1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. west bengal chief secretary alapan bandyopadhyay meets cm mamata banerjee in nabanna cm denied to release him abk

आलापन बंद्योपाध्याय के मुद्दे पर केंद्र और ममता बनर्जी में बढ़ी तकरार, मुख्यमंत्री से मिलने नबान्न पहुंचे मुख्य सचिव

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
आलापन बंदोपाध्याय के मुद्दे पर केंद्र और ममता बनर्जी में बढ़ी तकरार
आलापन बंदोपाध्याय के मुद्दे पर केंद्र और ममता बनर्जी में बढ़ी तकरार
सोशल मीडिया

पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय के मुद्दे पर ममता बनर्जी और केंद्र सरकार के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. इसी बीच सोमवार को मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात करने नबान्न पहुंचे. सुबह 11 बजे के करीब मुख्य सचिव कार से नबान्न पहुंचे. सोमवार को ही केंद्र सरकार ने आलापन बंद्योपाध्याय को दिल्ली में रिपोर्ट करने के निर्देश दिए गए थे. इसके बावजूद आलापन बंद्योपाध्याय ने दिल्ली में रिपोर्ट नहीं किया और सचिवालय पहुंच गए.

मुख्यमंत्री की मीटिंग में पहुंचे आलापन 

दरअसल, पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय को सोमवार को दिल्ली में सुबह दस बजे नॉर्थ ब्लॉक स्थित स्टाफ और ट्रेनिंग ऑफिस में रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए थे. माना जा रहा था कि वो दिल्ली में जाकर रिपोर्ट करेंगे. इसी बीच सोमवार की सुबह मुख्य सचिव को नबान्न पहुंचते देखा गया. बताया जाता है कि यास चक्रवात के बाद पैदा हुए हालात और आपदा प्रबंधन को लेकर सीएम ममता बनर्जी मीटिंग करने वाली हैं. इसी मीटिंग में शामिल होने के लिए आलापन बंद्योपाध्याय भी पहुंचे थे. इसके पहले सीएम ममता बनर्जी भी आलापन बंद्योपाध्याय के दिल्ली तबादला करने के फैसले को वापस लेने की मांग केंद्र की मोदी सरकार से कर चुकी हैं.

इस कारण दिल्ली तलब हुए आलापन

पिछले दिनों यास चक्रवात के बाद पैदा हुए हालात का जायजा लेने पीएम नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल और ओड़िशा के दौरे पर आए थे. कलाईकुंडा में पीएम मोदी ने यास चक्रवात को लेकर समीक्षा बैठक की थी. इसमें ना तो मुख्यमंत्री शामिल हुईं और ना ही मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय ही गए. इसके बाद केंद्र सरकार ने आलापन बंद्योपाध्याय को दिल्ली रिपोर्ट करने का आदेश दिया. इस मुद्दे पर ममता बनर्जी और केंद्र सरकार के बीच तनातनी भी देखी गई. वहीं, ममता बनर्जी ने कोलकाता में प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्र पर अपमानित करने का आरोप लगाया था.

मुख्य सचिव को रिलीज करने से इंकार

बंगाल के मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय ने अक्टूबर 2020 में कार्यभार संभाला था. वो सोमवार (31 मई) को रिटायर होने वाले थे. राज्य सरकार के आग्रह पर उन्हें चार महीने का एक्सटेंशन मिला था. इसी बीच यास चक्रवात के बाद पीएम मोदी ने बैठक की और उसमें ममता बनर्जी पर पीएम को 30 मिनट इंतजार कराने का आरोप लगा. जबकि, वो और मुख्य सचिव भी बैठक में शामिल नहीं हुए. इसके बाद केंद्र सरकार ने आलापन बंद्योपाध्याय को दिल्ली तलब कर लिया. सीएम ममता बनर्जी ने आलापन बंद्योपाध्याय को रिलीज करने से भी इंकार कर दिया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें