24.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Bihar News: सक्षमता परीक्षा में तीन बार फेल होने पर नियोजित शिक्षकों का क्या होगा? केके पाठक करेंगे तय

जो नियोजित शिक्षक तीन प्रयासों में भी सक्षमता परीक्षा पास नहीं होते या शामिल नहीं होते, उनके लिए आगे क्या प्रावधान होने चाहिए? इस पर विचार करने के लिए यह कमेटी बनाई गई है.

बिहार के लाखों नियोजित शिक्षकों को जल्द राज्यकर्मी का दर्जा मिलेगा. इसके लिए शिक्षकों को एक सक्षमता परीक्षा पास करनी होगी. इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. ऑनलाइन आवेदन की आखिरी तिथि 15 फरवरी है. परीक्षा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से 26 फरवरी से 13 मार्च तक ली जाएगी. नियोजित शिक्षकों को सक्षमता परीक्षा पास करने के लिए तीन मौका दिया जाएगा. सक्षमता परीक्षा में तीन अवसर में भी उत्तीर्ण नहीं होने वाले अथवा इसमें शामिल नहीं होने वालों के लिए आगे क्या प्रावधान होगा? क्या उनकी नौकरी बचेगी या नहीं. इस पर विचार करने के लिए शिक्षा विभाग ने अपर मुख्य सचिव केके पाठक की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की है.

कमेटी एक सप्ताह के अंदर अपनी अनुशंसा सरकार को देगी

जानकारी के मुताबिक यह कमेटी एक सप्ताह के अंदर अपनी अनुशंसा सरकार को देगी. कमेटी के गठन का आदेश विभाग ने गुरुवार को जारी कर दिया है. कमेटी में पांच सदस्य हैं. जिसमें बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष, निदेशक प्राथमिक शिक्षा, निदेशक राज्य शिक्षा शोध एवं प्रशिक्षण परिषद तथा निदेशक माध्यमिक शिक्षा सदस्य बनाये गये हैं. केके पाठक की अध्यक्षत में सभी सदस्य मिलकर निर्णय लेंगे.

समिति की अनुशंसा पर नियमावली में होगा संशोधन

आधिकारिक जानकारी के मुताबिक विशिष्ट शिक्षक नियमावली में इस बात का प्रावधान किया गया था कि अगर नियोजित शिक्षक सक्षमता परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हो पाते हैं तो उनके मामले पर विचार करने के लिए एक समिति का गठन किया जाएगा. यह कमेटी जो भी अनुशंसा करेगी. उस अनुशंसा से स्थानीय निकाय शिक्षक नियमावली उसी हद तक संशोधित समझी जायेगी.

नियोजित शिक्षकों में चिंता

सक्षमता परीक्षा के फैसले के बाद से नियोजित शिक्षकों में चिंता बढ़ गयी है कि जो लोग इस परीक्षा में सफल नहीं होंगे, उनका क्या होगा. क्या उसकी नौकरी चली जायेगी? इसी बात पर विचार करने के लिए कमेटी का गठन किया गया है.

आवेदन शुरू

नियोजित शिक्षकों को पहले ही दिशा-निर्देश मिल चुका है. जिसमें कहा गया था कि सक्षमता परीक्षा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित की जायेगी. परीक्षा में 9वीं से 10वीं में 19 विषयों और 11वीं से 12वीं में 31 विषयों की परीक्षा होगी. इस परीक्षा में 150 वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जायेंगे. इसके लिए एक फरवरी से आवेदन शुरू हो चुका है.

आवेदन के समय इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

  • आधार कार्ड

  • नियोजन पत्र

  • शैक्षणिक / प्रशैक्षणिक / टीईटी / दक्षता का सर्टिफिकेट

  • फोटो और हस्ताक्षर

  • दिव्यांगता और आरक्षण से संबंधित प्रमाण पत्र

  • इसके अतिरिक्त नियोजन इकाई का प्रकार , वर्तमान नियोजन इकाई , शिक्षक का प्रकार एवं विषय जिसमें नियुक्ति हुई है और नियोजन पत्र की संख्या और तारीख की जानकारी देनी है

  • र्तमान स्कूल का UDISE कोड, नाम , ब्लॉक और जिला की जानकारी देनी है

  • पोस्टिंग के लिए तीन जिलों का ऑप्शन दिया गया है जिसे सेलेक्ट करना होगा

Also Read: बिहार के नियोजित शिक्षक सक्षमता परीक्षा का करेंगे बहिष्कार, नहीं भरेंगे आवेदन फॉर्म, जानें क्यों हैं नाराज

ऑनलाइन फॉर्म में री-व्यू का भी दिया जायेगा ऑप्शन

सक्षमता परीक्षा के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने में शिक्षक अभ्यर्थियों को त्रुटियों में सुधार के लिए री-व्यू का भी ऑप्शन दिया जायेगा. अलग-अलग आठ स्टेप में फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी करने के बाद अभ्यर्थियों को री-व्यू बटन का ऑप्शन दिया जायेगा. री-व्यू बटन के माध्यम से अभ्यर्थी अपनी त्रुटियों को देखकर सुधार कर सकते हैं.

Also Read: बिहार के नियोजित शिक्षक बनेंगे राज्यकर्मी, सक्षमता परीक्षा के लिए आवेदन कल से, 59 विषयों का होगा एग्जाम

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें