1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. agra
  5. case of physical assault of a teenager was registered after 7 days in agra sht

Agra News: आगरा में 7 दिन बाद दर्ज हुआ किशोरी के साथ दुष्कर्म का केस, बाल कल्याण समिति ने उठाया कदम

आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में नशे की हालत में मिली किशोरी के साथ दुष्कर्म की घटना के संबंध में 7 दिन बाद केस दर्ज किया गया है. फिलहाल, पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Agra
Updated Date
नाबालिग के साथ दुष्कर्म
नाबालिग के साथ दुष्कर्म
प्रतीकात्मक तस्वीर

Agra News: आगरा में 7 दिन पहले थाना सिकंदरा क्षेत्र में नशे की हालत में मिली 16 साल की किशोरी के साथ दुष्कर्म की घटना के संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया है. घटना के 7 दिन बीतने के बाद यह मुकदमा दर्ज किया गया है. जिसमें उसने अपने भाई और उसके दोस्त पर आरोप लगाए हैं. वहीं पुलिस का कहना है कि आरोपियों की तलाश की जा रही है और दुष्कर्म की पुष्टि के लिए मेडिकल कराया गया है. अब किशोरी की आयु की जांच के लिए एक मेडिकल और कराया जाएगा.

नशे की हालत में पड़ी मिली किशोरी

प्राप्त जानकारी के अनुसार, 30 अप्रैल की रात को पुलिस कंट्रोल रूम पर एक सूचना आई. जिसमें बताया गया कि आईएसबीटी के पास एक किशोरी नशे की हालत में पड़ी हुई है. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पुलिस ने चाइल्ड लाइन की मदद से किशोरी को आश्रय दिलाया. चाइल्ड लाइन ने उसे बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया और इसके बाद उसे वन स्टॉप सेंटर में भर्ती करा दिया.

भाई और दोस्त ने किया किशोरी के साथ दुष्कर्म

5 मई को थाना प्रभारी एएचटीयू ने किशोरी से जानकारी ली. इसमें पता चला कि किशोरी नाबालिक है और मेडिकल में उसके गर्भवती होने की पुष्टि हुई. किशोरी की काउंसलिंग कराई गई, जिसमें उसने बताया कि उसके भाई और दोस्त ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए हैं.

महिला किशोरी को भेजती थी लोगों के पास

सामाजिक कार्यकर्ता नरेश पारस ने बताया कि, चाइल्डलाइन की काउंसलिंग में किशोरी ने बताया है कि उसका भाई उसका शारीरिक शोषण करता है. इस कारण वह घर में रहना पसंद नहीं करती. वहीं किशोरी ने बताया कि एक महिला उसे लोगों के पास भेजती है, और वह लोग उसे जंगल और होटलों में ले जाया करते थे.

बाल कल्याण समिति के आदेश पर दर्ज हुआ केस

नरेश पारस ने बताया कि किशोरी 7 दिन से आश्रय गृह में रह रही है. उसने काउंसलिंग में घटना की जानकारी दी. उसके बावजूद भी पुलिस द्वारा उसका मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था. इस मामले को लेकर नरेश पारस ने शनिवार को प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री कार्यालय, महिला बाल विकास और डीजीपी को ट्वीट किया था, और ट्वीट में पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज ना करने के बारे में भी लिखा था. जिसके बाद बाल कल्याण समिति के आदेश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है.

आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

थाना सिकंदरा प्रभारी निरीक्षक बलवान सिंह के अनुसार, शनिवार को पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है इसमें दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है. पीड़िता ने अपने भाई और एक दोस्त पर आरोप लगाए है जिनकी तलाश की जा रही है. वहीं किशोरी का मेडिकल लेडी लॉयल में कराया जा चुका है. किशोरी की उम्र की जानकारी के लिए उसका एक बार और मेडिकल कराया जाएगा. उन्होंने बताया कि युवती जिस स्थान पर मिली थी वहां पर भी पूछताछ की जाएगी, और आरोपियों को चिन्हित कर उन पर कार्रवाई की जाएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें