27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Gangasagar Mela 2023: गंगासागर मेले का भव्य उद्घाटन, पुण्य स्नान से पहले ही जुटने लगे श्रद्धालु

मेले में इस वर्ष इस्कॉन के भक्तों का उत्साह दर्शनीय है. मेला प्रांगण में स्थानीय इस्कॉन संस्था की ओर से रंग-बिरंगी झांकी निकाली गयी. जिसमें कई कृष्ण भक्त महिलाओं ने नृत्य किया.

गंगासागर मेले का आगाज हो गया है. प्रशासन एक के बाद एक अपनी विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन कर रहा है. बुधवार को जीबीडीए की पहल पर आयोजित गंगासागर मेले में ग्रीन मेले का उद्घाटन किया है. इसका उद्देश्य मेला को प्लास्टिक व कचरा मुक्त बनाना है, ताकि मेले के बाद गंगासागर में किसी भी तरह का जल प्रदूषण न हो. हजारों की संख्या में महिलाओं ने ढाक व पारंपरिक नृत्य करते हुए ग्रीन गंगासागर मेले की शुरुआत की. रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का तीर्थयात्रियों ने जमकर लुत्फ उठाया.

इस्कॉन के भक्तों  में दिखा उत्साह

कोरोना महामारी के बाद हालात सामान्य होने पर सभी स्वयंसेवी संस्थाएं देश-विदेश से आ रहे तीर्थयात्रियों का स्वागत करने में जुट गयी हैं. मेले में इस वर्ष इस्कॉन के भक्तों का उत्साह दर्शनीय है. मेला प्रांगण में स्थानीय इस्कॉन संस्था की ओर से रंग-बिरंगी झांकी निकाली गयी. जिसमें कई कृष्ण भक्त महिलाओं ने नृत्य किया.

बाबूघाट सेवाग्राम में बनी नयी सड़क

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गंगासागर मेलें में हर प्रकार की व्यवस्था देने की बात करतीं हैं. मुख्यमंत्री का यह दावा हकीकत में दिखा भी. राज्य का पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारयों ने रातभर में बाबूघाट में नयी सड़क बनाकर तैयार कर दिया. पीच और कंक्रीट की सड़क बाबूघाट सेवाग्राम में फोर्ट विलियम के प्लासी गेट से लेकर मुख्य प्रवेश द्वार तक बनाया गया है. नयी सड़क बनने से तीर्थयात्रियों के साथ साधु-संत्तों ने भी मुख्यमंत्री के इस कार्य के लिए काफी सराहनी की.

तीर्थयात्रियों ने सीएम के कार्यों को सराहा

वाराणसी से आये एक साधु ने बताया कि बंगाल की मुख्यमंत्री जो कहती हैं, उसे करके भी दिखा देती हैं. मुख्यमंत्री ने कोलकाता से लेकर गंगासागर तक काफी बेहतरीन प्रबंध किया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ही प्रयास है कि आज गंगासागर एक बार नहीं बल्कि बार-बार लोग जा रहे हैं. उधर गंगासागर तीर्थयात्री संयुक्त समिति के अध्यक्ष तारकनाथ त्रिवेदी ने बताया कि सड़क बनने से तीर्थात्रियों को तो काफी लाभ होगा ही सेवा शिविरों को लगाने वाले संस्थाओं को भी इससे काफी लाभ होगा. पहले सड़क ठीक नहीं थी, लेकिन नयी सड़क बनने से वाहनों को कम हिचकोले खाने पड़ेंगे. उल्लेखनिय है कि सड़क बनाने का कार्य मंगलवार दोपहर से शुरू हुआ, जो बुधवार देर रात तक चला. मेला ग्राउंड में बन अत्याधुनिक मशीनों से बन रही सड़क तीर्थयात्रियों के लिए आकर्षण के केंद्र बनी रहीं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें