मौजूद खिलाड़ियों को कई बार व्हील चेयर से उठाया जाता है, जो गलत है. उन्होंने बताया  कि हम लोग स्मार्ट सिटी बना रहे हैं, लेकिन हम लोगों का दिमाग कब स्मार्ट होगा? हम लोग अपनी संवेदनशीलता खोते जा रहे हैं.

एयरलाइन क्रू बार-बार तोड़ते हैं प्रोटोकॉल

सुवर्णा ने दावा किया कि उनकी निजी व्हीलचेयर, जिसकी कीमत तीन लाख रुपये थी, को एयरलाइन क्रू ने खराब कर दिया था. ‘मेरी व्हीलचेयर टूट गई थी. इसकी कीमत मुझे तीन लाख रुपये चुकानी पड़ी. इंडिगो को मेरी व्हीलचेयर को हुए नुकसान की भरपाई करनी चाहिए और मैं चाहती हूं कि इसे पुरानी स्थिति में बहाल किया जाए. अगर एयरलाइंस के पास दिव्यांग मरीजों को व्हीलचेयर उपलब्ध कराने की नीति है, तो क्यों वे बार-बार प्रोटोकॉल तोड़ते हैं? सरकार को इन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए और जांच करनी चाहिए कि ऐसी घटनाएं इतनी बार क्यों हो रही हैं.’

Also Read: यशस्वी के अलावा इन भारतीय बाएं हाथ के बल्लेबाजों ने भी टेस्ट में जड़ा है दोहरा शतक, देखें लिस्ट
सुवर्णा राज को हुई असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं: इंडिगो

मामले के बाद इंडिगो ने ट्वीट करते हुए सुवर्णा राज से माफी मांगी उन्होंने कहा, ‘हम एक समावेशी एयरलाइन होने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि करते हैं और इस मामले को तुरंत संबोधित करने के लिए समर्पित हैं. हम सुवर्णा राज के संपर्क में हैं और मामले की गहन जांच कर रहे हैं. हम ग्राहक अनुभव के उच्चतम मानकों को बनाए रखने के लिए समर्पित हैं और सुवर्णा राज को हुई असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं.’


Also Read: यशस्वी जायसवाल ने जिस टीम के खिलाफ जड़ा दोहरा शतक, वहीं की लड़की को दे बैठे दिल!

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें