23.1 C
Ranchi
Friday, March 1, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

13 आदिम जनजाति परिवार से राशन कार्ड बनाने के नाम पर वसूली, सोशल ऑडिट की जनसुनवाई में लाभुकाें को मिले पैसे

jharkhand news: लातेहार के बरवाडीह ब्लॉक परिसर में सोशल ऑडिट की जनसुनवाई हुई. इस जनसुनवाई में 31 मुद्दों पर चर्चा हुई. वहीं, राशन कार्ड बनाने के नाम पर आदिम जनजाति परिवार से हजारों रुपये वसूले गये. लेकिन, इस जनसुनवाई में लाभुकों के पैसे लौटाये गये.

Jharkhand news: लातेहार जिला अंतर्गत बरवाडीह प्रखंड कार्यालय के सभागार में सोमवार को आदिम जनजाति डाकिया योजना का प्रखंड स्तरीय सोशल ऑडिट की जनसुनवाई का आयोजन किया गया. इस जनसुनवाई के तहत आदिम जनजाति परिवार से राशन कार्ड बनाने के नाम पर वसूले गये 38 हजार रुपये लाभुकों को लौटाये गये. साथ ही 31 अन्य मुद्दों पर भी चर्चा हुई.

जनसुनवाई में बताया गया कि बरवाडीह प्रखंड के चुंगरु पंचायत में जन वितरण प्रणाली के दुकानदार राजेश कुमार और सीएसपी संचालक विजय कुमार द्वारा साक्ष्य के आधार पर बताया गया कि पंचायत के 13 आदिम जनजाति परिवारों से राशन कार्ड बनाने के नाम पर एक साल के अंतराल में 38 हजार रुपये वसूले गये.

इसमें बबीता देवी से 2500, किरण कुमारी से 3800, अनीता देवी से 3700, करमी देवी 2700, पचनी देवी से 3000, सरिता देवी से 3800, मीना देवी से 1500, फुलमनिया देवी से 3700, अनिमा देवी से 2000, सरिता देवी से 3750, मालती देवी से 3700, रूदवा देवी से 3500, अनिता देवी से 3700 और सालो देवी से 3600 रुपये राशन कार्ड बनाने के नाम पर लिये गये हैं.

Also Read: ST समुदाय के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने में जुटी हेमंत सरकार, लोन दिलाने को लेकर बैंकर्स के साथ की बैठक

जनसुनवाई में जन वितरण प्रणाली के दुकानदार व सीएससी सेंटर संचालक को लाभुकों से लिए गये रुपयों को वापस करने का आदेश दिया गया. जन सुनवाई के बाद सभी पीटीजी सदस्यों को राशि लौटायी गयी. इसके अलावा सुनवाई में 80 वर्षीय तीन सदस्यों की तत्काल पेंशन स्वीकृत किया गया. वहीं, जनसुनवाई में मृत व्यक्तियों का नाम हटाने और उसके स्थान पर उसके परिवार के अन्य सदस्यों का नाम जोड़ने तथा राशन कार्ड से वंचित लोगों को चिह्नित कर राशन कार्ड बनाने की स्वीकृति दी गयी.

जनसुनवाई में तीन मामलों का निष्पादन नहीं होने के कारण जिला स्तरीय जनसुनवाई के लिए अग्रसारित कर दिया गया. इनमें डाकिया योजना से जुड़े स्वंय सहायता समूह की महिलाओं का बकाया मानदेय व पैकेट में वजन नहीं अंकित करने का मामला शामिल है. 6 घंटे से अधिक समय तक चली इन जनसुनवाई में 27 मामलों का निष्पादन किया गया.

इस जनसुनवाई में बतौर ज्यूरी सदस्य प्रखंड प्रमुख सुशीला देवी, बीडीओ राकेश सहाय, सामाजिक संस्था के सदस्य मिथिलेश कुमार, आदिम जनजाति सदस्य सुरेंद्र परहिया, JSLPS की मुन्नी देवी समेत पंचायतों के मुखिया उपस्थित थे. जनसुनवाई का उदघाटन अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर किया.

Also Read: Jharkhand News:निशिकांत दुबे ने झारखंड में क्यों की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग,हेमंत सरकार पर लगाया ये आरोप

वहीं, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी अनुज कुमार शरण ने सोशल ऑडिट टीम के द्वारा उठाये गये सवालों का क्रमवार जवाब भी दिया. इस मौके पर ज्यूरी सदस्यों के अलावा सामाजिक कार्यकर्ता कन्हाई सिंह, कुमार संजय सिन्हा, विवेक कुमार सिंह, पंसस मंसूर आलम, राजेश्वर सिंह व डॉ प्रमोद कुमार आदि उपस्थित थे.

Posted By: Samir Ranjan.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें