26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

PM नरेंद्र मोदी ने कहा, ”वाह” ”नीतीश बाबू” थ्री इडियट

सीतामढी : बिहार में तीसरे चरण के चुनाव के एक दिन पहले आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीतामढी की धरती से महागंठबंधन पर जोरदार हमला किया. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद और नीतीश कुमार में इन दिनों मनोरंजन करने की होड़ मच गयी है. कल नीतीश ने अपने कुछ पत्रकार साथियों और अपने लोगों को […]

सीतामढी : बिहार में तीसरे चरण के चुनाव के एक दिन पहले आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीतामढी की धरती से महागंठबंधन पर जोरदार हमला किया. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद और नीतीश कुमार में इन दिनों मनोरंजन करने की होड़ मच गयी है. कल नीतीश ने अपने कुछ पत्रकार साथियों और अपने लोगों को बैठाकर मुशायरा किया. मोदी ने कहा कि मैं आपको बता देना चाहता हूं कि इस महा स्वार्थबंधन में तीन पार्टियां हैं और नीतीश बाबू ने फिल्म थ्री इडियट का गाना गाया. वाह नीतीश बाबू वाह क्या बात है.

सीतामढी की जनता को संबोधित करते हुए नरेद्र मोदी ने कहा कि आज का दिन मेरे लिए और हमसब के लिए एक सौभाग्य का दिवस है क्योंकि मैं आज माता सीता की जन्मस्थली पहुंचा हूं और आज ही बाल्मिकी जयंती है. ऐसा सौभाग्य शायद ही किसी को मिलता होगा. मेरा सौभाग्य है कि मैं आपका सेवक हूं.

मोदी ने कहा कि दिल्ली में हम सत्ता सुख भोगने के लिए नहीं हैं. 16 म‍हीने में मैंने एक दिन भी छुट्टी नहीं ली है. यह मेरे लिए सेवा युग है. मैं शरीर का कण-कण और समय का पल-पल आकी सेवा में खपा देना चाहता हूं. सेवा टीवी या अखबार पर आए या नहीं आए लेकिन यहां देखकर मेरी मेहनत की सुगंध का पता चल रहा है. मोदी ने कहा कि यह चुनाव विधायक चुनने के लिए केवल नहीं है. यह चुनाव बिहार के भग्य का चुनाव है. निर्णय आपको करना है कि आप अपना भविष्‍य किसको सौंपना चाहते हैं.

पीएम ने कहा कि बिहार का भाग्य केवल विकास बदल सकता है और हम विकास आपके पास लेकर आए हैं. इस चुनाव में एक ओर विकासराज का मंत्र है तो दूसरी ओर अवसरवाद की गूंज है. एक अपवित्र गंठबंधन का है जो विकास को नकार रहा है. आज हमें समस्याओं से मुक्ति चाहिए. आपका भग्य एक ही जड़ी -बूटी कर सकता है वह है विकास. महागंठबंध के द्वारा हमपर गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं क्योंकि उनको पराजय सामने दिख रहा है इसलिए वे ऐसा कर रहे हैं.

मोदी ने कहा कि महास्वार्थ बंधन के लोगों का लोकतंत्र पर विश्‍वास नहीं है. वे समझ गए हैं कि जनता ने उन्हें बाय-बाय कर दिया है. अपको मैं बता दूं कि कितना भी पढ़ा लिखा व्यक्ति क्यों न हो बीमारी ठीक नहीं होती है तो वह मंत्र-तंत्र का सहारा लेने लगता है लेकिन अब इस महास्वार्थ बंधन की बीमारी को मंत्र-तंत्र भी नहीं बचा सकता है. उनके पाप जंतर-मंतर से नहीं धूल सकते है. वे जान लें कि जंतर-मंतर से रोजगार, बिजली, किसान को पानी नहीं मिल सकता है. मोदी ने कहा कि अहंकार आदमी को कहां ले जाता है. वे लालू और सोनिया के शरण में चले गए. ऐसा इसलिए क्योंकि वह खुद को बचाना चाहते हैं. इतना करने से भी कुछ नहीं हुआ तो वे जंतर-मंतर करने लगे. मोदी ने कहा कि जनता को मंत्र-तंत्र नहीं लोकतंत्र चाहिए. वे बिहार को 18 वीं सदी में लेकर जा रहे हैं लेकिन जनता 21 वीं सदी में जाना चाहती है.

लालू पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार को मनोरंजन का मौका मिल रहा है. इनदिनों लालू और नीतीश में प्रतिस्पर्धा चल रही है. दोनों में मनोरंजन में भी प्रतिस्पर्धा चल रही है. कल नीतीश मुशायरा कर रहे थे. कुछ अपनों को बुलाकर वे मुशायरा कर रहे थे. उनके मुशायरा पूरा होने के पहले ही लोग ठहाके लेने लगते थे. आपको मैं बता दूं कि इस महास्वार्थ बंधन में तीन पार्टी है और कल नीतीश ने थ्री इडियट का गाना सुनाया. वाह नीतीश बाबू मनोरंजन का नया तरीका अच्छा है. ठीक है कुछ दिन बचे हैं कर लीजिए आगे आपको यही करना है.

मोदी ने कहा कि मैंने लोस चुनाव के पहले मैंने 50 हजार करोड़ का वादा किया था लेकिन हमने 165 हजार करोड़ दिया. इससे बिहार आगे बढेगा. मैंने बिहार के लिए छह सूत्री कार्यक्रम बनाया है. पहला तीन सूत्री कार्यक्रम है बिजली, पानी और सड़क है. उन्होंने वहां मौजूद जनता से पूछा क्या आज बिजली आ रही है? मोदी ने बिहार में बिजली का मजाक उड़ाते हुए कहा कि आज ट्रेन में बैठे मुसाफिर बिजली की बात करते हुए कहते हैं कि क्या आपके यहां बिजली आई थी कोई कहता है मंगल को आई थी कोई कहता है एक सप्ताह से नहीं आई है. नीतीश कुमार ने बिजली पर वादा किया था जो उसे भूल गए हैं. वे अपना वादा भूलकर फिर वोट मांगने आ गए हैं.

मोदी ने कहा राजनीति में विश्‍वासघात के लिए जगह नहीं है. हम 2019 तक बिहार के हर गांव में बिजली पहुंचाना चाहते हैं और 2022 तक हर घर में बिजली पहुंचायेंगे. खेतों में पानी पहुचाना हमारा लक्ष्‍य है जिससे गांव के लोग मिट्टी से सोना पैदा कर सकेंगे. ऐसा किया गया तो किसान का भाग्य बदलेगा. सड़क का हाल हमारी सरकार आई तो बदल दिया जाएगा. अन्य तीन सूत्री कार्यक्रम पढाई, कमाई और दवाई है. उन्होंने कहा कि हर गरीब के बेटों को पढाई करने के लिए प्रोत्साहित करना है. कमाई होगी तो यहां से पलायन रुकेगा और दवाई मिलेगी तो बिहार के बुजुर्गों को फायदा मिलेगा.

मोदी ने कहा कि 700 करोड़ रुपये का पैकेज हमने 400 किमी सड़क के लिए सीतामढ़ी को दिया है. 260 करोड़ रुपये बिजली के लिए हमने बिहार को देंगे. लेकिन लालू और नीतीश खेल बिगाड़ने वाले हैं. यदि हमने 1 लाख 65 हजार करोड़ उनको दिए होते तो वह बैंक में सड़ रहा होता. हमने उन्हें बिहार के विकास के लिए पैसा भेजा है जो अभी भी बैंक में पड़े हैं. उन्हें काम करना नहीं आता है. वह काम करने के लिए खुद का ठेकेदार खोजते हैं.

मोदी ने जनता से अपील की कि तीसरे चरण के चुनाव में पिछले मतदान का रिकार्ड तोड़ दें. आपको बता दें कि सीतामढ़ी में चौथे चरण में चुनाव होना है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार में आज तीन चुनाव सभाओं को संबोधित करेने वाले हैं. यहां के बाद वे 1:40 बजे बेतिया और 3:15 बजे मोतिहारी में रैली को संबोधित करेंगे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें