Advertisement

kishangunj

  • Oct 1 2017 10:28PM
Advertisement

किशनगंज : जुलूस के दौरान झड़प, लाठीचार्ज, पुलिस पदाधिकारी सहित तीन घायल

किशनगंज : जुलूस के दौरान झड़प, लाठीचार्ज, पुलिस पदाधिकारी सहित तीन घायल
भीड़ को नियंत्रित करते जोकीहाट विधायक.

मुहर्रम जुलूस में शामिल उपद्रवियों ने की तोड़फोड़, जमकर मचाया उपद्रव

किशनगंज : मुहर्रम जुलुस के दौरान दो पक्षों में हुए टकराव के बाद रविवार को ठाकुरगंज में तनाव की स्थिति बनी रही. एक पक्ष द्वारा दिन भर किये गये हुडदंग के बाद हालात संभालने के लिए एसएसबी को बुलाना पड़ा. डीएम व एसपी खुद ठाकुरगंज में कैंप कर रहे है. शनिवार को दो पक्षों में विवाद हुआ था. रविवार को जुलूस के दौरान फिर विवाद शुरू हुआ. विवाद बढ़ते-बढ़ते मारपीट में तब्दील हो गया. प्याजपट्टी और मल्लाहपट्टी में घरों में घुस कर तोड़फोड़ की गयी. इस दौरान तलवार लगने से दो लोग जख्मी हो गये. इतना ही नहीं सड़क पर खड़ी गाड़ियों में भी तोड़-फोड़ की गयी. घटना की सूचना पाकर एसडीओ शफीक अहमद व एसडीपीओ कामिनी बाला भी मौके पर पहुंची. एसएसबी जवानों को बुलाया गया. इसके बाद एसएसबी जवानों ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को तितर-बितर किया. फिलहाल स्थिति नियंत्रित है, लेकिन तनाव बरकरार है. पथराव में एएसआइ विपिन कुमार गंभीर रूप से घायल हो गये, जबकि इंस्पेक्टर राजेश तिवारी को भी चोटें आयी हैं. वहीं, उपद्रवियों द्वारा की गयी तलवार बाजी में मल्लाहपट्टी के राम मंडल, रमेश चौधरी को चोट आयी है. उनका इलाज ठाकुरगंज अस्पताल में किया जा रहा है.

जोकीहाट बाजार में निकाले गये मुहर्रम जुलूस में शामिल कुछ उपद्रवी तत्वों ने रविवार को जम कर उपद्रव किया. उपद्रवी तत्वों ने एक धार्मिक स्थल के मेन गेट का दरवाजा तोड़ कर परिसर में घुस कर तोड़फोड़ की. जुलूस में शामिल लोगों ने पहले तो सामुदायिक भवन का शीशा तोड़ा, फिर पुजारी मुरलीधर शर्मा के निवास में घुस कर पुजारी के साथ मारपीट की. वहां तैनात होमगार्ड के जवान जुलूस का उग्र रूप देख कर अपनी राइफल बचाने के लिए भाग खड़े हुए.

होमगार्ड जवान ने बताया कि भीड़ राइफल छीनने की कोशिश कर रही थी. वे अपनी राइफल बचाने के लिए भाग गये. रविवार को जुलूस बाजार की ओर घुसा तो अगल-बगल के घरों पर लाठी बरसाना शुरू कर दिया. लाठी बरसाते हुए जब जुलूस पुराना हटिया स्थित करबला के मैदान में पहुंचा, तो वहां भी प्रशासन के सामने अगल-बगल के घरों में लाठी बरसाती रही. विधायक सरफराज आलम ने किसी तरह जुलूस को कर्बला के मैदान से बाजार की ओर रवाना किया. इसके बाद जुलूस में शामिल कुछ उपद्रवियों ने एक धार्मिक स्थल का गेट तोड़ दिया और तोड़फोड़ शुरू कर दी. परिसर में रखी बाइक को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. इसके बाद वहां स्थित ततमा टोली के घरों में तोड़फोड़ की.

सोमवार को पहलाम है. बाजारवासी रविवार की घटना से काफी भयभीत हो गये हैं. समाचार लिखे जाने तक एसडीओ व डीएसपी को तोड़फोड़ किये जाने को लेकर आक्रोशित लोगों ने घेर रखा है. आक्रोशित लोगों की मांग है कि इस रास्ते से जुलूस नहीं निकाला जाये.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement