1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. west bengal elephant entered abinashpur village birbhum district killed forest worker amh

बीरभूम: जंगली हाथी ने वन कर्मी को उठाकर पटका, हुई मौत, रात भर मशाल लेकर दौड़ते रहे ग्रामीण

बताया जा रहा है कि जंगली हाथी ने आक्रोशित होकर वन विभाग के एक कर्मी खोकन प्रसाद दे को उठाकर पटक दिया. वन विभाग के कर्मी को तत्काल सिउडी सदर अस्पताल में भर्ती किया गया है. जहां उनकी मौत हो गयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
West Bengal News
West Bengal News
Prabhat khabar

बीरभूम/पानागढ़ : पश्‍चिम बंगाल के बांकुड़ा जिले से दामोदर नदी पार कर कांकसा राजबांध होते हुए बीरभूम जिले के इलम बाजार पंचायत समिति अंतर्गत पाडुई थाना के अविनाशपुर ग्राम में जंगली हाथी के तांडव से स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल है. हाथी के पीछे भाग रहे ग्रामीणों को हटाने की कोशिश के दौरान जंगली हाथी ने एक वन कर्मी को पटक कर उसको जान से मार दिया.

जंगली हाथी ने खोकन प्रसाद को उठाकर पटक दिया

बताया जा रहा है कि जंगली हाथी ने आक्रोशित होकर वन विभाग के एक कर्मी खोकन प्रसाद दे को उठाकर पटक दिया. वन विभाग के कर्मी को तत्काल सिउडी सदर अस्पताल में भर्ती किया गया है. जहां उनकी मौत हो गयी. इस घटना के बाद से वन विभाग के कर्मियों ने हाथी को बेहोशी का इंजेक्शन देकर उसे क्रेन के माध्यम से उठाकर बांकुड़ा जिले में शिफ्ट कर दिया है. बताया जा रहा है कि 2 दिन पूर्व ही बांकुड़ा से अपने दल से बिछड़ कर एक जंगली हाथी दामोदर नदी पार कर कांकसा राजबांध होते हुए गोपालपुर के माध्यम से अजय नदी पार कर पश्‍चिम बंगाल के बीरभूम जिले में प्रवेश कर गया था. अजय नदी के किनारे अवस्थित पाडुई में उक्त जंगली हाथी ने जमकर तांडव मचा रखा था. जंगली हाथी को काबू में करने के लिए वन विभाग तथा हल्ला पार्टी रात दिन लगे हुए थे.

मशाल लेकर दौड़ते रहे ग्रामीण

इस बीच दहशत में ग्रामीण हाथी के पीछे रात भर मशाल लेकर दौड़ते रहे. फसलों तथा मकानों के क्षतिग्रस्त होने की भी कई सूचनाएं मिल रही है .फसलों का अत्यधिक नुकसान ना हो इसके लिए ग्रामीण रात भर जाग कर अपने खेतों की रखवाली करते रहे. सुबह वन विभाग के कर्मी जब हाथी को खदेड़ने के लिए पीछे दौड़ रहे ग्रामीणों को हटाने की कोशिश की तभी इस दौरान आक्रोशित हाथी ने मुड़कर एक वन विभाग के एक कर्मी को पटक दिया. गंभीर हालत में वन विभाग के कर्मी को सिउडी सदर अस्पताल में भर्ती किया गया है. जहां वन विभाग के कर्मी की मौत हो गयी.

हाथी को इंजेक्शन देकर किया गया बेहोश

हाथी को वन विभाग की ओर से इंजेक्शन देकर बेहोश किया गया. क्रेन के माध्यम से बेहोश हाथी को उद्धार कर उसे बांकुड़ा के जंगल में शिफ्ट किया गया है. वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि उक्त जंगली हाथी को पुनः बांकुड़ा में स्वास्थ्य जांच के बाद शिफ्ट कर दिया गया. दूसरी ओर बांकुड़ा से ही दो और जंगली हाथी दामोदर नदी पार कर पूर्व बर्दवान जिले के गलसी होते हुए जिले के आउसग्राम इलाके में प्रवेश कर गए हैं. उक्त दो जंगली हाथी भी इलाके में तांडव मचा रहे हैं .वन विभाग के कर्मी इन दोनों हाथियों को भी खदेड़ने के काम में लगे हुए है.फिलहाल दोनों हाथी आउसग्राम के जंगल में ही छिपे हुए हैं.

वन कर्मी के पैर और छाती में गंभीर चोट

बीरभूम जिले के पाडुई के अविनासपुर ग्राम में जंगली हाथी के हमले में पुरंदरपुर बिट ऑफिस का वन कर्मी खोकन प्रसाद दे की अस्पताल में मौत हो गयी. खोकन जिले के सैंथिया नगर पालिका के 15 नम्बर वार्ड के नेताजी पल्ली का रहने वाला था. हाथी के हमले के बाद वन कर्मी के पैर और छाती में गंभीर चोटें आने पर उसे सिउडी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल ले जाया गया था. अस्पताल में इलाज के दौरान वनकर्मी की मौत हो गई. हाथी को बेहोश कर क्रेन के माध्यम से उद्धार कर वाहन पर सवार कर सड़क मार्ग से बांकुड़ा के जंगल मे ले जाया गया है.

रिपोर्ट : मुकेश तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें