1. home Hindi News
  2. top stories
  3. delhi violence 436 cases registered 1427 people arrested detained

Delhi Violence : अब तक 436 FIR दर्ज, 1427 लोग गिरफ्तार या लिए गये हिरासत में

By ArbindKumar Mishra
Updated Date
-

नयी दिल्‍ली : संशोधित नागरिकता कानून को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा मामले में अब तक 436 मामले दर्ज किये गये हैं और 1427 लोगों को गिरफ्तार किया गया है या हिरासत में रखा गया है.

दिल्‍ली हिंसा मामले को लेकर मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की और उनसे हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्व दिल्ली की स्थिति पर चर्चा की.

केजरीवाल ने मोदी से हिंसा के लिये जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया चाहे वे किसी भी दल के हों. केजरीवाल ने संसद भवन स्थित प्रधानमंत्री कार्यालय में मोदी से मुलाकात की जो करीब आधे घंटे चली. बैठक के बाद केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली पुलिस ने अफवाहों पर लगाम लगाने में तत्परता से काम किया है और रविवार को स्थिति को नियंत्रित करने में काफी सक्रिय रही.

दूसरी ओर हिंसा प्रभावित इलाकों में मंगलवार को अर्धसैनिक बलों ने फ्लैग मार्च किया. साथ ही नुकसान का आकलन करने वाले दलों ने भी इन इलाकों में हुए नुकसान की समीक्षा की. इलाकों में हालात सामान्य, लेकिन तनावपूर्ण हैं.

दंगा प्रभावित इलाकों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं और मदद पहुंचाने का काम तेज कर दिया गया है. लोग अपने वाहनों पर दंगा पीड़ितों के लिए राशन का सामान और दूध के डिब्बे ले जा रहे हैं.

हालांकि कई पीड़ितों ने शिकायत की है कि उन्हें सरकार की ओर से कोई चिकित्सा या कानूनी मदद नहीं मिल रही है. शिव विहार में हिंसा के शिकार हुए सैकड़ों लोगों को चमन पार्क में आश्रय गृह में रखा गया है. शिव विहार उन इलाकों में शामिल हैं, जो दंगों से सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं.

पीड़ितों ने दावा किया कि उन्हें केन्द्र या दिल्ली सरकार की ओर से कोई मदद नहीं मिली है. कुछ वकीलों द्वारा लगाई गईं हेल्पडेस्क पर कई लोग शिव विहार में अपने घरों को देखने के लिए मदद मांगने आये हैं. हिंसा का कारोबार पर बुरा असर पड़ा है. कई दुकानें अब भी बंद हैं. एक दुकानदार ने कहा, कुछ दुकानें ही खुली हैं, जिनमें अधिकतर किराने की दुकानें हैं. बड़े शोरूम अब भी बंद हैं कि क्योंकि उनके मालिक कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाहते.

अधिकारियों ने बताया कि इलाके में हालात शांतिपूर्ण हैं और हिंसा की कोई नयी घटना सामने नहीं आयी है. इस बीच, पुलिस ने कथित रूप से हिंसा की अफवाहें उड़ाने को लेकर पूरी दिल्ली से 40 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनकी वजह से रविवार रात शहर में दहशत फैल गई थी. पुलिस फ्लैग मार्च करने के अलवा जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, चांद बाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार और मुस्तफाबाद में स्थानीय लोगों से मुलाकात कर रही है. इन इलाकों में सीएए को लेकर भड़की सांप्रदायिक हिंसा का सबसे बुरा असर पड़ा है. इन इलाकों में सात मार्च तक स्कूल बंद रहेंगे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें