1. home Hindi News
  2. world
  3. donald trumps second impeachment live updates house set to vote on impeachment of trump over role in capitol assault avd

Trump Impeachment : अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पास, अब सीनेट में लाया जाएगा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Donald Trump Impeachment
Donald Trump Impeachment
twitter

Donald Trump Impeachment : डेमोक्रेटिक नियंत्रित अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के प्रस्ताव को बहुमत से पास कर दिया गया. ये दूसरा मौका है जब ट्रंप के कार्यकाल में उनके खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाया गया है. इस बार ट्रंप पर उनके समर्थकों द्वारा कैपिटोल पर किए गए हमले का आरोप है. इस घटना में 5 लोगों की मौत हो गई थी.

आपको बता दें कि अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में लाए गए प्रस्ताव में 197 के मुक़ाबले 232 वोटों से महाभियोग का प्रस्ताव पास किया गया. आश्चर्य की बात ये रही कि इस प्रस्ताव के समर्थन में 10 रिपब्लिकन सांसदों ने भी वोट डाला. अब सीनेट में राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ 19 जनवरी को महाभियोग प्रस्ताव लाया जाएगा.

दरअसल इस महाभियोग प्रस्ताव में निर्वतमान राष्ट्रपति पर अपने कदमों के जरिए छह जनवरी को राजद्रोह के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है. इसमें कहा गया है कि ट्रंप ने अपने समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग (संसद परिसर) की घेराबंदी के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी और लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई.

इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई. इससे पहले प्रतिनिधि सभा की न्यायिक समिति के अध्यक्ष जेरोल्ड नैडलर ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के लिए 50 पन्नों की एक रिपोर्ट जारी की, जिसमें महाभियोग चलाने के लिए मजबूत आधार पेश किए गए हैं.

मालूम हो 215 डेमोक्रेट्स सांसद और 5 रिपब्लिकन सांसदों ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का समर्थन किया है. महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत है.

ट्रंप के खिलाफ पहले भी लाया गया था महाभियोग

मालूम हो इससे पहले प्रतिनिधि सभा ने 18 दिसंबर, 2019 में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के आरोप को पारित किया था, लेकिन रिपब्लिकन पार्टी के नियंत्रण वाले सीनेट ने फरवरी 2020 में उन्हें आरोपों से बरी कर दिया था. उस दौरान आरोप लगाए गए थे कि ट्रंप ने यूक्रेन के राष्ट्रपति पर दबाव डाला कि वे बाइडन और उनके बेटे के खिलाफ भ्रष्टाचार के दावों की जांच करवाए.

इधर खबर है कि अमेरिकी संसद भवन पर हमले के बाद न्यूयॉर्क शहर निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ कारोबारी समझौते समाप्त करेगा. यह घोषणा शहर के मेयर बिल डे ब्लासियो ने की. उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क शहर ट्रंप ऑर्गेनाइजेशन के साथ सभी कारोबारी समझौते समाप्त कर रहा है. ट्रंप ऑर्गेनाइजेशन के पास शहर की कई परियोजनाओं से जुड़े करार थे.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें