1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. new year rule change news in hindi these norms are changing from new year fastag toll plaza driving licence registration certificate vehicle documents car price hike rjv

New Year Rule Change: आज से बदल गये ऑटो सेक्टर से जुड़े ये नियम, जानना है जरूरी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
new year rule changes in auto sector
new year rule changes in auto sector
maruti suzuki

New Year Rule Change, FASTag, Car Price Hike: आज से नया साल शुरू हो चुका है. ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री से जुड़े कई नियम आज से बदल गए हैं, जिन्हें जान लेना आपके लिए बहुत जरूरी है. आइए जानें-

कार और टूव्हीलर हो गए महंगे

1 जनवरी 2021 से भारत में कार खरीदना महंगा हो गया है. अब आपको कार खरीदने के लिए पहले से ज्यादा कीमत चुकानी होगी. ऑटोमोबाइल कंपनिया नये साल में अपने कई मॉडल के दाम 5 फीसदी तक बढ़ाने जा रही हैं. ऐसे में कार खरीदना अब आपके लिए महंगा हो जाएगा. जो ऑटोमोबाइल कंपनियां अपने वाहनों की कीमत बढ़ाने जा रही हैं उनमें मारुति सुजुकी इंडिया, निसान, रेनॉ इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्री, इसूजू, ऑडी इंडिया, फॉक्सवैगन, फोर्ड इंडिया और बीएमडब्लयू इंडिया शामिल हैं. वहीं, टूव्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प के बाइक-स्कूटर भी 1 जनवरी से महंगे हो गए हैं.

वाहन के डॉक्यूमेंट की वैधता बढ़ी

अगर आपके ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी और फिटनेस प्रमाणपत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों की वैधता नये साल पर खत्म होने वाली है, तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. सरकार ने इनकी वैधता बढ़ा दी है. 31 दिसंबर को वाहन संबंधित कागजों को बढ़ाने की वैधता खत्म हो रही थी, जिसमें एक बार फिर लोगों को राहत दी गई है. अब अगर आपका वाहन के कोई भी कागजात की वैधता 1 फरवरी 2020 से समाप्त हो गई है और आप इसे रिन्यू नहीं करा पाएं हैं, तो परेशानी की कोई बात नहीं है, इन्हें अब 31 मार्च तक मान्य माना जाएगा.

फास्टैग की डेडलाइन भी आगे बढ़ी

अगर आपने अभी तक अपने चार पहिया वाहन पर फास्टैग नहीं लगवाया, तो चिंता की कोई बात नहीं. सरकार ने इसके लिए फास्टैग की अंतिम तारीख डेढ़ महीने बढ़ाकर 15 फरवरी कर दी है. पहले एक जनवरी 2021 डेडलाइन थी. नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के मुताबिक, टोल ट्रांजैक्शन में फास्टैग की हिस्सेदारी फिलहाल लगभग 75%-80% है. ऐसे में सरकार यह आंकड़ा 100% करना चाहती है. एक्सपर्ट भी मानते हैं कि टोल प्लाजा पर लंबी कतार से बचने के लिए लोग भी फास्टैग से भुगतान करना चाहते हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें