24.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबिहारपटनाराहुल गांधी के बयान पर BJP हमलावर, सुशील मोदी बोले- नेहरू से राजीव गांधी तक पिछड़ा विरोधी रही कांग्रेस...

राहुल गांधी के बयान पर BJP हमलावर, सुशील मोदी बोले- नेहरू से राजीव गांधी तक पिछड़ा विरोधी रही कांग्रेस सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जाति को लेकर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उठाए गए सवाल पर भाजपा नेताओं ने जम कर हमला बोला है. सुशील मोदी, विनोद तावड़े, ऋतुराज सिन्हा समेत कई अन्य नेता राहुल गांधी पर हमलावर हुए.

पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जाति को लेकर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उठाए गए सवाल पर भाजपा नेताओं ने जम कर हमला बोला है. बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कहा कि प्रधान मंत्री मोदी की जाति पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले राहुल गांधी अब उनकी जाति को पिछड़ा वर्ग में शामिल करने के गुजरात की कांग्रेस सरकार के फैसले पर झूठा प्रचार कर रहे हैं.

कांग्रेस सरकार ने तेली घांची जाति को ओबीसी में शामिल किया था : सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि राहुल गांधी को पता नहीं है कि 25 जुलाई 1994 को गुजरात की कांग्रेस सरकार ने मंडल आयोग की रिपोर्ट के दबाव में तेली घांची जाति और उसकी उपजातियों को पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) में शामिल किया था. उस समय नरेंद्र मोदी किसी सरकारी पद पर नहीं थे. उन्होंने कहा कि बाद में चार अप्रैल 2000 को केंद्र सरकार ने तेली घांची जाति को ओबीसी की केंद्रीय सूची में शामिल किया. यह जाति अधिकतर राज्यों की पिछड़ा वर्ग सूची में है. बिहार की एनडीए सरकार ने तेली जाति को अतिपिछड़ा वर्ग में रखा है.

नेहरू से राजीव गांधी तक कांग्रेसी सरकारें पिछड़ा विरोधी रहीं : सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कांग्रेस का इतिहास पिछड़ा विरोधी रहा है. नेहरू से राजीव गांधी तक कांग्रेस आरक्षण विरोधी ही रही. नेहरू मानते थे कि आरक्षण देने से सरकारी सेवाओं का स्तर गिर जाएगा. यही कारण था कि केंद की कांग्रेस सरकारों ने काका कालेलकर समिति की रिपोर्ट खारिज की और मंडल आयोग की रिपोर्ट को 10साल तक दबाये रखा.

बेशर्मी से झूठ फैला रहे राहुल गांधी : तावड़े

वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सह बिहार प्रभारी विनोद तावड़े ने कहा कि राहुल गांधी द्वारा फिर एक बार फिर बेशर्मी से झूठ फैलाया जा रहा है. राहुल कहते हैं कि प्रधानमंत्री ओबीसी जाति में पैदा नहीं हुए थे और उनको ओबीसी का दर्जा मुख्यमंत्री बनने के बाद मिला. सच्चाई यह है कि नरेंद्र मोदी की जाति को ओबीसी का दर्जा उनके मुख्यमंत्री बनने से पहले ही 27 अक्टूबर, 1999 को मिल गया था. राहुल गांधी बार-बार जानबूझकर ओबीसी समाज को अपमानित कर रहे हैं. पूरा ओबीसी समाज मिलकर लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को सबक सिखायेगा.

राहुल गांधी खुद बताए उनकी जात क्या है : ऋतुराज सिन्हा

भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री ऋतुराज सिन्हा ने कहा कि जिनके घर शीशे के बने होते हैं, उन्हें दूसरे के घर पर पत्थर नही फेंकना चाहिए. राहुल जी स्वयं देश की जनता को बता दें कि वे खुद किस जाति से आते है? अगर जनता राहुल गांधी जी के जात पर प्रश्न उठाने लगेंगे तो फिर वे क्या जवाब देंगे?

ओबीसी आरक्षण का विरोधी रही है कांग्रेस : प्रभाकर मिश्र

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रभाकर कुमार मिश्र ने कहा कि कांग्रेस ने आरक्षण के मसले पर सिर्फ हवाबाजी की है. कांग्रेस कभी नहीं चाहती कि पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिले. नेहरू भी आरक्षण देने के पक्ष में नहीं थे. बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर नहीं होते, तो आरक्षण लागू नहीं होता. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोकसभा चुनाव के लिए विकास का एजेंडा सेट कर दिया है. एनडीए के सेट एजेंडे से विपक्ष अपसेट है.

Also Read: Bihar Politics: फ्लोर टेस्ट से पहले भाजपा विधायकों को बोधगया ले जाने की तैयारी, जानें क्या है वजह

क्या बोले राहुल गांधी

बता दें कि गुरुवार को राहुल गांधी की न्याय यात्रा ओडिशा के झारसुगुड़ा में थी. जहां उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि पीएम मोदी जन्म से पिछड़ा वर्ग से नहीं हैं, हमारे प्रधानमंत्री ने पूरे देश से झूठ बोला है कि वह पिछड़ा वर्ग से हैं. उनका जन्म पिछड़े वर्ग में नहीं हुआ, वे सामान्य जाति से हैं. ऐसे दावों से लोगों को गुमराह किया जा रहा है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें