18.8 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Indian Army Day 2024: भारतीय सेना में भविष्य की राहें हैं कई

Indian Army Day 2024, Career in Indian Army: देश में भर में आगामी 15 जनवरी को 76वां भारतीय सेना दिवस मनाया जायेगा. यह दिन भारतीय थल सेना की वीरता, शौर्य और शहादत को याद करने का दिन है. सेना दिवस से ठीक पहले जानें सेना में करियर के कौन-कौन से हैं रास्ते....

Indian Army Day 2024, Career in Indian Army: देश की आजादी से करीब दो साल बाद 15 जनवरी, 1949 को भारतीय सेना की कमान आखिरी ब्रिटिश कमांडर इन चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर ने भारतीय फील्ड मार्शल केएम करियप्पा को सौंपी थी. फील्ड मार्शल केएम करियप्पा आजाद भारत के पहले भारतीय सैन्य कमांडर बने. इसलिए 15 जनवरी को हर साल भारतीय सेना दिवस मनाया जाता है. आज 15 जनवरी को भारतीय सेना अपना 76वां सेना दिवस मना रही है. भारतीय सेना भारतीय पुरुष एवं महिला अभ्यर्थियों को करियर बनाने के बेहतरीन मौके देती है.

परीक्षाएं, जो बनायेंगी सेना में ऑफिसर

एनडीए एवं एनए एग्जाम : संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) वर्ष में दो बार नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए) एवं नेवल एकेडमी (एनए) एग्जामिनेशन आयोजित करता है. बारहवीं पास अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं. नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए) भारतीय सशस्त्र सेना की एक संयुक्त सेवा अकादमी है, जिसमें सेना के तीनों अंगों, थलसेना, नौसेना और वायु सेना के कैडेट को एक साथ प्रशिक्षित किया जाता है.

सीडीएस एग्जामिनेशन : कंबाइंड डिफेंस सर्विस एग्जामिनेशन (सीडीएसइ) का आयोजन भी यूपीएससी वर्ष में दो बार करती है. ग्रेजुएशन कर चुके या फाइनल ईयर की परीक्षा दे रहे अभ्यर्थी यह परीक्षा दे सकते हैं. सफल अभ्यर्थी इंडियन मिलिट्री एकेडमी/ एयरफोर्स एकेडमी एवं नेवल एकेडमी को परमानेंट कमीशन के तहत और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (ओडीए) को शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत ज्वाइन करते हैं.

शॉर्ट सर्विस कमीशन (टेक्निकल व नॉन टेक्निकल ) एंट्री : इस स्कीम के तहत इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट व अन्य विषयों के ग्रेजुएट अभ्यर्थी सेना में जा सकते हैं. एसएसबी एवं मेडिकल बोर्ड के बाद चयनित अभ्यर्थियों को कमीशन से पहले चेन्नई स्थित अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी में 49 सप्ताह के प्रशिक्षण के लिए भेजा जाता है. विस्तार से जानने के लिए भारतीय सेना की वेबसाइट https://joinindianarmy.nic.in/ देखें.

अग्निपथ योजना से बनें अग्निवीर

भारतीय सेना अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीर की भर्ती के लिए समय-समय पर अधिसूचना जारी करती है. इस योजना के तहत 17.5 वर्ष से 21 वर्ष की आयु के वर्ग के युवा 4 साल की अवधि के लिए सशस्त्र सेनाओं में भर्ती हो सकते हैं. इसके तहत आठवीं, दसवीं एवं बारहवीं पास अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं. इस जॉब के बारे में विस्तृत जानकारी इंडियन आर्मी की वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं.

चार चरण पार कर बनते हैं अग्निवीर

अग्निवीर के तौर पर सेना में जाने के लिए अभ्यर्थियों को सबसे पहले कॉमन एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा. इसके बाद फिजिकल एफिशिएंसी टेस्ट और मेडिकल टेस्ट लिया जायेगा. इन चरणों को पास करने वाले अभ्यर्थियों का चौथे चरण में डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होगा.

अग्निवीर क्लर्क व स्टोर कीपर के लिए अब होगा टाइपिंग टेस्ट

सेना में अग्निपथ स्कीम के तहत अग्निवीर क्लर्क और स्टोर कीपर कैटेगरी के पदों भर्ती के लिए अब अभ्यर्थियों को कॉमन एंट्रेंस एग्जाम (सीईई) के साथ टाइपिंग टेस्ट भी पास करना अनिवार्य होगा. यह नया नियम अग्निवीर बहाली सत्र 2024-25 से लागू होगा. भारतीय सेना ने इसे लेकर एक अधिसूचना जारी की है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें