बागबेड़ा : नागाडीह में अतिक्रमण हटाने पहुंची प्रशासन की टीम का विरोध, बैरंग लौटी

ग्रामीणों के हल्ला हंगामा व विरोध को कारण प्रशासन की टीम बिना कार्रवाई किये बेरंग लौटी.नागाडीह गांव में सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कर पोल्ट्री फॉर्म,छोटे-छोटे कई घर और दुकान बना लिये थे.

By Prabhat Khabar | April 23, 2024 11:10 PM

– भू-माफियाओं व गांव के लोगों ने तीन एकड़ सरकारी जमीन पर कर रखा है अवैध कब्जा

– सीओ के निर्देशानुसार लिखित आवेदन पर एक हफ्ते का समय, फिर चलेगा अभियान

फोटो : सुरजन सिंह

मुख्य संवाददाता, जमशेदपुर

बागबेड़ा थाना क्षेत्र नागाडीह ग्रामीण एरिया में करीब तीन एकड़ की जमीन पर अवैध कब्जा को मंगलवार को हटाने पहुंची प्रशासन की टीम का ग्रामीणों के कड़ा विरोध का सामना करना पड़ा. ग्रामीणों के हंगामा व विरोध के कारण प्रशासन की टीम बिना कार्रवाई किये लौट गयी.

नागाडीह गांव में सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कर पोल्ट्री फॉर्म, छोटे-छोटे कई घर और दुकान बना लिए गये हैं. मंगलवार को जमशेदपुर अंचल के सीओ मनोज कुमार के निर्देशानुसार प्रभारी अंचल निरीक्षक कौशलेंद्र बिंदिया पूरे दल बल के साथ नागाडीह सरकारी भूमि पर अतिक्रमण हटाने पहुंचे. जैसे ही जेसीबी द्वारा घेराबंदी को हटाना शुरू किया, तभी ग्रामीण जेसीबी पर चढ़कर हंगामा करने लगे. विरोध कर रहे लोगों का कहना था कि पिछले 10 से 15 वर्षों से वे यहां रह रहे हैं, बिना नोटिस दिये जिला प्रशासन जबरन घर तोड़ने पहुंचा है. इधर, सीओ के निर्देशानुसार लिखित आवेदन पर एक हफ्ते का समय दिया गया है. इसके पश्चात बल प्रयोग कर सरकारी भूमि पर बने घर को अतिक्रमण मुक्त कराया जायेगा.

—–

घाघीडीह फुटबॉल मैदान में भी सरकारी भूमि पर खड़े पिलर तोड़कर अतिक्रमण मुक्त कराया गया

मुख्य संवाददाता, जमशेदपुर

जिला प्रशासन की टीम ने मंगलवार को गोलपहाड़ी हनुमान मंदिर के पीछे घाघीडीह फुटबॉल मैदान में सरकारी भूमि पर खड़े पिलर को तोड़कर अतिक्रमण मुक्त कराया. यहां स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत कर्मचारियों ने सरकारी शौचालय पर कब्जा किया था, यहां अतिक्रमणकारियों और स्थानीय लोगों ने हंगामा किया, प्रशासन ने बलपूर्वक अतिक्रमण हटाया. जमशेदपुर अंचल प्रशासन के रिकॉर्ड के मुताबिक गोलपहाड़ी हनुमान मंदिर के पीछे के रहने वाले स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत सत्येंद्र सिंह ने सरकारी शौचालय को घेरकर कब्जा कर रखा था. मंगलवार को नये शौचालय निर्माण कार्य कर रहे थे, जिसकी सूचना अंचल कार्यालय एवं थाना की दी गयी. शिकायत मिलने के बाद प्रभारी अंचल निरीक्षक कौशलेंद्र बिंदिया व थाना की टीम पहुंची थी. नये बने शौचालय व नाली तोड़कर अतिक्रमण मुक्त कराया गया. साथ ही अंचल एवं थाना ने दोबारा अतिक्रमण करने पर करवाई कि चेतावनी दी.

Next Article

Exit mobile version