1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. durga puja 2020 since independence durga puja is held here in jharkhand with government money corona period social distancing gur

Durga Puja 2020 : आजादी के बाद से झारखंड में यहां सरकारी पैसे से होती है दुर्गा पूजा, कोरोना काल में सोशल डिस्टैंसिंग के साथ आयोजन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Durga Puja 2020 : खरसावां में सरकारी स्तर पर होती है दुर्गा पूजा
Durga Puja 2020 : खरसावां में सरकारी स्तर पर होती है दुर्गा पूजा
प्रतीकात्मक तस्वीर

Durga Puja 2020 : खरसावां (शचींद्र कुमार दाश) : झारखंड में दुर्गा पूजा की तैयारी की जाने लगी है. पूजा समितियों की बैठकें होने लगी हैं. कोरोना काल में सोशल डिस्टैंसिंग समेत अन्य गाइडलाइन का पालन कर आयोजन किया जायेगा. झारखंड के सरायकेला-खरसावां जिले के खरसावां में आजादी के बाद से सरकारी पैसे से दुर्गा पूजा का आयोजन किया जाता है. इस बार अब तक इस मद में आवंटन नहीं मिल सका है.

देश की आजादी के बाद सरकारी स्तर पर खरसावां में विभिन्न पूजा व धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन हो रहा है. दुर्गा पूजा का आयोजन भी सरकारी स्तर पर किया जाता है. 1947 को देश आजाद होने के बाद खरसावां समेत तमाम देसी रियासत का विलय भारत गणराज्य में कर दिया गया. उस वक्त खरसावां के तत्कालीन राजा श्रीरामचंद्र सिंहदेव ने राज्य सरकार से मर्जर एग्रीमेंट कर खरसावां में आयोजित होने वाले दस पूजा व धार्मिक अनुष्ठानों के आयोजन की जिम्मेवारी सरकार को सौंपते हुए करार किया था. तभी से यहां होने वाले पूजा का सारा खर्च राज्य सरकार उठाती है. पिछले वर्ष साढ़े पांच लाख रुपये का आवंटन मिला था. इस वर्ष अब तक आवंटन नहीं मिला है.

खरसावां में सरकारी दुर्गा पूजा को लेकर आज पूजा समिति की बैठक बीडीओ मुकेश मछुआ की अध्यक्षता में हुई. इसमें दुर्गा पूजा के संबंध में सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए पूजा करने का निर्णय लिया गया.

बीडीओ मुकेश मछुआ ने बताया कि दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर अभी तक कोई गाइनलाइन नहीं आयी है. सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार ही दुर्गा पूजा आयोजित की जायेगी. उन्होंने बताया कि पूजा को लेकर पहले से ही तैयारी शुरु कर दी गयी है. दुर्गा पूजा पूरी सादगी के साथ मनायी जायेगी. सोशल डिस्टैंसिंग का पूरा ख्याल रखा जायेगा.

पूजा मद में इस वर्ष अंचल कार्यालय को आवंटन नहीं मिला है. इस वर्ष साढ़े छह लाख रुपये के आंवटन की मांग की गयी है. पूजा को लेकर मंदिर की रंगाई और मूर्ति निर्माण का निर्देश दिया गया. पिछले वर्ष सरकारी स्तर पर की जाने वाली दुर्गा पूजा में 93 हजार रुपये खर्च किये गये थे. इस राशि से मूर्ति निर्माण से लेकर पूजा सामाग्री की खरीदारी, सजावट, लाइटिंग आदि की व्यवस्था की गयी थी. इस बार दुर्गा पूजा का आयोजन 22 से 26 अक्टूबर तक किया जायेगा. इस बैठक में एसआई वाल्टर कुजूर, सदस्य गोवर्धन राउत, नयन नायक, मानिक सिंहदेव, नंदु पांडेय, हाबु षाडंगी आदि उपस्थित थे.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें