विमान हादसा:खराब मौसम से मलबे की खोज फिर रुकी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बैंकॉक/पर्थ:थाईलैंड के एक उपग्रह ने दक्षिणी हिंद महासागर में सैकड़ों बहती हुई वस्तुओं का पता लगाया है जिनके दुर्घटनाग्रस्त हुए मलयेशियाई विमान का मलबा होने की आशंका जतायी गयी है. दूसरी ओर खराब मौसम के कारण मलबे की खोज के लिए चलाये जा रहे हवाई अभियान को रोकना पड़ा है. ‘थाईकॉट’ उपग्रह ने बीते 24 मार्च को 300 बहती हुई वस्तुओं की तसवीरें लीं. थाईलैंड की ‘जियो इनफॉर्मेटिक्स एंड स्पेस टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट एजेंसी’ के कार्यकारी निदेशक आनंद शिदवोंग्स ने यह जानकारी दी.

दो मीटर से लंबी वस्तुएं
जहां ये वस्तुएं देखी गयी हैं वे ऑस्ट्रेलियाई शहर पर्थ से करीब 2,700 किलोमीटर तथा अंतरराष्ट्रीय तलाशी क्षेत्र से करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर है. कुछ वस्तुएं दो मीटर से अधिक लंबी थीं. इससे पहले फ्रांस के एक उपग्रह ने 122 वस्तुओं की तसवीरें कैद की थी. थाई एजेंसी ने कहा कि उसे पूरा भरोसा है कि तसवीरों में बहती वस्तुएं दिखायी दे रही हैं, हालांकि उसने कहा कि इसके बारे में विस्तृत जानकारी अभी नहीं दी जा सकती, क्योंकि तसवीरों का रिजोल्यूशन कम है.

ऑस्ट्रलिया कर रहा नेतृत्व
दुर्घटनाग्रस्त मलयेशियाई विमान के मलबे की खोज के लिए ऑस्ट्रेलिया के नेतृत्व में विमानों के जरिये चलाया जा रहा तलाशी अभियान गुरुवार को तूफान के कारण स्थगित करना पड़ा. पोत तलाशी के काम को जारी रखेंगे. ऑस्ट्रेलियाई समुद्री सुरक्षा प्राधिकरण (एएमएसए) ने कहा कि खराब मौसम अगले 24 घंटे तक रहने की संभावना है. छह सैन्य विमान, पांच नागरिक विमान और पांच जहाज दक्षिणी हिंद महासागर में मलबे की तलाश कर रहे हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें