15.1 C
Ranchi
Saturday, February 24, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरUP PCS Mains Result 2023 Out: यूपीपीएससी पीसीएस एग्जाम के रिजल्ट जारी, जानें नतीजे देखने के लिए आसान स्टेप्स

UP PCS Mains Result 2023 Out: यूपीपीएससी पीसीएस एग्जाम के रिजल्ट जारी, जानें नतीजे देखने के लिए आसान स्टेप्स

UP PCS Mains Result 2023 Out: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने संयुक्त राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा (मुख्य)-2023 के परिणाम घोषित कर दिए हैं. 150 रिक्त पदों के विरुद्ध कुल 451 अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए सफल घोषित किया गया है. अंतिम परिणाम जल्द ही घोषित किए जाएंगे.

UP PCS Mains Result 2023 Out: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी पद का परिणाम घोषित कर दिया है. योग्य उम्मीदवार अपना परिणाम आधिकारिक वेबसाइट uppsc.up.nic.in से डाउनलोड कर सकते हैं. कुल 601 उम्मीदवारों को नियुक्ति के लिए योग्य घोषित किया गया है. इंटरव्यू राउंड 20 जून से 19 जुलाई 2023 तक आयोजित किया गया था.

UPPSC PCS Mains Result 2023 Out: इन स्टेप्स से देखें रिजल्ट

स्टेप 1: सबसे पहले उम्मीदवार आयोग की आधिकारिक वेबसाइट uppsc.up.nic.in पर जाएं.

स्टेप 2: अब उम्मीदवार होम पेज पर लेटेस्ट अपडेट के लिंक पर क्लिक करें.

स्टेप 3: फिर उम्मीदवार UPPSC UP PCS Result 2023 Mains Exam के लिंक पर क्लिक करें.

स्टेप 4: अब उम्मीदवार अगले पेज पर Check Result के लिंक पर क्लिक करें.

स्टेप 5: इसके बाद सफल अभ्यर्थियों की लिस्ट पीडीएफ फॉर्मेट में खुल जाएगी.

स्टेप 6: अब उम्मीदवार पीडीएफ में अपना रोल नंबर सर्च कर लें.

Also Read: Indian Army Sarkari Vacancy 2023: सैन्य नर्सिंग सेवा में मिल रहा है जॉब का मौका, ऐसे करें अप्लाई

मुख्य परीक्षा में इतने लोग हुए थे शामिल

सम्मिलित राज्य / प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा-2023 (पीसीएस) की मुख्य परीक्षा दिनांक 26 सितंबर से 29 सितंबर 20 23 के बीच आयोजित की गई थी. इस परीक्षा में कुल 3658 अभ्यर्थी सम्मिलित हुए थे. इसमें कुल 20 प्रकार के पदों के लिए उपलब्ध 254 रिक्तियों में से 6 प्रकार के पदों के लिए 104 रिक्तियां हैं जिनपर चयन केवल लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाना है.

क्या है UPPSC

‘उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग’ (UPPSC) उत्तर प्रदेश राज्य का एक संवैधानिक निकाय है. इसके द्वारा राज्य सरकार द्वारा भेजी गई अभ्यर्थना के अनुसार उत्तर प्रदेश लोक सेवा के लिए अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है. यह आयोग अभ्यर्थियों का चयन करने के लिए एक परीक्षा का आयोजन करता है. यह परीक्षा कुल तीन चरणों में आयोजित कराई जाती है. इसके ये तीन चरण हैं- प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार. आयोग के द्वारा ही इस परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम का निर्धारण किया जाता है और उसके अनुरूप परीक्षा आयोजित कराई जाती है.

अभ्यर्थियों के लिए आयु सीमा संबंधी पात्रता

  • उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा इस तरह में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष निर्धारित की गई है, जबकि सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए इस परीक्षा में शामिल होने की अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष तय की गई है.

  • आयोग ने आरक्षित श्रेणियों, खिलाड़ियों, दिव्यांग जनों, भूतपूर्व सैनिकों इत्यादि अभ्यर्थियों के लिए आयु सीमा में छूट प्रदान की है. आयोग ने उत्तर प्रदेश राज्य के ही अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग तीनों ही वर्गों के अभ्यर्थियों के लिए अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट प्रदान की है. इसका अर्थ है कि इन तीनों ही आरक्षित श्रेणियों के अभ्यर्थी अधिकतम 45 वर्ष की उम्र तक इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

Also Read: Rajasthan High Court Recruitment 2023: राजस्थान हाईकोर्ट में सिस्टम असिस्टेंट के पदों पर हो रही है नियुक्ति

  • इसके अलावा, उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने उत्तर प्रदेश के ही ऐसे खिलाड़ियों को भी अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट प्रदान की है, जिन्होंने उत्तर प्रदेश के सूचीबद्ध खेलों में बेहतर प्रदर्शन किया है. अर्थात् इस श्रेणी के अभ्यर्थी भी अधिकतम 45 वर्ष की आयु तक इस परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र होते हैं.

  • उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के कर्मचारियों, आपातकाल कमीशंड अधिकारियों और शॉर्ट सर्विस कमीशन के अधिकारियों को भी अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट प्रदान की गई है. इसके अलावा, उत्तर प्रदेश राज्य के ऐसे भूतपूर्व सैनिक, जिन्होंने न्यूनतम 5 वर्ष तक अपनी सेवाएं दी हों, उन्हें भी अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई है. अतः इस श्रेणी के अभ्यर्थी भी उत्तर प्रदेश लोक सेवा परीक्षा में अधिकतम 45 वर्ष की आयु तक शामिल हो सकते हैं.

  • इसके अतिरिक्त, उत्तर प्रदेश राज्य के दिव्यांग जनों को इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अधिकतम आयु सीमा में 15 वर्ष की छूट प्रदान की गई है. इसका अर्थ है कि उत्तर प्रदेश राज्य के दिव्यांग जन अधिकतम 55 वर्ष की आयु तक इस परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र माने जाते हैं.

अभ्यर्थियों के लिए राष्ट्रीयता संबंधी पात्रता

  • इस परीक्षा में शामिल होने वाला अभ्यर्थी भारत का नागरिक होना चाहिए. इसके अलावा, नेपाल और भूटान के नागरिक भी इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

  • ऐसे तिब्बती शरणार्थियों को भी इस परीक्षा में शामिल होने की अनुमति होती है, जो भारत में स्थाई रूप से बसने के इरादे से 1 जनवरी, 1962 से पहले भारत आ गए थे.

  • भारतीय मूल के ऐसे लोग, जो भारत के पड़ोसी देशों- श्रीलंका, बर्मा और पाकिस्तान से भारत में स्थाई रूप से बसने के उद्देश्य से आए हैं, उन्हें भी इस परीक्षा में शामिल होने की अनुमति होती है.

  • इसके अलावा, संयुक्त राज्य तंजानिया, मलावी, केन्या, युगांडा, जांबिया, इथियोपिया जैसे अफ्रीकी देशों और वियतनाम से आने वाले भारतीय मूल के ऐसे लोग, जो भारत में स्थाई रूप से रहने के इरादे से आए हैं, उन्हें भी इस परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र माना जाता है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें