17.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

West Bengal : बैरकपुर में भाजपा समर्थकों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, महिलाओं को भी नहीं छोड़ा

दिलीप घोष ने कहा, ''हमारी पार्टी के लोकतांत्रिक अधिकारों को लूटा जा रहा है. कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाती है. यदि आप बिना अनुमति के प्रोग्राम करेंगे तो आपको 'केस' मिलेगा. चुनाव आते ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर पुराने मामले दर्ज कर जेल में डाल दिया जाता है.

पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में भाजपा युवा संगठन ने राज्य और जिले में कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान उत्तर 24 परगना के बैरकपुर में स्थिति तनावपूर्ण हाे गई थी. बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प हो गई. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ( Sukanta Majumdar) ने आरोप लगाया कि पुलिस ने बिना किसी उकसावे के उन पर हमला किया है. महिलाओं पर हमला किया गया है. सुकांत मजूमदार ने कहा वह इसकी शिकायत महिला आयोग से करेंगे.

भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस बैरिकेड तोड़ दिया

सुकांत मजूमदार के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस बैरिकेड तोड़ दिया जिसके बाद पुलिस ने उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया. देखते ही देखते बैरकपुर में सीपी कार्यालय के सामने का इलाका मानो युद्ध के मैदान जैसा दिखने लगा. बीजेपी का आरोप है कि पुलिस ने पहले पथराव किया. उधर पुलिस ने बीजेपी के जुलूस को तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछारें कीं. कई समर्थकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया. इसी बीच डीसी (सेंट्रल) आशीष मौर्य मौके पर पहुंचे. बीटी रोड के एक हिस्से को डायवर्ट कर दिया गया है.

Also Read: सुकांत मजूमदार को हावड़ा में घटनास्थल पर जाने से पुलिस ने रोका, भाजपा ने कहा,बंगाल में बुलडोजर सरकार की जरूरत
दिलीप घोष को भी पुलिस ने रोकाा

भाजपा ने कहा है कि भाजपा का युवा मोर्चा राज्य भर में अपने कार्यकर्ताओं के खिलाफ कुप्रबंधन, पुलिस की बर्बरता और झूठे मामले दर्ज करने सहित कई आरोप लगाते हुए इस रैली को निकाला गया था. सांसद दिलीप घोष मेदिनीपुर में एलआईसी चौराहे पर कार्यक्रम की शुरुआत में मौजूद थे. दिलीपा घोष की रैली को पुलिस ने गेट पर ही रोक दिया. तब बीजेपी ने सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया था. दिलीप घोष ने कहा, ”हमारी पार्टी के लोकतांत्रिक अधिकारों को लूटा जा रहा है. कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाती है यदि आप बिना अनुमति के प्रोग्राम करेंगे तो आपको ‘केस’ मिलेगा. चुनाव आते ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर पुराने मामले दर्ज कर जेल में डाल दिया जाता है. इसके खिलाफ हम सड़क पर हैं.

Also Read: WB : दिलीप घोष ने ममता बनर्जी पर कसा तंज कहा, सीएम की सद्भावना रैली में कोई हिंदू नहीं होगा शामिल

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें