30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार में ठंड ने 64 साल के रिकॉर्ड को तोड़ा, इस तारीख के बाद से पटना-भागलपुर-गया में बदलेगा मौसम का रुख

मौसम विभाग ने शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी करते हुए बताया है कि अगले 5 दिनों तक फिलहाल ठंड से राहत नहीं मिलेगी. अगले 48 घंटे तक राज्य के अधिकतर जिलों में घने कोहरे छाए रहने की संभावना जताई गई है.

पटना: बिहार में शरीर गलाने वाली ठंड से लोगों का जीना मुहाल हो गया है. पछुआ हवा से प्रदेश में कनकनी बढ़ रही है. आज से और पारा गिरने की भी संभावना जताई गई है. डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मौसम वेधशाला में उपलब्ध आंकड़े के अनुसार, जनवरी में अधिकतम तापमान का आकलन देखा जाए तो उत्तर बिहार में गुरुवार के दिन में अधिकतम तापमान सबसे कम रिकॉर्ड किया गया.

64 साल का रिकॉर्ड टूटा

केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मौसम वैज्ञानिक डॉ गुलाब सिंह ने बताया कि आंकड़ों के अनुसार, साल 1960 से लेकर साल 2023 तक अधिकतम तापमान सबसे कम रहा है. अर्थात, उत्तर बिहार में पिछले 64 सालों में सबसे कम अधिकतम तापमान जनवरी का आज दर्ज किया गया है.

मौसम विभाग ने शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी किया

मौसम विभाग ने शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी करते हुए बताया है कि अगले 5 दिनों तक फिलहाल ठंड से राहत नहीं मिलेगी. अगले 48 घंटे तक राज्य के अधिकतर जिलों में घने कोहरे छाए रहने की संभावना जताई गई है. आपदा विभाग ने भी लोगों से ठंड में सावधानी बरतने की अपील की है और कहा है कि फिलहाल 15 जनवरी तक कड़ाके की ठंड से निजात नहीं मिलेगी. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, आगामी 9 जनवरी के बाद से बिहार में ठंड में कमी का अनुभव होने लगेगा.

फारबिसगंज में 7 डिग्री तक पहुंचा न्यूनतम तापमान

बता दें कि बुधवार को राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान फारबिसगंज में 7 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. वहीं, पूरे प्रदेश में औसत न्यूनतम तापमान 9 से 10 डिग्री के बीच रिकॉर्ड किया गया है. 24 घंटे में पटना का अधिकतम तापमान 13.8 डिग्री दर्ज किया गया है. ये तापमान बीते पांच साल पहले दर्ज किया गया था.

मुजफ्फरपुर का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री के आसपास

मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले पांच दिनों तक इसी तरह से कोहरे के चपेट में बिहार के कई जिले रहेंगे. उधर, बीते 24 घंटे में मुजफ्फरपुर का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री के आसपास दर्ज किया गया है. बताया जा रहा कि बीते 26 सालों का यहां रिकॉर्ड टूट गया है. इतनी ठंड आखिरी बार 64 साल पहले पड़ी थी.

हवा से कनकनी बढ़ी

बिहार में ठंड की स्थिति ऐसी है कि राजधानी पटना सहित चार शहरों में अधिकतम तापमान 14 डिग्री से नीचे है. सुपौल, अररिया, मधेपुरा, किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार में दो दिनों तक अभी घने कोहरे की स्थिति रहेगी. गुरुवार को पटना में अधिकतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री नीचे 13.4 डिग्री पर पहुंच गया. शाम ढलते ही हवा से कनकनी बढ़ जा रही है.

ये पांच जिले कोल्ड-डे की चपेट में

मौसम विभाग ने भागलपुर में ठंड को देखते हुए भीषण शीत दिवस की चेतावनी दी है. गुरुवार की बात करें पूर्णिया, सबौर (भागलपुर), डेहरी (रोहतास), मोतिहारी (पूर्वी चंपारण) भी कोल्ड डे की चपेट में रहे. प्रदेश में सबसे कम तापमान फारबिसगंज में रहा. यहां गुरुवार को तापमान सात डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. सबसे अधिक पूसा में तापमान 11.8 डिग्री रहा.

इन शहरों का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से भी नीचे

समस्तीपुर, किशनगंज और वाल्मीकि नगर में 10 डिग्री, पूर्णिया और भागलपुर में 9.8 डिग्री, गया में 9.6, सबौर और पूर्वी चंपारण में 9.5, नवादा में 9.2, रोहतास और सीवान में 9 और शेखपुरा में 8.5 डिग्री न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड किया गया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें