Advertisement

madhubani

  • Oct 5 2019 1:40AM
Advertisement

आज खुलेगा पट, मां कात्यायनी की हुई आराधना

 मधुबनी : आज खुलेगा मां दुर्गा का पट. जिसको लेकर जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों के पूजा पंडालों व दुर्गा मुदिरों में तैयारी पूरी कर ली गयी है. शुक्रवार को जिला सहित ग्रामीण क्षेत्रों में शारदीय नवरात्र के छठे दिन मां दुर्गा की छठे स्वरूप देवी कात्यायनी की श्रद्धापूर्वक पूजा-अर्चना की गयी. मां कात्यायनी की जयकारे व दुर्गा सप्तशती के पाठ से मंदिर व पूजा पंडाल गूंजायमान हो उठा.

शास्त्रों में कहा गया है कि देवी कात्यायनी सदा भक्तों व साधकों के वश मे रहती है. निष्ठा पूर्वक की गयी देवी कात्यायनी की आराधना कभी निष्फल नहीं होता. शारदीय नवरात्र में मां कात्यायनी की पूजा-अर्चना करने से भक्तों की सारी मनाकामनाएं उनके आशीर्वाद से पूरी हो जाती है. श्रद्धालु नर-नारियों ने इसी भावना से वशीभूत होकर देवी कात्यायनी की आराधना की. 

पूरी हुई प्रतिमा निर्माण का काम

दुर्गा मंदिरों व पूजा पंडालों में देवी दुर्गा व अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमा को अंतिम रूप देने का काम मूर्तिकारों ने पूरा कर लिया है. मां दुर्गा सहित अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमा को आकर्षक तरीके से सजाने का काम भी पूरा कर लिया गया है. शनिवार को मां दुर्गा की प्रतिमा में प्राण-प्रतिष्ठा देकर मां की पूजा-अर्चना की जाएगी.

बेलन्योति में शामिल हुए श्रद्धालु

छठे दिन पारंपरिक तरीके से बेलन्यौती की रस्म पूरी की गयी. जुलूस की शक्ल में गाजे-बाजे के साथ सैकड़ों श्रद्धालु बेलन्यौती में शामिल हुए. पंडितों ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ बेलन्यौती की रस्म पूरी करायी. इसी निमंत्रित बेल के लस्से से शनिवार को देवी दुर्गा की प्रतिमा में ज्योति प्रदान कर प्राण-प्रतिष्ठा दी जाएगी. फिर मां दुर्गा की विशेष पूजा अर्चना कर आम दर्शनार्थियों के लिए मां का पट खोला जाएगा.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement