1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar ayushman holders should be treated across the country health department share four models at the national level rdy

देश भर में बिहार के आयुष्मान धारकों का हो इलाज, स्वास्थ्य विभाग चार मॉडल को राष्ट्रीय स्तर पर करेगा साझा

देश के किसी भी अस्पताल में बिहार के आयुष्मान धारकों का इलाज हो सकें इसकी मांग बिहार स्वास्थ्य विभाग करेगा. चिंतन शिविर में शामिल होने के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत और कार्यपालक निदेशक संजय सिंह गुजरात के लिए रवाना हो गये हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
आयुष्मान भारत योजना
आयुष्मान भारत योजना
फाइल फोटो

पटना. स्वास्थ्य विभाग बिहार में किये गये अनूठे नवाचार को राष्ट्रीय स्तर पर साझा करने जा रहा है. देश के सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिवों, प्रधान सचिवों व राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशकों का तीन दिवसीय चिंतन शिविर गुरुवार से गुजरात के केवड़िया में हो रहा है. इस चिंतन शिविर में बिहार कोरोना महामारी के दौरान तैयार किये गये अपने चार मॉडलों व हेल्थ कार्ड से देश को अवगत करायेगा.

बिहार के लोगों को देश भर में मिले मुफ्त इलाज की सुविधा

चिंतन शिविर में शामिल होने के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत और कार्यपालक निदेशक संजय सिंह गुजरात के लिए रवाना हो गये हैं. बिहार सरकार की ओर से केंद्र सरकार से अनुरोध किया जायेगा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत राष्ट्रीय स्तर पर जितने भी सूचीबद्ध अस्पताल हैं वहां पर बिहार सरकार द्वारा उपलब्ध कराये गये हेल्थ कार्ड के माध्यम से बिहार के लोग जहां भी चाहें वहां पर मुफ्त इलाज की सुविधा मिल सके.

स्वास्थ्य विभाग के ये हैं चार मॉडल

डाक से कोरोना संक्रमितों को दवा का किट भेजे जाने की योजना की जायेगी साझा : गुजरात रवाना होने के पहले स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि कोविड महामारी के दौरान बिहार में संक्रमित मरीजों के बीच पोस्टऑफिस के माध्यम से दवा किट के वितरण के नवाचार की जानकारी राष्ट्रीय स्तर पर साझा की जायेगी.

आशा को अश्विन पोर्टल के माध्यम से मानदेय

राज्य की सभी आशा को अश्विन पोर्टल के माध्यम से मानदेय उनके खाते में पहुंचाने में सफलता पायी है.

घर-घर जाकर ट्रैकिंग

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने तीसरा नवाचार के रूप में होम आइसोलेशन ट्रैकिंग एप (हिट एप) तैयार किया है. इसके माध्यम से राज्य में जितने भी कोरोना संक्रमित हुए है उनकी घर-घर जाकर ट्रैकिंग की व्यवस्था की गयी है. इससे हर कोरोना संक्रमित की दैनिक स्वास्थ्य की मॉनीटरिंग की गयी. उन्होंने बताया कि इसके साथ ही विभाग ने कोविड टीकाकरण के लिए घर-घर सर्वे करा कर किस प्रकार से 100 प्रतिशत से टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की है. इसकी जानकारी भी दी जायेगी.

सभी लाभुकों का स्वास्थ्य बीमा हुआ सुनिश्चित

बिहार सरकार ने खाद्य सुरक्षा के सभी लाभुकों को आयुष्मान योजना के तहत पांच लाख तक बीमा की सुरक्षा प्रदान की है. बिहार में 80 लाख परिवार थे जिनको केंद्र सरकार के आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री योजना का लाभ नहीं मिल रहा था. बिहार सरकार ने खाद्य सुरक्षा के सभी लाभुकों को स्वास्थ्य बीमा सुनिश्चित करायी है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें