27.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

टी-20 विश्वकप : पाक टीम का भारत आना तय नहीं, चाहता है सुरक्षा की पूरी गारंटी

इस्लामाबाद/नयी दिल्ली : पाकिस्तान की विश्व ट्वेंटी20 क्रिकेट चैंपियनशिप में भाग लेने को लेकर अब भी अनिश्चितता बनी हुई है क्योंकि उसकी सरकार ने भारत से सुरक्षा का लिखित आश्वासन मिलने तक टीम की रवानगी को हरी झंडी देने से इन्कार कर दिया है. पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने पत्रकारों से […]

इस्लामाबाद/नयी दिल्ली : पाकिस्तान की विश्व ट्वेंटी20 क्रिकेट चैंपियनशिप में भाग लेने को लेकर अब भी अनिश्चितता बनी हुई है क्योंकि उसकी सरकार ने भारत से सुरक्षा का लिखित आश्वासन मिलने तक टीम की रवानगी को हरी झंडी देने से इन्कार कर दिया है.

पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने पत्रकारों से कहा, ‘‘अब भी टीम को मंजूरी देने की स्थिति में नहीं हैं. खतरा विशेष तौर पर पाकिस्तान को है. यह हमारी जिम्मेदारी है कि हमारे खिलाड़ी खेलते समय किसी तरह का दबाव महसूस नहीं करें. जब तक हमें (भारत) सरकार से लिखित आश्वासन नहीं मिलता है तब तक हम अपनी टीम को भारत दौरा करने की अनुमति नहीं देंगे. ”

उन्होंने भारत के खिलाफ सुरक्षा कारणों से 19 मार्च धर्मशाला के बजाय अब कोलकाता में होने वाले मैच के संदर्भ में कहा, ‘‘खतरे के बीच क्रिकेट कैसे खेला जा सकता है. ईडन गार्डन्स की क्षमता एक लाख दर्शकों की है. किसी भी तरफ से पत्थर फेंका जा सकता है. हम केवल खेल के लिये समान परिस्थितियों की मांग कर रहे हैं. ” लगातार गतिरोध के बीच भारत सरकार ने कहा कि किसी भी प्रमुख खेल प्रतियोगिता के लिये हमेशा जरुरी व्यवस्था की जाती है.

इस संदर्भ में उसने पिछले महीने असम में हुए दक्षिण एशियाई खेलों का उदाहरण दिया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरुप ने आज नयी दिल्ली में कहा, ‘‘आपको ज्ञात होगा कि हाल में दक्षिण एशियाई खेलों में पाकिस्तान सहित सभी सैफ देशों के दलों ने अच्छे और पूरे उत्साह से हिस्सा लिया. हमें पूरा विश्वास है कि आईसीसी विश्व टी20 भी सभी पहुलुओं से बहुत सफल रहेगा. ”

आईसीसी पहले ही कह चुकी है कि अब टीम भेजना पाकिस्तान पर निर्भर करता है क्योंकि उसकी आशंकाओं का समाधान कर दिया गया है. आईसीसी ने कहा, ‘‘हमने सर्वश्रेष्ठ संभावित सुरक्षा व्यवस्था की है और यदि वे अब भी नहीं आते हैं तो हम कानूनी रास्ता अपनाएंगे. यदि वे नहीं आते तो यह बहुत अनुचित होगा. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मीडिया निदेशक अमजद हुसैन ने कहा कि टीम मसले का समाधान होने तक लाहौर में नेशनल क्रिकेट अकादमी में रहेगी.

हुसैन ने कहा, ‘‘गृह मंत्री ने साफ कह दिया है कि भारत सरकार से स्पष्ट आश्वासन चाहते हैं. मुझे आश्वासन देने में किसी तरह की समस्या नजर नहीं आती है क्योंकि वह मेजबान देश है. यह उनकी जिम्मेदारी है. गेंद अब भारत सरकार के पाले में है. ” इससे पहले दिन में पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान ने एनसीए का दौरा करके खिलाडियों से बातचीत की. हुसैन ने कहा, ‘‘हमारे चेयरमैन ने खिलाडियों के साथ लंबी बातचीत की. उन्होंने प्रेरणादायी भाषण भी दिया और उन्हें टूर्नामेंट के लिये तैयार रहने को कहा. ”

कल भारत और पाकिस्तान के बीच धर्मशाला में होने वाले मैच की मेजबानी कोलकाता को सौंप दी गयी थी क्योंकि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने मैच के लिये पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने से इन्कार कर दिया था. इस वजह से पाकिस्तान को स्थिति का जायजा लेने के लिये तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भेजना पड़ा था. इसके बाद आईसीसी ने कोलकाता को इस मैच की मेजबानी सौंपी. शहरयार ने आईसीसी के फैसले का स्वागत किया था.

* पीसीबी ने कोलकाता में मैच का किया स्वागत

पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान ने भारत और पाकिस्तान के बीच विश्व टी20 के बहुप्रतीक्षित मुकाबले को धर्मशाला से कोलकाता स्थानांतरित करने के आईसीसी के फैसले का आज स्वागत किया. पीसीबी प्रमुख ने कहा, ‘‘मैंने उन्हें कह दिया है कि आयोजन स्थल के रुप में कोलकाता ठीक है और वह इसका स्वागत और सराहना करते हैं. लेकिन भारत सरकार को खतरे को मुद्दे पर हमें आश्वासन देना होगा.’

* पाकिस्तानी खिलाड़ियों को हम फुलप्रूफ सुरक्षा देंगे : बीसीसीआई

बीसीसीआई ने टी20 विश्व कप के दौरान पाकिस्तानी टीम को फुलप्रूफ सुरक्षा देने का आश्वासन दिया है. पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान द्वारा बीसीसीआई और भारत सरकार से लिखित आश्वासन मांगे जाने के बारे में पूछने पर बोर्ड के सीनियर अधिकारी और आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने कहा था, टूर्नामेंट में पाकिस्तान समेत सभी टीमों को फुलप्रूफ सुरक्षा मुहैया करायी जायेगी.

शुक्ला ने कहा ,‘‘ जहां तक बीसीसीआई का सवाल है, पाकिस्तान को फुलप्रूफ सुरक्षा दी जायेगी. उन्हें सुरक्षा इंतजामात को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है. अब फैसला पीसीबी को लेना है कि वे आना चाहते हैं या नहीं. वे आईसीसी के प्रति जवाबदेह हैं. पीसीबी को इस मसले पर फैसला लेना है लेकिन हम उनके खिलाड़ियों को फुलप्रूफ सुरक्षा देंगे.’ पीसीबी द्वारा भारत सरकार से लिखित आश्वासन मांगे जाने के बारे में शुक्ला ने कहा ,‘‘ हम सरकार की ओर से कैसे बोल सकते हैं.’

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें