1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. west bengal election 2021 phase 3 8 seats out of 31 declared red alert constituency by election commission adr report reveals mtj

West Bengal Election 2021 Phase 3: तीसरे चरण में 26 फीसदी सीटों को आयोग ने घोषित किया रेड अलर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
West Bengal Election 2021 Phase 3
West Bengal Election 2021 Phase 3
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के तीसरे चरण की वोटिंग मंगलवार (6 अप्रैल 2021) को है. इस फेज में हावड़ा, हुगली और दक्षिण 24 परगना की 31 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होनी है. इनमें सबसे ज्यादा 16 सीटें दक्षिण 24 परगना की है. हावड़ा की 7 और हुगली की 8 विधानसभा सीटों पर करीब 78 लाख वोटर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.

तीसरे चरण के चुनाव में निर्वाचन आयोग ने 8 विधानसभा सीटों को रेड अलर्ड विधानसभा क्षेत्र घोषित किया है. इनमें 4 सीट दक्षिण 24 परगना की है, तो हावड़ा और हुगली जिला की 2-2 सीटें भी शामिल हैं. रेड अलर्ट विधानसभा उस विधानसभा को कहते हैं, जिस सीट पर कम से कम 3 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ 3 या उससे अधिक गंभीर आपराधिक मामले घोषित किये हों.

दक्षिण 24 परगना की रायदीघी, बारुईपुर पूर्व (एससी), फलता और कुलतली (एससी) विधानसभा सीट को रेड अलर्ट विधानसभा घोषित किया गया है. इन 4 सीटों में से 3 पर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. रायदीघी में माकपा और एसयूसीआइ (सी) के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, तो बारुईपुर पूर्व (एससी) सीट से माकपा और एक निर्दलीय उम्मीदवार ने अपने ऊपर तीन गंभीर आपराधिक मामलों की जानकारी दी है.

फलता विधानसभा सीट को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, अखिल भारत हिंदू महासभा के उम्मीदवारों की वजह से रेड अलर्ट विधानसभा की श्रेणी में रखा गया है. वहीं, कुलतली विधानसभा सीट भाजपा, निर्दलीय और एसयूसीआइ (सी) के उम्मीदवारों की वजह से रेड अलर्ट विधानसभा क्षेत्र घोषित किया गया है.

हावड़ा जिला की दो सीटों उलुबेड़िया उत्तर (एससी) और बागनान को भी रेड अलर्ट विधानसभा क्षेत्र माना गया है. उलुबेड़िया उत्तर (एससी) में तृणमूल कांग्रेस, भाजपा और माकपा के दागी उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि बागनान में तृणमूल, भाजपा और निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले की जानकारी चुनाव आयोग को दी है.

हुगली जिला की जंगीपाड़ा और पुरसुरा विधानसभा सीटों को भी रेड अलर्ट विधानसभा की श्रेणी में रखा गया है. इन दोनों विधानसभा सीटों पर तृणमूल और भाजपा के उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. जंगीपाड़ा में राष्ट्रीय सेक्युलर मजलिस पार्टी (फुरफुरा शरीफ के पीरजादा अब्बास सिद्दीकी की पार्टी इसी पार्टी के चुनाव चिह्न पर बंगाल में चुनाव लड़ रही है) के उम्मीदवार और पुरसुरा में निर्दलीय उम्मीदवार की वजह से इस सीट को रेड अलर्ट जोन में रखा गया है.

सबसे ज्यादा 10 उम्मीदवार फलता में

रेड अलर्ट घोषित किये गये विधानसभा क्षेत्रों में रायदीघी, बारुईपुर पूर्व (एससी), उलुबेड़िया उत्तर (एससी), बागनान और जंगीपाड़ा में 7-7 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. सबसे कम 4 उम्मीदवार हुगली जिला के पुरसुरा में हैं. सबसे ज्यादा 10 उम्मीदवार दक्षिण 24 परगना के फलता विधानसभा क्षेत्र में चुनाव लड़ रहे हैं.

रेड अलर्ट विधानसभा किसे कहते हैं

रेड अलर्ट विधानसभा उन विधानसभा क्षेत्रों को घोषित किया जाता है, जहां चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों में कम से कम 3 के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले चल रहे हों.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें