17.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पटना और पूर्णिया में सिंघानिया ग्रुप के पांच ठिकानों पर आयकर की छापेमारी

मंगलवार को सिंघानिया ग्रुप के चार राज्यों के 29 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की. इसके दायरे में शामिल 29 में से 20 ठिकाने झारखंड में हैं, जबकि शेष ठिकाने बिहार, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश में हैं. बिहार में पटना और पूर्णिया में छापेमारी की गयी है.

पटना. आयकर विभाग की अनुसंधान शाखा की टीम ने मंगलवार को सिंघानिया ग्रुप के चार राज्यों के 29 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की. इसके दायरे में शामिल 29 में से 20 ठिकाने झारखंड में हैं, जबकि शेष ठिकाने बिहार, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश में हैं. बिहार में पटना और पूर्णिया में छापेमारी की गयी है. पटना में एग्जीबिशन रोड,बोरिंग रोड, करबिगहिया और वाइपास स्थित गोदाम पर छापेमारी की गयी.

कंप्यूटर समेत दूसरे दस्तावेज जब्त

वहीं, पूर्णिया के गुलाबाग मंडी स्थित उसके कार्यालय पर भी दबिश दी गयी है. इसके मालिक जय प्रकाश सिंघानिया हैं. आयकर विभाग के सूत्रों का कहना है कि पटना में उनके कार्यालय से कंप्यूटर समेत दूसरे दस्तावेज जब्त किये गये हैं. वहीं, आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी के दौरान मिले कागजात की जांच कर रही है.

सेंट्रल जीएसटी से भी मिली थी इनपुट

आयकर विभाग के सूत्रों का कहना है कि जीएसटी रिटर्न और आयकर रिटर्न का मिलान आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से करवाया जा रहा है. जिसमें भारी अंतर मिला. इसके आधार पर सेंट्रल जीएसटी विभाग ने सिंघानिया ग्रुप के बार में आयकर को इनपुट दिया था.उसके बाद आयकर विभाग ने सिंघानिया समूह द्वारा अपनी वास्तविक व्यापारिक गतिविधियां छिपा कर आयकर की चोरी करने से संबंधित सूचनाओं की पुष्टि के बाद यह कार्रवाई की है.

Also Read: बिहार घूमने आये देश दुनिया से रिकार्ड 6.74 करोड़ पर्यटक, मेजबानी में बोध गया से आगे निकला राजगीर

सिंघानिया समूह के चार्टर्ड अकाउंटेंट फर्म पर भी छापा

आयकर विभाग ने छापामारी के दायरे में सिंघानिया समूह के चार्टर्ड अकाउंटेंट फर्म ‘देवकी विजय एंड कंपनी’ को भी शामिल किया है. इस सीए फर्म का कार्यालय भी रांची के अपर बाजार के मैकी रोड स्थित एक व्यापारिक भवन में है. इस सीए फर्म से जुड़े लोगों के ठिकानों पर भी छापेमारी की गयी है. आयकर विभाग ने सिंघानिया ग्रुप से जुड़े जमशेदपुर स्थित तीन ठिकानों को भी छापेमारी के दायरे में शामिल किया है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें