1. home Hindi News
  2. top stories
  3. prisoners are making masks to deal with shortages also directed to screen prisoners

कोरोना वायरस : कमी से निपटने के लिए कैदी बना रहे मास्क ,कैदियों की स्क्रीनिंग किए जाने का भी निर्देश

By Mohan Singh
Updated Date
गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा
गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा
pic Source - twitter

मुंबई : महाराष्ट्र में कोरोना वायरस प्रकोप के कारण मास्क की कमी को पूरा करने के लिए राज्य की जेलों में मास्क का उत्पादन किया जा रहा है. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा कि महामारी के दौरान मास्क की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए राज्य की जेलों में कैदियों ने इसका उत्पादन शुरू किया है.

मंत्री ने कहा कि जेल प्रशासन ने उनके सुझाव को स्वीकार किया और उत्पादन शुरू कर दिया. देशमुख ने बताया कि इनमें से कुछ मास्क कैदी और जेल अधिकारी इस्तेमाल कर रहे हैं जबकि बाकी आपूर्तिकर्ताओं को बेचे जा रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि कैदियों को इस काम का भुगतान भी किया जा रहा है.

इस बीच, गृह मंत्री ने महामारी के मद्देनजर जेल प्रशासन को सभी नए कैदियों की स्क्रीनिंग किए जाने का भी निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि कैदियों की स्वास्थ्य जांच के साथ ही भीड़ से बचने के लिए कुछ कैदियों को दूसरी जेलों में स्थानांतरित किया जाएगा.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखकर सीएम उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में कहा अगर लोग यात्रा करने से परहेज नहीं करेंगे तो सरकार बस और ट्रेन सेवाओं को बंद करने का फैसला ले सकती है. इसके साथ ही उन्होंने लोगों से गैर जरूरी यात्रा व एक जगह जमा न होने की अपील की.

बता दें, महाराष्ट्र में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 42 पहुंच गयी है जो कि देश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है इसके साथ ही देश में कोरोना से पॉजेटिव केसों की संख्या 148 पहुंच गयी है. 148 में से 14 ठीक हो चुके हैं, 3 की मौत हो गयी है

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें