17.8 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

मसौढ़ी उपकारा में बंदी की मौत, हंगामा

मृतक के परिजनों ने पुलिस पर लगाया पिटाई का आरोप मसौढ़ी : स्थानीय उपकारा में रविवार की सुबह 45 वर्षीय बंदी की मौत हो गयी. खबर मिलते ही अनुमंडल व जेल प्रशासन के अधिकारी उपकारा पहुंचे. इधर, मृत बंदी के परिजन भी उपकारा पहुंचे और उसकी मौत का कारण पुलिस की पिटाई बताते हुए चार […]

मृतक के परिजनों ने पुलिस पर लगाया पिटाई का आरोप

मसौढ़ी : स्थानीय उपकारा में रविवार की सुबह 45 वर्षीय बंदी की मौत हो गयी. खबर मिलते ही अनुमंडल व जेल प्रशासन के अधिकारी उपकारा पहुंचे. इधर, मृत बंदी के परिजन भी उपकारा पहुंचे और उसकी मौत का कारण पुलिस की पिटाई बताते हुए चार घंटे तक जेल के बाहर हंगामा किया. घटना के खिलाफ उपकारा में बंद अन्य बंदियों ने जेल में हंगामा किया. बाद में घंटों प्रयास के बाद समझा-बुझा कर व घटना की न्यायिक जांच समेत अन्य आश्वासन देकर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेजा.

जानकारी के मुताबिक भगवानगंज थाना के देवरिया गांव का पुनदेव चौधरी उपकारा में बंद था. उसकी मौत रविवार की सुबह में हो गयी. बंदियों के मुताबिक वह सुबह में उठ कर नित्य क्रिया से निवृत्त हुआ था कि अपने वार्ड में अचानक गिर पड़ा और बेहोश हो गया. उसे अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया. जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इसकी खबर मिलते ही अनुमंडल व उपकारा प्रशासन के अधिकारी उपकारा पहुंचे. मौके पर केंद्रीय कारा , बेऊर के काराधीक्षक शिवेंद्र प्रियदर्शी भी उपकारा पहुंचे.

इधर, खबर पाकर पुनदेव चौधरी के परिजन भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने उपकारा के बाहर जम कर हंगामा करना शुरू कर दिया. उपकारा के भीतर भी अन्य बंदी हंगामा करने लगे. परिजनों ने कई बार ईंट लेकर जेल गेट पर तैनात सिपाही को निशाना बनाना चाहा. घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद भाकपा (माले) के सहयोग से मामले को किसी प्रकार शांत किया जा सका. एसडीओ चंद्रशेखर प्रसाद सिंह व अपर पुलिस अधीक्षक राशिद जमां ने उपकारा के बाहर आकर मृतक के परिजनों को पारिवारिक लाभ योजना के तहत तत्काल बीस हजार रुपये बतौर मुआवजा दिया.

इसके अलावा इंदिरा आवास देने, मृतक के बच्चों की पढ़ाई में सहयोग देने, पूरे घटना की न्यायिक जांच करा कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करने व उनके द्वारा लगाये गये आरोप के आलोक में दो पुलिस पदाधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आश्वासन दिया. इसके बाद ही पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज सकी. इधर , बेऊर जेल के काराधीक्षक शिवेंद्र प्रियदर्शी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. एसडीओ चंद्रशेखर प्रसाद सिंह ने बताया कि जिला पदाधिकारी, जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीश से किसी न्यायिक दंडाधिकारी से जांच कराने की मांग करेंगे और दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. साथ ही शव का पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड से कराया जायेगा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें